Report Times
Otherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेश

डाक्टर के APO पर गांव में खुशी: दुष्कर्म पीड़िता के मेडिकल में देरी; काजड़ा गांव में बांटी मिठाई

reporttimes

काजड़ा पीएचसी की डॉक्टर सरोज पायल को एपीओ करने पर ग्रामीणों ने खुशी जाहिर की है। ग्रामीणों ने मिठाइयां भी वितरित की। ग्रामीण डॉ. सरोज पायल की कार्यशैली को लेकर काफी दिनों से परेशान थे। काजड़ा के लोगों ने इस सम्बन्ध में चिकित्सा विभाग में काफी बार शिकायत भी की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी।

Advertisement

सरपंच मंजू तंवर ने बताया कि काजड़ा पीएचसी पर तैनात डॉक्टर सरोज के व्यवहार से सभी परेशान थे। कई बार शिकायतें की, लेकिन चिकित्सा विभाग ने जांच भी की थी। सूरजगढ़ के बीसीएमओ के कहने पर उन्हें एक मौका दिया गया था। लेकिन डॉक्टर ने अपने व्यवहार में कोई परिवर्तन नहीं किया था। मरीजों से भी अच्छा व्यवहार नहीं था। डॉ. सरोज का यहां पर होने से या नहीं होने से कोई लाभ मरीजों को नहीं मिल रहा था।

Advertisement

सरपंच ने बताया कि उन्होंने भी कई बार समझाने का प्रयास किया था, लेकिन डॉ. सरोज नहीं मानती थी। अब उनको एपीओ कर दिया गया है। इससे ग्रामीणों में खुशी है। सरपंच ने मांग की है कि वापस डॉ. सरोज को काजड़ा नहीं लगाया जाए। उल्लेखनीय है कि डॉ. सरोज को दुष्कर्म पीड़िता के मेडिकल में देरी करने और ड्यूटी लगाने के बाद भी अस्पताल नहीं पहुंचने पर एपीओ कर दिया गया था। इस सम्बन्ध में डॉ. सरोज का कहना है कि उन्हें राजनीति के कारण एपीओ किया गया है। वे अस्पताल से गई थी। उन्हें पथरी का दर्द शुरू हो गया था। इसलिए चिड़ावा में अस्पताल में इलाज करवा रही थी। विभाग के आलाधिकारियों को अवगत भी करवा दिया था, इसलिए वे सूरजगढ़ में मेडिकल के लिए नहीं पहुंच पाई थी।

Advertisement
Advertisement

Related posts

देश से बाहर भी क्यों बंट रहे भारतीय, US, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में टकराव; बढ़ रहे हैं मामले

Report Times

चिड़ावा एसडीएम ने किया सरकारी अस्पताल का औचक निरीक्षण सरकारी अस्पताल का निरीक्षण करते हुए एसडीएम

Report Times

बीच सड़क कपड़े फाड़े फिर नंगा कर के पीटा, चलती बाइक से बाल पकड़कर घसीटते ले गए बदमाश

Report Times

Leave a Comment