Report Times
latestOtherओडिशाकरियरकार्रवाईटॉप न्यूज़ताजा खबरेंमेडीकल - हैल्थराजनीतिस्पेशलहादसा

ट्रेन हादसे के घायलों से मिले PM नरेंद्र मोदी, बोले- दोषियों को बख्शेंगे नहीं

REPORT TIMES 

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को ओडिशा के बालासोर में ट्रेन हादसे वाली जगह पर पहुंचे. शुक्रवार रात यहां भीषण ट्रेन हादसा हुआ, जिसमें अब तक 260 से ज्यादा लोगों ने जान गंवा दी है. प्रधानमंत्री मोदी ने पहले ट्रेन हादसे वाली जगह पर हालात का जायजा लिया. फिर वह बालासोर मेडिकल कॉलेज में घायलों से मिले. पीएम मोदी ने कहा कि हादसा विचलित करने वाला है. हादसे के लिए जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा.पीएम मोदी ने कहा कि मैं असहन वेदना महसूस कर रहा हूं. दुर्घटना के जिम्मेदार लोगों को बख्शा नहीं जाएगा. इस दुख में हम मृतकों के परिवारवालों के साथ हैं. घायलों की मदद करने वालों का शुक्रिया. ये हादसा बहुत दर्दनाक और विचलित करने वाला है. हम घायलों के जल्द से जल्द स्वास्थ्य होने की कामना करते हैं. सरकार हर स्तर की जांच कराएगी. इस घटना से बहुत कुछ सीखेंगे.

Advertisement

पीएम मोदी के साथ रहे रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव

Advertisement

हादसे वाली जगह पर पीएम मोदी के साथ रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव भी मौजूद रहे. इसके अलावा रेलवे के तमाम आला अधिकारी भी पीएम मोदी के साथ मौके पर मौजूद थे.पीएम मोदी ने सबसे पहले मौके पर हालात का जायजा लिया. उन्होंने स्थानीय अधिकारियों, राहत एवं बचाव कार्य में जुटे लोगों और रेलवे अधिकारियों से बात की. पीएम ने इस त्रासदी से निपटने के लिए सरकार के पूरी तरह से जुट जाने के अप्रोच पर जोर दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने घटनास्थल से कैबिनेट सेक्रेटरी और स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया को फोन मिलाया. पीएम मोदी ने कहा कि घायलों और उनके परिजनों को हर संभव मदद पहुंचाई जाए. पीड़ा और दुख का सामना कर रहे परिवारों का खास ख्याल रखा जाए, ताकि उन्हें किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो. जो लोग प्रभावित हैं, उनका भी जरूरी ख्याल रखा जाए. घटनास्थल से आए वीडियो में पीएम को रेलवे अधिकारियों के जरिए कुछ फाइलें दिखाते हुए देखा गया.

Advertisement

Advertisement

पीएम मोदी ने दिल्ली में बुलाई बैठक

Advertisement

वहीं, बालासोर आने से पहले पीएम मोदी ने दिल्ली में एक बैठक बुलाई. इस बैठक में ओडिशा सड़क दुर्घटना से जुड़े हालातों पर चर्चा की गई. रेलवे ने कहा है कि हादसे में जान गंवाने वाले यात्रियों के परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा के तौर पर दिया जाएगा. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि इस ट्रेन हादसे में उनके राज्य के जिन लोगों ने जान गंवाई है, उन्हें 5 लाख रुपये दिए जाएंगे. रेलवे ने बताया है कि रेस्क्यू ऑपरेशन पूरा हो चुका है.

Advertisement

रेलवे ने शुरू की मामले की जांच

Advertisement

भारत में मौजूदा रिकॉर्ड की मानें तो ये ट्रेन हादसा चौथा सबसे भयानक हादसा है. शुक्रवार शाम 7 बजे के करीब बालासोर जिले में बाहानगा बाजार स्टेशन के पास ये ट्रेन हादसा हुआ. फिलहाल रेलवे इस मामले की जांच में जुटी हुई है कि आखिर तीनों ट्रेन कैसे एक-दूसरे से टकरा गईं. भारती रेलवे ने एक बयान में कहा है कि ट्रेन हादसे की जांच का जिम्मा एएम चौधरी को दिया गया है, जो साउथ ईस्ट सर्कल में रेलवे सेफ्टी कमिश्नर हैं. रेलवे सेफ्टी कमिश्नर नागरिक उड्डयन मंत्रालय के तहत आता है.

Advertisement

कैसे हुआ हादसा?

Advertisement

ओडिशा में हुए इस ट्रेन हादसे में तीन ट्रेनें शामिल रही हैं. ये हादसा तब हुआ, जब चेन्नई जा रही कोरोमंडल एक्सप्रेस पटरी से उतर गई और ये बगल में खड़ी मालगाड़ी से टकरा गई. इस वजह से कोरोमंडल एक्सप्रेस की पिछली बोगियां तीसरे ट्रैक पर जा पहुंची. वहीं, उसी दौरान दूसरी तरफ से आ रही बेंगलुरू-हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस पटरी से उतरी बोगियों से टकरा गई.ये हादसा इतना भयंकर था कि ट्रेन की बोगियों को मालगाड़ी के ऊपर चढ़े हुए देखा गया. एनडीआरएफ की टीम ने गैस कटर और इलेक्ट्रिक कटर की मदद से बोगियों को काटा और उसमें फंसे हुए लोगों को बाहर निकाला.

Advertisement
Advertisement

Related posts

आंगनवाड़ी कर्मियों को गहलोत सरकार का तोहफा, अब मिलेगा इतना वेतन

Report Times

जयपुर में बिल्डिंग की 5वीं मंजिल से कूदकर एक महिला ने किया सुसाइड:चौकीदार की बेटी के टोकते ही कूदी

Report Times

खेतड़ी : जिला कलक्टर ने किया खेतड़ी उप कारागृह निरीक्षण

Report Times

Leave a Comment