Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंधर्म-कर्मभरतपुरराजस्थानस्पेशल

शादी में हिंदू धर्म के खिलाफ शपथ, कहा- किसी भी हिंदू देवी – देवता को नहीं मानेंगे, विरोध में बंद का आह्वान

REPORT TIMES 

Advertisement

भरतपुर : राजस्थान के भरतपुर में दो दिन पहले एक सामूहिक विवाह समरोह में हिंदू देवी देवताओं के खिलाफ जमकर माहौल बनाया गया। सरेआम दूल्हा-दुल्हनों को हिंदू धर्म के खिलाफ शपथ दिलाई गई। इस शादी में कैबिनेट मंत्री भी शरिकत करने पहुंचे थे। लेकिन शाम को हिंदू धर्म के विरोध में जो कुछ हुआ उसके कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। हालांकि इस पूरे मामले को लेकर न मंत्री कुछ बोल रहे हैं न स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी। लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो को लेकर हिंदू संगठनों ने खुलकर आवाज उठाई है।

Advertisement

यह पूरा मामला भरतपुर जिले के कुम्हेर कस्बे का है। यहां संत रविदास सेवा विकास समिति के तत्वाधान में दलित समुदाय की तरफ से सामूहिक विवाह (Collective wedding) सम्मेलन का आयोजन किया गया। विवाह सम्मेलन के दौरान परिणय सूत्र में बंधे सभी जोड़ों और लोगों को बौद्ध धर्म में परिवर्तित करवाया गया।

Advertisement

Advertisement

किसी भी हिंदू देवी देवता को नहीं मानेंगे

Advertisement

इस विवाह सम्मेलन में सभी दूल्हा – दुल्हनों को हाथ उठाकर प्रतिज्ञा दिलाई गई। इसमें कहा गया कि ‘आज से हम किसी भी हिंदू देवी देवता की पूजा नहीं करेंगे (‘Won’t worship Hindu gods’) और ना ही ब्राह्मणों के हाथों से क्रियाकलाप कराएंगे। ब्रह्मा विष्णु महेश, श्री राम श्री कृष्ण सहित किसी भी हिंदू देवी देवता को नहीं मानेंगे, बल्कि आज से भगवान बुद्ध की पूजा करेंगे।

Advertisement

’20 नवंबर से मैं शपथ लेता हूं…’
सामूहिक विवाह सम्मेलन में सभी नवविवाहित जोड़ों को यह शपथ दिलाई गई। इसमें कहा गया कि ’20 नवंबर 2022 से मैं शपथ लेता हूं कि मैं ब्रह्मा, विष्णु, महेश को कभी ईश्वर नहीं मानूंगा और ना ही मैं इनकी पूजा करूंगा। मैं राम और कृष्ण को ईश्वर नहीं मानूंगा तथा उनकी पूजा नहीं करूंगा। मैं हिंदू धर्म के किसी भी देवी देवता को नहीं मानूंगा और ना ही उनकी पूजा करूंगा। मैं ऐसा कभी नहीं मानूंगा कि भगवान बुद्ध विष्णु के अवतार हैं। ऐसे प्रचार को मैं पागलपन समझता हूं। मैं ना कभी श्राद्ध करूंगा ना कभी पिंडदान करूंगा। मैं बौद्ध धर्म के विरोध में कभी कोई बात नहीं करूंगा। मैं इस सिद्धांत को मानूंगा कि सभी मनुष्य समान है। मैं भगवान बुद्ध के अष्टांगिक मार्ग का पूरा पालन करूंगा।

Advertisement

कुम्हेर कस्बे में बंद का आह्वान
दलितों के सामूहिक विवाह सम्मेलन में हिंदू धर्म से बौद्ध धर्म में परिवर्तित (The mass conversion event) होने की चर्चाएं पूरे इलाके में फैल गई हैं। इसी मामले में अब बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद समेत अन्य हिंदू संगठनों ने विरोध दर्ज कराया है। जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराने की बात कही गई है। साथ ही कुम्हेर कस्बे में इस घटना के विरोध में बंद का आह्वान किया है।

मंत्री ने कहा, कानूनी कार्रवाई की जाएगी

कैबिनेट मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने इस मामले में कहा कि यदि जानबूझ कर हिंदू धर्म को ठेस पहुंचाने की कोशिश करता है या इस तरह की हरकत कोई करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उधर, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कहा है कि इस तरह के मामलों पर कार्रवाई होनी जरूरी है।

Advertisement
Advertisement

Related posts

गुलाम नबी आजाद इफेक्ट से तीन राज्यों में फंसी कांग्रेस, हुड्डा और आनंद भी खूब दे रहे टेंशन

Report Times

झांसी : चलती बस से सिर बाहर निकाला, सिर हुआ धड़ से अलग

Report Times

महेंद्र सिंह धोनी की तरह अपनी ‘कूल’ कप्तानी की छाप छोड़ी हार्दिक ने

Report Times

Leave a Comment