Report Times
Businessटॉप न्यूज़ताजा खबरें

Red Sea Crisis का जल्द निकलेगा हल, भारत की टेंशन होगी कम, यहां समझें कैसे मिलेगी राहत

Reporttimes.in

Advertisement

Red Sea Crisis: लाल सागर की समस्या अब हल होती दिख रही है. एएफपी के अनुसार, हैती नेताओं ने समस्या के समाधान के लिए ब्रिटिश काउंसिल के पास दस्तक की है. इस समस्या के समझान से प्रभावित ग्लोबल सप्लाई चेन को राहत मिलने की संभावना है. दूसरी तरफ, लाल सागर में तनाव के कारण भारत में माल ढुलाई का खर्च 600 गुना तक बढ़ गया है. इसका सीधा असर, कच्चे तेल की कीमतों से लेकर कई जरूरी सामनों पर दिखने लगा. एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले वित्त वर्ष में देश के निर्यात का 50 प्रतिशत और आयात का 30 प्रतिशत इस मार्ग से हुआ है. क्रिसिल रेटिंग्स ने लाल सागर संकट के कारण देश में विभिन्न व्यापार खंडों पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर एक रिपोर्ट तैयार की है. लाल सागर व्यापारिक मार्ग में संकट तब शुरू हुआ जब यमन स्थित हुती विद्रोहियों ने अक्टूबर, 2023 में शुरू हुए इजरायल-फलस्तीन युद्ध के कारण नवंबर में वहां से गुजरने वाले वाणिज्यिक माल ढुलाई जहाजों पर लगातार हमले किए. फिलहाल अमेरिकी और ब्रिटेन की सेना भी विद्रोहियों पर जवाबी हमले में लगी हुई है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

राजस्थान विधानसभा में बवाल, फूट-फूटकर रोए राजेंद्र गुढ़ा, बोले- सदन में मुझे पीटा गया

Report Times

World Water Day 2022: पीने के साफ पानी को भी मोहताज हैं दुनिया के करीब 79 करोड़ लोग, जानें- कहां है सबसे अधिक खपत

Report Times

गंगा में बिना मेडल बहाए हरिद्वार से लौटे पहलवान, नरेश टिकैत ने सरकार को दिया 5 दिन का अल्टीमेटम

Report Times

Leave a Comment