Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

डेढ घंटे चली गहलोत-पायलट की क्लास, राजस्थान से ‘गुड न्यूज’ के लिए राहुल ने दिया मंत्र

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान में 2023 के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं लेकिन उससे पहले राज्य में चल रहे सियासी संकट का समाधान निकालना कांग्रेस के लिए एक बड़ी चुनौती बना हुआ है. हालांकि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के राजस्थान में आने के बाद से प्रदेश कांग्रेस के नेताओं के बीच छिड़ा युद्ध फिलहाल शांत है लेकिन यात्रा के जाने के बाद इसकी सुगबुगाहट फिर से तेज होने के कयास लगाए जा रहे हैं. इसी कड़ी में सोमवार को राहुल ने जाने से पहले कांग्रेस नेताओं की अलवर में क्लास ली. बताया जा रहा है कि राहुल की क्लास में अशोक गहलोत और सचिन पायलट के अलावा पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव केसी वेणुगोपाल और कुछ चुनिंदा मंत्री सर्किट हाउस में मौजूद रहे.

Advertisement

बंद कमरे में करीब डेढ घंटे तक चली बैठक के बाद कयास लगाए जाने लगे कि राजस्थान को लेकर कोई फैसला हो सकता है लेकिन सियासी गलियारों में चर्चा रही कि राहुल ने 2023 के लिए कांग्रेस को मंत्र दे दिया है.

Advertisement

वहीं बैठक के बाद राहुल गांधी ने बाहर निकलकर मीडिया से कहा जल्द ही गुड न्यूज मिलेगी जिसके बाद अटकलों का बाजार और गरम हो गया. सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी राजस्थान में चल रही उठापटक को देखते हुए सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के मध्य सुलह कराने आए थे.

Advertisement

Advertisement

गहलोत और पायलट को राहुल की नसीहत

Advertisement

बताया जा रहा है कि यात्रा के राजस्थान से जाने से पहले राहुल ने अशोक गहलोत और सचिन पायलट को अनुशासन का पाठ पढ़ाया और पार्टी सूत्रों का कहना है कि बीते दिनों हुई दोनों नेताओं और उनके समर्थकों के बीच की बयानबाजी से राहुल गांधी खुश नहीं हैं. राहुल ने सर्किट हाउस में हुई बैठक में गहलोत और पायलट को पार्टी को मजबूत करने के निर्देश दिए हैं.

Advertisement

वहीं दोनों नेताओं को सख्त हिदायत देकर कहा गया है कि वह एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी से बचे इससे पार्टी को नुकसान होता है. बैठक में राहुल ने कहा कि नेताओं को निजी हितों से ऊपर पार्टी के लिए सोचना चाहिए.

Advertisement

राहुल ने कहा कि राजस्थान में पिछले दिनों हुए सियासी घमासान से पार्टी की किरकिरी हुई है और इससे विरोधियों को पार्टी पर हमला करने का मौका मिलता है. अब माना जा रहा है कि 23 दिसंबर को दिल्ली में होने वाली बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे राजस्थान के 25 सितंबर के घटनाक्रम पर फैसला सुना सकते हैं.

Advertisement

जनता का भरोसा जीतें नेता

Advertisement

वहीं राहुल गांधी ने कांग्रेस नेताओं को कहा कि जो पार्टी के लिए मेहनत करेगा उसे उसकी मेहनत का फल जरूर मिलेगा ऐसे में हर किसी को धैर्य बनाकर जनता का भरोसा जीतने पर काम करना चाहिए. राहुल ने कहा कि कौन नेता क्या कर रहा है इसकी रिपोर्ट कांग्रेस आलाकमान तक पहुंच जाती है और जो पार्टी के लिए अच्छा काम करेगा उसे पार्टी मौका देगी.

Advertisement

योजनाओं का जनता के बीच करें प्रचार

Advertisement

इसके अलावा राहुल गांधी ने कहा कि राजस्थान सरकार की योजनाएं अनोखी है और जनता में इनका क्रेज दिखाई दे रहा है. उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार की योजनाओं से हर वर्ग के लोगों को सीधी राहत मिली है और अब समय है कि इन योजनाओं को कैसे भुनाया जाए इस पर काम किया जाना चाहिए. राहुल ने कहा कि सरकार की योजनाओं के प्रचार के लिए सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को एकजुट हो जाना चाहिए.

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

भाजपा ने सुनील जाखड़ को दी बड़ी जिम्मेदारी, जांच कमेटी का सोपा काम

Report Times

जयपुर में योजना भवन से मिले 2.31 करोड़ रुपये, 1 किलो सोना

Report Times

नगर पालिका का अतिक्रमण हटाओ अभियान : स्टेशन के पास हटवाए अस्थायी अतिक्रमण

Report Times

Leave a Comment