Report Times
latestOtherकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारटॉप न्यूज़ताजा खबरेंनागौरराजनीतिराजस्थानस्पेशल

खींवसर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रहे रेवंतराम डांगा को मिली फोन पर धमकी

REPORT TIMES 

Advertisement

नागौर जिले के खींवसर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रहे रेवंतराम डांगा को मोबाइल पर धमकी देने का मामला सामने आया है. जिस व्यक्ति ने धमकी दी, उसने डांगा को अपशब्द भी बोले हैं. इस घटना का एक ऑडियो भी वायरल हो रहा है. इसके बाद इस मामले में रेवंतराम डांगा के पुत्र ने नागौर साइबर थाने में मामला दर्ज कराया है, जिस पर पुलिस ने ऑडियो वायरल करने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि धमकी देने वाले व्यक्ति की तलाश की जा रही है. यह मामला 3-4 दिन पुराना बताया जा रहा है. शिकायत की मुताबिक, एक ट्रक ड्राइवर ने रेवंतराम डांगा को फोन किया, जिसमें कहा गया कि वह बालोतरा से जोधपुर की ओर जा रहा था. इस दौरान ट्रक को ओवरलोड बताकर परिवहन विभाग के अधिकारी जुर्माना भरने की बात कह रहे हैं. इस पर डांगा ने ट्रक ड्राइवर को संबंधित अफसर से बात करवाने के लिए कहा, तो मोबाइल पर बोलने वाले व्यक्ति ने रेवंतराम डांगा को अपशब्द कहे और उनके साथ फोन पर ही अभद्रता की. व्यक्ति ने खुद को खींवसर का ही रहना वाला बताते हुए दोबारा वोट मांगने के लिए नहीं आने की भी चेतावनी दी.

Advertisement

Advertisement

ऑडियो वायरल करने वाला गिरफ्तार 

Advertisement

गत दिनों इस बातचीत का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. इसके बाद रेवंतराम डांगा के पुत्र ने नागौर साइबर थाने में मामला दर्ज कराया. इस पर साइबर थाना के सीओ उम्मेद सिंह ने जांच शुरू की ओर ऑडियो वायरल करने वाले व्यक्ति लिखमाराम को गिरफ्तार कर लिया. यह व्यक्ति खींवसर के डेहरू गांव का रहने वाला है. अब पुलिस रेवंतराम डांगा को धमकाने वाले और उसके साथियों की तलाश कर रही है.

Advertisement

डांगा को हनुमान बेनीवाल ने 2 हजार मतों से हराया था 

Advertisement

मालूम हो कि, रेवंतराम डांगा को भाजपा ने खींवसर से आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल सामने अपना प्रत्याशी बनाया था. रेवंतराम डांगा ने हनुमान बेनीवाल को चुनाव में कड़ी चुनौती दी थी. हालांकि मात्र 2000 मतों के अंतर से हनुमान बेनीवाल से चुनाव हार गए. रेवंतराम डांगा विधानसभा चुनाव से पहले तक हनुमान बेनीवाल के खास कार्यकर्ता थे और उनकी पत्नी गीता डांगा मुंडवा की प्रधान है. चुनाव से ठीक पहले रेवंतराम डांगा ने हनुमान बेनीवाल का साथ छोड़ दिया और भाजपा में शामिल हो गए. इसके बाद भाजपा ने उन्हें खींवसर से प्रत्याशी बनाया था.

Advertisement
Advertisement

Related posts

‘कांग्रेस को नसीहत देना बंद करें’, संजय निरुपम ने संजय राउत को लगाई फटकार

Report Times

बहुजन समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मायावती ने अपना उत्तराधिकारी किया घोषित, भतीजे को सौंपी कुर्सी आकाश आनंद बने बसपा के मुखिया

Report Times

कन्हैयालाल के आरोपियों को पकड़ना नहीं चाहती थी गहलोत सरकार, NIA ने किया गिरफ्तार, उदयपुर की रैली में बोले अमित शाह

Report Times

Leave a Comment