Report Times
latestOtherगुजरातटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिस्पेशल

जडेजा Vs जडेजा : चुनाव में एक-दूसरे के सामने आए बहन-भाई, खास है ये लड़ाई

REPORT TIMES 

Advertisement

गुजरात की जामनगर नॉर्थ विधानसभा सीट पर ननद-भाभी के बीच की लड़ाई अब बहन-भाई के बीच होती जा रही है. भारतीय क्रिकेटर रविंद्र जडेजा जहां अपनी पत्नी रिवावा जडेजा के लिए लगातार वोट मांग रहे हैं तो वहीं उनकी बहन नयनाबा कांग्रेस प्रत्याशी को जिताने के लिए दम भर रही हैं.

Advertisement

रविंद्र जडेजा ने मांगा मौका

Advertisement

जामनगर नॉर्थ विधानसभा सीट की लड़ाई रोचक हो चली है. यहां पत्नी के चुनाव प्रचार के लिए खुद क्रिकेटर रविंद्र जडेजा ने मैदान संभाल लिया है. एक दिन पहले ही उन्होंने पत्नी के समर्थन में एक रोड शो किया था. उन्होंने मतदाताओं से अपनी पत्नी के लिए एक मौका मांगा है. भाजपा की ताकत यहां के सिटिंग विधायक धर्मेंद्र सिंह जडेजा भी हैं जिन्हें हकुभा के नाम से जाना जाता है.

Advertisement

बीजेपी सिर्फ वादे करती है.

Advertisement

जामनगर उत्तर से अपनी भाभी के सामने चुनाव प्रचार कर रही हैं रविंद्र जडेजा की बहन नयनाबा खुद कांग्रेस से टिकट की दावेदारी कर रही थीं, हालांकि यहां से पार्टी ने बिपेंद्र सिंह जडेजा को टिकट देकर उनके लिए चुनाव प्रचार की कमान नयनाबा को सौंप दी. अब नयनाबा बीजेपी सरकार पर वादे पूरे न करने का आरोप लगाते हुए हमलावर हैं. वह कहती हैं कि बीजेपी कभी अपने वादे पूरे नहीं करती चाहे वह रोजगार के बारे में हो या शिक्षा के बारे में.

Advertisement

Advertisement

सीट पर मजबूत है BJP

Advertisement

नयनाबा जामनगर नॉर्थ सीट को अनिवार्य रूप से कांग्रेस का मानती हैं. वह कहती हैं कि परिसीमन के बाद बनी इस सीट पर 2012 में कांग्रेस ही पहली बार जीती थी, इसलिए यह कांग्रेस की परंपरागत सीट मानी जानी चाहिए. चूंकि मौजूदा विधायक बीजेपी में चले गए थे, इसलिए 2017 में यह सीट भाजपा के खाते में चली गई थी. नयनाबा का दावा है कि इस बार भी कांग्रेस ही इस सीट पर जीत दर्ज करेगी.

Advertisement

हकुभा का अपना वोट बैंक

Advertisement

जामनगर नॉर्थ सीट पर धर्मेंद्र सिंह जडेजा उर्फ हकुभा का अपना वोट बैंक है. टिकट कटने से वह इस बार नाराजगी जा रहे थे, हालांकि पार्टी ने उन्हें जामनगर उत्तर सहित तीन विधानसभा सीटों पर मतदान के लिए पार्टी का प्रभारी बनाकर मना लिया. अब वह खुद रिवाबा जडेजा के लिए प्रचार कर रहे हैं और ये विश्वास जा रहे हैं कि जीत बीजेपी उम्मीदवार की होगी.

Advertisement

बाहरी का आरोप निराधार

Advertisement

रिवाबा जडेजा ने कांग्रेस की ओर से उन पर लगाए जा रहे बाहरी उम्मीदवार के आरोप को खारिज कर दिया है. रिवाजा का कहना है कि 2019 में पार्टी में आने के बाद से वे इस विधानसभा क्षेत्र में काम कर रही हैं, इसलिए उन्हें बाहरी नहीं कहा जा सकता. बता दें कि रिवाजा ने मैकेनिकल इंजीनयरिंग में डिग्री ली है और वह राजकोट में पली-बढ़ी हैं. भाजपा में शामिल होने से पहले, वह करणी सेना में थीं. वह राजनीति में अपनी प्रेरणा पीएम मोदी को मानती हैं.

Advertisement
Advertisement

Related posts

चिड़ावा : गांधीचौक में लगातार 567वें दिन फहराया तिरंगा

Report Times

IPL 2022: RCB और राजस्थान में से कौन कटाएगा फाइनल का टिकट? शास्त्री ने दिया चौंकाने वाला बयान

Report Times

शराबी पति की प्रताड़ना से तंग आकर पत्नी और बेटी ने उठाया ऐसा कदम, जानकर रह जाएंगे दंग

Report Times

Leave a Comment