Report Times
Businessटॉप न्यूज़ताजा खबरेंसोशल-वायरल

Reliance Jio ने हासिल किया बड़ा मुकाम, चीन की कंपनी को पछाड़ बना सबसे बड़ा मोबाइल ऑपरेटर

Reporttimes.in

Advertisement

Reliance Jio: भारतीय उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की दिग्गज टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो ने एक बार फिर से नया मुकाम हालिस किया है. बताया जा रहा है कि जियो डेटा ट्रैफिक के मामले में चाइना मोबाइल को पछाड़कर दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल ऑपरेटर बन गई है. कंपनी के द्वारा इस बात की जानकारी जियो के पिछले वित्त वर्ष के आखिरी तिमाही के नतीजों की घोषणा करते हुए किया. मार्च 2024 तक, Jio का ग्राहक आधार 481.8 मिलियन है, जिसमें से 108 मिलियन ग्राहक Jio के True5G स्टैंडअलोन नेटवर्क पर हैं. जियो नेटवर्क पर कुल ट्रैफिक 40.9 एक्साबाइट तक पहुंच गया है, जो साल-दर-साल 35.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है.

Advertisement
Whatsapp Image 2024 04 23 At 2.02.46 Pm

Advertisement

डेटा ट्रैफिक 40.9 एक्साबाइट पहुंचा

रिलायंस जियो, डेटा ट्रैफिक में वर्ल्ड की नंबर वन कंपनी बन गई है. पिछली तिमाही में कुल डेटा ट्रैफिक 40.9 एक्साबाइट दर्ज किया गया. वहीं दुनिया में डेटा ट्रैफिक में अब तक नंबर वन कंपनी रही चाइना मोबाइल लुढ़क कर नंबर दो पोजिशन पर पहुंच गई. उसके नेटवर्क पर डेटा खपत तिमाही में 40 एक्साबाइट से भी कम रही. चीन की एक और कंपनी चाइना टेलीकॉम डेटा खपत के मामले में तीसरे नंबर पर, तो भारत की एयरटेल चौथे नंबर पर रही. दुनिया भर की टेलीकॉम कंपनियों के डेटा ट्रैफिक, ग्राहक आधार पर नजर रखने वाली टीएफिशियंट ने अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी.

Advertisement

डेटा खपत में 35.2% बढ़ा

5जी सेवाओं के शुरु होने के बाद, रिलायंस जियो के डेटा खपत में पिछले वर्ष के मुकाबले 35.2 फीसदी का उछाल देखने को मिला. इस उछाल की मुख्य वजह है जियो का ट्रू 5जी नेटवर्क और जियो एयर फाइबर का विस्तार. जियो नेटवर्क रिलायंस जियो के तिमाही नतीजों के मुताबिक जियो ट्रू 5जी नेटवर्क पर 10 करोड़ 80 लाख ग्राहक जुड़ चुके हैं और जियो के कुल डेटा ट्रैफिक का करीब 28 फीसदी हिस्सा अब 5जी नेटवर्क से आ रहा है. दूसरी तरफ जियो एयर फाइबर ने भी देश भर के 5,900 शहरों में अपनी सेवाएं शुरू कर दी हैं. हालिया जारी तिमाही नतीजों में कंपनी ने जो आंकड़े मुहैया कराए हैं उनके मुताबिक जियो नेटवर्क पर प्रति ग्राहक मासिक डेटा खपत बढ़कर 28.7 जीबी हो गई है, जो तीन साल पहले केवल 13.3 जीबी थी. बताते चलें 2018 में भारत में एक तिमाही का कुल मोबाइल डेटा ट्रैफिक मात्र 4.5 एक्साबाइट था.

Advertisement
Advertisement

Related posts

व्रत के दौरान शारीरिक संबंध बनाना कितना सही? जानिए इससे जुड़े मिथक और उनकी वास्तविकता

Report Times

फ्री बस, सरकारी योजनाएं…चुनावी साल में क्यों गहलोत के फैसलों के केन्द्र में हैं महिलाएं ?

Report Times

बीजेपी ने तोडा गहलोत का किला राजस्थान से भी मुर्मू रही आगे

Report Times

Leave a Comment