Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

भारत जोड़ो यात्रा में सचिन पायलट ने मिलाए राहुल-प्रियंका से कदम, गहलोत गुट की बढ़ गई टेंशन!

REPORT TIMES 

Advertisement

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ मध्य प्रदेश के रास्ते हिंदी पट्टी में प्रवेश कर गई है. यात्रा को लेकर गुरुवार सुबह राजस्थान के राजनीतिक गलियारों में सियासी चर्चा जोरों पर रही. दरअसल मध्य प्रदेश में यात्रा के पहुंचने पर राहुल गांधी के साथ उनकी बहन और पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और उनके पति रॉबर्ट वाड्रा भी शामिल हुए. प्रियंका गांधी पहली बार भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई है. वहीं प्रियंका गांधी के साथ सचिन पायलट भी इस यात्रा में शामिल हुए. मालूम हो कि पायलट इससे पहले भी यात्रा का हिस्सा बन चुके हैं.

Advertisement

वहीं अब प्रियंका गांधी की मौजूदगी में पायलट का राहुल गांधी के साथ कदमताल करने के कई मायने निकाले जा रहे हैं. बता दें कि राजस्थान में पिछले कई महीनों से नेतृत्व परिवर्तन को लेकर सुगबुगाहट चल रही है और बताया जाता है कि प्रियंका और राहुल राजस्थान की कमान सचिन पायलट को देने के पक्ष में हैं ऐसे में अब जानकारों का कहना है कि पायलट को यात्रा में सारथी बनाकर राहुल-प्रियंका ने राजस्थान के भविष्य को लेकर संदेश दे दिया है.

Advertisement

वहीं राहुल गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा पायलट के शामिल होने से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की चिंताएं बढ़ सकती है. मालूम हो कि 2020 में पायलट गुट की बगावत के दौरान प्रियंका गांधी ने ही अहम भूमिका निभाई थी और दोनों खेमों के बीच सुलह का रास्ता निकाला था.

Advertisement

Advertisement

पायलट ने मिलाए यात्रा में कदमताल

Advertisement

जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ मध्यप्रदेश में 380 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद चार दिसंबर को राजस्थान में प्रवेश करेगी. ऐसे में पायलट का पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश में यात्रा में शामिल होने को जानकार सियासी नजरिए से बड़ी घटना मान रहे हैं.

Advertisement

मालूम हो कि राहुल गांधी के राजस्थान पहुंचने से पहले सूबे में नेतृत्व बदलने की मांग जोर पकड़ रही है और पायलट गुट की ओर से आलाकमान पर जल्द फैसला लेने का दबाव बनाया जा रहा है.

Advertisement

वहीं हाल में राज्य के प्रभारी अजय माकन ने भी गहलोत गुट के बागी नेताओं के खिलाफ एक्शन नहीं लेने पर अपने इस्तीफे की पेशकश की थी. ऐसे में यात्रा के राजस्थान पहुंचने से पहले पायलट का शामिल होने को लेकर बताया जा रहा है कि तीनों नेताओं के बीच राजस्थान को लेकर कोई चर्चा हो सकती है.

Advertisement

पायलट के इलाकों से गुजरेगी यात्रा

Advertisement

वहीं राजस्थान में राहुल की यात्रा के रूट के मुताबिक सवाईमाधोपुर, बूंदी, दौसा, टोंक और अलवर जिले शामिल किए गए हैं जहां सचिन पायलट का दबदबा माना जाता है.माना जा रहा है कि यात्रा का रूट फाइनल होने से अब पायलट अब इन क्षेत्रों में अधिक ज्यादा सक्रिय नजर आएंगे. वहीं बीते दिनों पायलट ने इन इलाकों का दौरा भी किया था. हालांकि गहलोत गुट की तमाम कोशिशों के बाद रूट में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

अब रूस को पड़ेगा भारी! प्रिगोजिन की मौत का बदला लेने की तैयारी, मॉस्को पर अटैक करेंगे वैगनर लड़ाके

Report Times

चमचागिरी की हद है… राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू पर विवादित बयान दे बुरे फंसे कांग्रेस नेता उदितराज

Report Times

सरकार का बड़ा फैसला, 18 वर्ष से ऊपर वालों को लगेगी बूस्टर डोज

Report Times

Leave a Comment