Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशस्पेशल

सुपरमून : पृथ्वी और चंद्रमा के बीच की दूरी आज रहेगी सबसे कम

REPORT TIMES

Advertisement

आज रात पृथ्वी और चंद्रमा के बीच की दूरी सबसे कम हो जाएगी, जिसके बाद आधी रात को हमें इस साल का सबसे बड़ा सुपरमून देखने को मिलेगा। ऐसा ही कुछ संयोग पिछले महीने भी बना था, जब पूर्णिमा के दिन चांद का रंग पूरी तरह लाल हो गया था। इस बार पूर्णिमा बुधवार को है, जिसे गुरु पूर्णिमा के रूप में मनाया जा रहा है।

Advertisement

क्या होता है सुपरमून?
सुपरमून एक ऐसी खगोलीय घटना है, जिसमें चांद अपने सामान्य आकार से ज्यादा बड़ा दिखाई देता है। BBC की रिपोर्ट के मुताबिक, सुपरमून नॉर्मल चांद के मुकाबले 7% बड़ा दिखता है। साथ ही यह 15% ज्यादा चमकीला भी नजर आता है। सुपरमून हर साल तीन से चार बार देखा जाता है।

Advertisement

Advertisement

 दरअसल, इस दौरान चांद धरती का चक्कर लगाते-लगाते उसकी कक्षा के बेहद करीब आ जाता है। इस स्थिति को परीजी (Perigee) कहा जाता है। वहीं, चांद के धरती से दूर जाने पर उसे अपोजी (Apogee) कहते हैं। एस्ट्रोलॉजर रिचर्ड नोल ने पहली बार 1979 में सुपरमून शब्द का इस्तेमाल किया था।

Advertisement

भारत में सुपरमून बुधवार देर रात 12 बजकर 8 मिनट पर दिखेगा। हालांकि, अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के मुताबिक अगले तीन दिन भी चांद धरती के करीब ही देखा जाएगा। इसे फुल मून कहा जा सकता है, लेकिन यह असल में पूर्णिमा नहीं होगी। सिर्फ चांद के आकार की वजह से ही यह फुल मून प्रतीत होगा।

Advertisement

इसके बाद सुपरमून की घटना अगले साल 3 जुलाई को होगी। सुपरमून और पूर्णिमा का एक साथ होना दुर्लभ है, इसलिए आज सुपरमून देखने से आपको चूकना नहीं

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Related posts

लोहिया स्कूल का 10वीं का रिजल्ट भी रहा शानदार

Report Times

जानलेवा हमले के आरोपी दो युवकों को पुलिस टीम ने किया गिरफ्तार

Report Times

नाबालिग मां से रेप का आरोपी चचेरा भाई गिरफ्तार, झाड़ियों में मिली नवजात की हालत गंभीर

Report Times

Leave a Comment