Report Times
Otherकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशभोपालमध्यप्रदेश

पुलिस ने साइबर अपराध गिरोह का किया पर्दाफाश

मध्य प्रदेश में साइबर क्राइम के मामले लगातर सामने आ रहे हैं. पिछले दो महीनों में शहरों में साइबर क्राइम के 600 से अधिक मामले सामने आए हैं. इसमें चौंकाने वाली बात यह है कि ग्रामीण क्षेत्रों के लोग तो इस तरह के मामले रेट्ज भी नहीं करवाते है. मध्य प्रदेश में वर्ष 2021 में साइबर क्राइम के कुल 3600 मामले रेट्ज हुए थे. इस वर्ष 2 महीने में ही यह आंकड़ा 600 के पार पहुंच गया है

Advertisement

 

Advertisement

दरअसल पिछले वर्ष जो मामले रेट्ज हुए थे, इसमें साइबर क्राइम, सेक्सटॉर्शन, सोशल मीडिया पर मॉर्फ्ड तस्वीरें शेयर करना, अश्लील टिप्पणियां और फर्जी सोशल मीडिया एकाउंट शामिल हैं. लेकिन पिछले 2 महीनों के दौरान ऐसे मामलों में लगभग 7 फीसदी की वृद्धि हुई है.

Advertisement

 

Advertisement

वहीं इस वर्ष बढ़त का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 2022 के पहले 2 महीनों में ही संख्या बढ़कर 32 फीसदी हो गई है. और 3 फीसदी मामले भिन्न-भिन्न क्षेत्रों के हैं. सबसे ज्यादा मामले वित्तीय छलधड़ी से संबंधित हैं.

Advertisement

उधर एमपी पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने जानकारी देते हुए कहा कि यह सिर्फ आधिकारिक पुलिस डेटा है जिसमें पीड़ितों ने पुलिस से सम्पर्क करने का साहस दिखाया है. उन्होंने आगे कहा कि कई मामलों में वित्तीय छलधड़ी की राशि कम होती है, रिपोर्ट भी नहीं की जाती है. ऐसे में प्रदेश की असली स्थिति बहुत गंभीर है.

Advertisement

 

Advertisement

उन्होंने कहा कि इस वर्ष पहले 2 महीनों में पुलिस ने कहा कि साइबर अपराध गिरोह का पर्दाफाश करके कुल 15 औनलाइन छलधड़ी के मामलों को सुलझा लिया है. उन्होंने दावा किया है कि जालसाजों के बैंक खातों में लगभग 20 लाख रुपये जमा हुए जिसे पीड़ितों को वापस किया जाएगा.

Advertisement

साइबर अपराध शाखा के एसीपी अक्षय चौधरी ने कहा कि जनवरी में 320 क्राइमों की कम्पलेनें मिली थीं जबकि फरवरी में ऐसी 300 कम्पलेनें मिली थीं. इन महीनों के दौरान लगभग 200 कम्पलेनों का निपटारा किया गया या उनका निवारण किया गया.

Advertisement
Advertisement

Related posts

संत बद्रीदास की पुण्य;भगिनिया जोहड़ के बालाजी मंदिर परिसर में होगा भंडारा, पूरे शहर के लोगों को निमंत्रण

Report Times

संघ के इतिहास में पहली बार दशहरा उत्सव पर कोई महिला होगी मुख्य अतिथि, संतोष यादव को भेजा निमंत्रण

Report Times

हत्या, छेडछाड़ और दंगे, जानिए कर्नाटक CM सिद्धारमैया के मंत्रियों का क्रिमिनल रिकॉर्ड

Report Times

Leave a Comment