Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

पोस्टर से क्यों गायब हैं राहुल गांधी-प्रियंका गांधी, पार्टी के खिलाफ बिगुल के यहां और भी हैं निशान?

REPORT TIMES 

Advertisement

जयपुर: राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने जंग का ऐलान कर दिया है जहां उन्होंने रविवार को किए वादे के मुताबिक जयपुर के शहीद स्मारक पर अनशन शुरू कर दिया है. पायलट ने पिछली वसुंधरा राजे सरकार के दौरान हुए कथित भ्रष्टाचार घोटालों की जांच नहीं करवाने को लेकर सीएम अशोक गहलोत पर आरोप लगाए थे. वहीं पायलट अनशन के दौरान मंच पर ‘गांधीवादी अवतार’ में अकेले बैठे दिखाई दे रहे हैं. इसके अलावा उनके कुछ युवा समर्थक और करीबी लोग मंच के आसपास मौजूद हैं. वहीं पायलट अनशन के लिए मंच पर लगे पोस्टरों में सिर्फ महात्मा गांधी की फोटो लगी है और राहुल गांधी से लेकर सोनिया-प्रियंका गांधी सभी की फोटो नदारद है. इसके अलावा पायलट के अनशन पर राजस्थान सरकार में कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह के बेटे अनिरुद्ध सिंह की मौजूदगी ने हर किसी का ध्यान खींचा है. बता दें कि पायलट के अनशन के दौरान मंच पर कोई भी वर्तमान कांग्रेस विधायक नहीं दिखाई दे रहा है. हालांकि कुछ उनके युवा कांग्रेस समर्थक और चुनाव लड़ने के दावेदार दिख रहे हैं. दरअसल पायलट के मंच पर महात्मा गांधी के अलावा सोनिया-राहुल के पोस्टर गायब होने को लेकर माना जा रहा है कि पायलट कोई बड़ा संदेश दे रहे हैं. माना जा रहा है कि वह अनशन के बाद अपने राजनीतिक भविष्य को लेकर कोई बड़ा ऐलान भी कर सकते हैं. वहीं इधर अनिरुद्ध सिंह ने बीते दिनों ब्रिटेन दौरे के बाद लौटे राहुल गांधी पर तल्ख टिप्पणी करते हुए उन्हें झक्की और सिरफिरा तक कह दिया था. ऐसे में अनिरुद्ध की पायलट के मंच पर मौजूदगी कई सवाल पैदा कर रही है.

Advertisement

Advertisement

मंच से कांग्रेस का सिंबल भी गायब

Advertisement

बता दें कि पायलट के धरनास्थल पर लगे पोस्टरों से राहुल-सोनिया का फोटो के अलावा कांग्रेस का निशान भी नहीं दिख रहा है. वहीं मंच पर गांधी का भजन ‘वैष्णव जन तो…’ लगातार बज रहा है और पायलट मौन मुद्रा में बैठे हैं. इसके साथ ही पायलट के आसपास कई कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का जमावड़ा दिख रहा है लेकिन उनके समर्थित विधायक सभी गायब हैं. बताया जा रहा है कि धरनास्थल पर फिलहाल 1500-2000 लोगों की भीड़ है. इससे पहले मंगलवार को सुबह ज्योतिबा फुले और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को नमन करने पायलट ने अपने मौन अनशन की शुरूआत की. वहीं शहीद स्मारक पर आने से पहले पायलट ने 22 गोदाम सर्किल के पास समाज सुधारक ज्योतिबा फुले की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की. बताया जा रहा है कि पायलट ने पोस्टरों और अनशन से कुछ बड़ा कदम उठाने के संकेत साफ दे दिए हैं. वहीं पायलट से जुड़े कुछ करीबियों का कहना है कि ये पायलट का व्यक्तिगत कार्यक्रम है और कांग्रेस पार्टी की ओर से सोमवार देर रात अपना स्टैंड क्लियर कर देने के बाद पायलट ने गांधी के जरिए संदेश देने की कोशिश की है. मालूम हो कि प्रभारी रंधावा ने अनशन से पहले कहा था कि अगर सचिन पायलट अनशन करते हैं तो उसे पार्टी विरोधी गतिविधि माना जाएगा.

Advertisement

पायलट के अनशन में पहुंचे पर्यटन मंत्री के बेटे

Advertisement

वहीं पर्यटन मंत्री के बेटे अनिरूद्ध सिंह मंगलवार को पायलट के अनशन में शामिल होने पहुंचे हैं जो सचिन पायलट के पुराने समर्थक हैं और वह अक्सर पायलट को अपना मामा बताते हैं. हालांकि बीते दिनों सिंह राहुल गांधी को लेकर विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में आए थे. बीते महीने राहुल गांधी के ब्रिटिश पार्लियामेंट में दिए बयान के बाद अनिरुद्ध सिंह ने राहुल गांधी पर तल्ख टिप्पणी करते हुए उन्हें झक्की और सिरफिरा बता दिया था.सिंह ने लिखा था कि वह झक्की-सिरफिरे हो गए हैं, जो दूसरे देश की संसद में अपने देश का अपमान करते हैं. उन्होंने आगे कहा कि शायद राहुल गांधी इटली को अपनी मातृभूमि मानते हैं. वहीं अनिरुद्ध ने यह भी कहा कि इटली के माफिया भारत में जमीन हड़प रहे हैं.

Advertisement
Advertisement

Related posts

JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने नीतीश कुमार, राष्ट्रीय परिषद की बैठक में फैसला

Report Times

2 किमी तक दहशत! पेशावर की मस्जिद में फिदायीन ने खुद को उड़ाया, 32 की मौत

Report Times

मंडावा से BJP ने सांसद को उतारा, कांग्रेस क्या बचा पाएगी यह सीट

Report Times

Leave a Comment