Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

राजस्थान में ताबड़तोड़ ट्रांसफर, गहलोत राज के विवादित IAS अफसर अखिल अरोड़ा पर BJP सरकार मेहरबान क्यों?

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान में नई सरकार के अस्तित्व में आने के बाद लगातार प्रशासनिक फेरबदल किए जा रहे हैं, इसी क्रम में प्रदेश की भजनलाल शर्मा सरकार ने कल बुधवार शाम 40 भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अफसरों के तबादले कर दिए, लेकिन सबसे अहम और चौंकाने वाली बात यह रही कि पिछली सरकार में वित्त सचिव रहे सबसे विवादित आईएएस अफसर अखिल अरोड़ा को उनके पद पर बरकरार रखा गया है. अरोड़ा को फिर से वित्त बनाया गया है. सीनियर आईएएस अफसर अखिल अरोड़ा पर डिपार्टमेंट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (DOIT) में करीब 5 हजार करोड़ रुपए के घोटाले में शामिल होने के आरोप तक लगे हैं. उन पर DOIT घोटाला और DOIT की अलमारी में सोना और करोड़ों रुपए मिलने के कनेक्शन के भी आरोप हैं. प्रदेश में अशोक गहलोत की पिछली कांग्रेस सरकार में आरबीआई के नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए हर क्वार्टरली लिमिट को क्रॉस करते हुए कर्जा लिया गया.

Advertisement

Advertisement

गहलोत सरकार ने नहीं दिए थे जांच के आदेश

Advertisement

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) की ओर से लगातार चेतावनी वाले पत्रों को भी अखिल अरोड़ा ने दरकिनार करते हुए लिमिट से ज्यादा का कर्ज ले लिया. अरोड़ा के खिलाफ राजस्थान में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले 6 अक्टूबर 2023 को एसीबी ने DOIT में करीब सवा किलो सोना और करोड़ों की नकदी मिलने के मामले की जांच के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से अनुमति मांगी थी. हालांकि तब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एसीबी को इस जांच की अनुमति नहीं दी थी. विवादों से घिर रहने के बाद भी अखिल अरोड़ा को फिर से वित्त सचिव बनाया गया है.

Advertisement

भजन सरकार का फरवरी में पहला बजट

Advertisement

दूसरी ओर, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से जुड़े सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, बताया जा रहा है कि इस वक्त बीजेपी के पास कोई भी स्मार्ट फाइनेंस मैनेजमेंट वाला आईएएस अफसर नहीं है, इसी वजह से अखिल अरोड़ा को फिर से वित्त सचिव बनाया गया है. इससे पहले राज्य की बीजेपी सरकार ने पिछले हफ्ते शुक्रवार को भी भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के 72 और राजस्थान प्रशासनिक सेवा (RAS) के 121 अधिकारियों के तबादले किए थे. फरवरी में राज्य में सत्तारुढ़ हुई बीजेपी के लिए सबसे बड़ी चुनौती राजस्थान का बजट पेश करना है. माना जा रहा है कि इसी के चलते पिछली सरकार के तमाम वित्तीय मामलों के सबसे ज्यादा जानकार अखिल अरोड़ा को दोबारा से फाइनेंस सेक्रेटरी के पद पर रिपीट करना भाजपा के लिए बड़ी मजबूरी भी हो सकती है. वहीँ अखिल अरोड़ा ही अब राजस्थान का बजट तैयार करेंगे.

Advertisement
Advertisement

Related posts

कांग्रेस ने ठुकराया राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का न्योता, कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और मल्लिकार्जुन खरगे नहीं जाएंगे अयोध्या

Report Times

नौ कुण्डिय यज्ञ में दी आहुतियां : डालमिया की ढाणी में हुए आयोजन में गायत्री मंत्रों की गूंज

Report Times

 हरियाणा के CM मनोहर लाल का ऐलान, अग्निवीरों को हरियाणा सरकार में गारंटी के साथ मिलेगी नौकरी

Report Times

Leave a Comment