Report Times
latestOtherक्राइमझुंझुनूंटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजस्थानसीकरस्पेशल

ये लेडी डॉन है राजू ठेहट के मर्डर की मास्टरमांइड, 5 साल बाद इस बात का लिया बदला

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की कुछ लोगों ने शनिवार को सीकर में गोली मारकर हत्या कर दी. हत्या की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के एक सदस्य ने ली है. ठेहट जून 2017 में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का प्रतिद्वंद्वी था. आनंदपाल की मौत के बाद उसकी गर्लफ्रेंड लेडी डॉन अनुराधा ने लॉरेंस और काला जठेड़ी से हाथ मिला लिया.

Advertisement

माना जा रहा है कि लॉरेंस और काला जठेड़ी गैंग ने मिलकर ही राजू ठेहट की हत्या करवाई है. कहा यह भी जा रहा है कि हत्या भले ही लॉरेंस बिश्नोई और काला जठेड़ी गैंग के गुर्गों ने की है, लेकिन असली खेल लेडी डॉन अनुराधा का ही है. सीकर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि राजू ठेहट की शनिवार सुबह करीब सवा 10 बजे उसके घर के मुख्य दरवाजे पर ही कुछ लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी. ठेहट के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और वह फिलहाल जमानत पर जेल से बाहर था.

Advertisement

Advertisement

लॉरेंस बिश्नोई गिरोह ने ली जिम्मेदारी

Advertisement

घटना के तुरंत बाद खुद को लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का सदस्य बताने वाले रोहित गोदारा ने ठेहट की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए फेसबुक पर लिखा कि यह आनंदपाल सिंह और बलबीर बानूड़ा का बदला है. आनंदपाल गिरोह के सदस्य बलबीर की जुलाई 2014 में बीकानेर जेल में एक गैंगवॉर में मौत हो गई थी. पुलिस ने बताया कि आरोपियों की तलाश की जा रही है. हरियाणा से लगती सीमा और झुंझुनू जिले की सीमा को सील कर दिया गया है.

Advertisement

आनंदपाल की मौत के बाद लेडी डॉन ने संभाला गिरोह

Advertisement

मालूम हो कि अनुराधा ने अपने पति फैलिक्स दीपक मिंज के साथ सीकर में एक शेयर ट्रेडिंग शुरू किया था. शेयर बाजार में लाखों रुपए निवेश करने वाले लोगों ने घाटा होने पर जब अनुराधा पर दबाव बनाना शुरू किया, तो उसने कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल से हाथ मिला लिया था. इस बीच गैंगस्टर आनंदपाल और अनुराधा करीब आ गए. जून 2017 में पुलिस मुठभेड़ में गैंगस्टर आनंदपाल सिंह की मौत हो गई. जिसके बाद उसकी गर्लफ्रेंड लेडी डॉन अनुराधा ने लॉरेंस और काला जठेड़ी से हाथ मिला लिया.

Advertisement

अभी हालही में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने लेडी डॉन अनुराधा को गिरफ्तार किया था. पूछताछ में उसने भी कबूला कि आनंदपाल की मौत के बाद उसके गिरोह की कमान उसने ही संभाली ली थी. फिलहाल, अभी अनुराधा दिल्ली में लॉरेंस ग्रुप के गुर्गे के साथ रह रही थी. माना जा रहा है कि आनंदपाल की करीबी और उसके प्रतिद्वंद्वी राजू से बदला लेने के लिए लेडी डॉन अनुराधा ने लॉरेंस के गुर्गों से हत्या की वारदात को अंजाम दिया है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

3 साल में सबसे कम क्यों रहेगी ग्रोथ? 10 पॉइंट्स में समझिए Economic Survey

Report Times

स्कूल को मर्ज करने का विरोध, आक्रोश रैली निकाली

Report Times

उत्तराखंड की महिलाओं को 30 फीसदी आरक्षण पर लगी रोक, यूपी-हरियाणा की महिला अभ्यर्थियों ने हाईकोर्ट में दायर की थी याचिका

Report Times

Leave a Comment