Report Times
Otherचिड़ावाझुंझुनूंटॉप न्यूज़ताजा खबरेंधर्म-कर्मप्रदेशराजस्थानलेखस्पेशल

चिड़ावा : जोशियों की बगीची में कुएं पर बना है प्राचीन शिवालय

शिवनगरी के शिवालयों की श्रृंखला में आज हम पहुंचे हैं प्राचीन जोशियों की बगीची में।

Advertisement

पूरी स्टोरी देखें वीडियो में तस्वीर पर नजर आ रहे लाल बटन को दबाकर-

Advertisement

https://youtu.be/l8hkzr9vGok

Advertisement

यहां विक्रमी संवत 1923 में चार मरुआ कुएं पर शिवालय और बगीची में हनुमान मंदिर की स्थापना हुई। जोशी परिवार द्वारा स्थापित इस शिवालय में पूरा शिव परिवार विराजा है। शिवालय के ऊपर एक विशाल आकर्षक गुम्बद बना है। ये गुम्बद स्थापत्य कला का बेजोड़ नमूना है। वहीं कुआं फिलहाल काम नहीं आ रहा। लेकिन चार मरुआ कुआं एक समय पूरे मोहल्ले सहित काफी परिवारों की प्यास बुझाता था। अब आपको शिवालय से नीचे उतरकर ले चलते हैं बगीची में जिसमें ऊंचाई पर बना है हनुमान मंदिर। इस मंदिर की विशेषता ये है कि यहां हनुमानजी की मूर्ति अन्य मूर्तियों से काफी अलग है। इस मूर्ति में हनुमानजी के दोनों कंधों पर श्रीराम और लक्ष्मण विराजे हुए हैं। हनुमानजी के चरणों के नीचे एक राक्षस भी दबा हुआ है। यहां पितरों का मंदिर भी बना है। एक कीर्ति स्तम्भ भी इस मंदिर की गौरव गाथा बखान करता नजर आता है। वहीं बगीची के बाहर प्राचीन पीपल और पिपली लगे हुए हैं। ये अद्भुत संयोग बहुत कम नजर आता है। सौ साल पहले इस पीपल-पिपली का विवाह करवाया गया। पीपल के पास ही बड़ का पेड़ भी लगा है। आस्था के इस धर्म स्थल पर एक बार जरूर आएं और भगवान आशुतोष और रुद्रावतार हनुमान के दर्शन का लाभ लें। अब दीजिए हमें इजाजत.. कल फिर मिलेंगे एक और शिवालय में। हर हर महादेव

Advertisement
Advertisement

Related posts

रमजान विशेष:रमजान उल मुबारक महीने के दूसरे जुमे की नमाज अदा कर मांगी दुआएं

Report Times

जयपुर : 118 एसआई बने सीआई

Report Times

विवेकानंद चौक में तीन दिवसीय दीप महोत्सव 22 से

Report Times

Leave a Comment