Report Times
latestOtherकरियरखेलटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशविरोध प्रदर्शनस्पेशल

सिर्फ आश्वासन! अब PM से गुहार… मीटिंग के बाद क्या रहा खिलाड़ियों का रिएक्शन

REPORT TIMES 

Advertisement

दिल्ली के जंतर मंतर पर कुश्ती फेडरेशन और उसके चीफ ब्रिज भूषण सिंह के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कुश्ती खिलाड़ी गुरुवार को बबिता फोगाट से मुलाकात के बाद शास्त्री भवन केंद्रीय स्टपोर्ट्स मिनिस्ट्री पहुंचे. यहां पर उन्होंने मंत्रालय के अधिकारियों से मुलाकात की. इससे ठीक पहले पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा था, ‘हम केंद्रीय खेल मंत्रालय के ऑफिस जा रहे हैं, हम मीडिया को फिर से जानकारी देंगे जैसे ही मीटिंग खत्म होती है.’ मीटिंग के बाद जब खिलाड़ी वापस लौटे तो महिला पहलवान साक्षी मलिक ने बताया कि खेल मंत्रालय में पहलवानों की बात सुनी गई है. हालांकि उन्होंने कहा है कि उन्हें सिर्फ आश्वासन मिला है. खेल मंत्रालय में अधिकारियों से मुलाकात के बाद पहलवान साक्षी मलिक ने कहा, ‘मीटिंग में सिर्फ आश्वासन दिया गया है, किसी तरह का ठोस कदम या एक्शन लेने की बात नहीं की गई. हम रेसलिंग फेडरेशन को भंग करवाना चाहते हैं. हर जगह उनके लोग हैं. हमें केरल, महाराष्ट्र से फोन आ रहे हैं जो पीड़ित रही हैं. हमारी PM से गुजारिश है कि इंसाफ करें.’ वहीं पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा, ‘हमारी लड़ाई फेडरेशन के खिलाफ है न कि सरकार के खिलाफ. हम चाहते हैं कि फेडरेशन को बंद किया जाए क्योंकि फेडरेशन में वे अपने ही लोगों को बिठाएंगे. अगर इसका समाधान जल्दी नहीं निकला तो हम कानून का भी सहारा लेंगे.’

Advertisement

Advertisement

हमारी जान को खतरा है: विनेश फोगाट

Advertisement

पहलवान विनेश फोगाट ने कहा कि, ‘हमारी जान को भी खतरा है, हमने पुलिस का प्रोटेक्शन भी नहीं लिया है. जब शोषण होता है तो एक कमरे में होता है वहां कैमरे नहीं लगाए जाते हैं. वे लड़कियां भी हमारे साथ हैं जो इसे साबित कर सकती हैं.’

Advertisement

क्या है मामला

Advertisement

रेस्लिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) और इसके चीफ ब्रिज भूषण सरन सिंह के खिलाफ गुरुवार को भी कुश्ती खिलाड़ी दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना देने पहुंचे. इस दौरान प्रसिद्ध खिलाड़ी विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और बजरंग पुनिया भी शामिल हुए. ट्रिपल कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडलिस्ट विनेश, जो कि भारत की सबसे सफल महिला पहलवान हैं ने अपने फेडरेशन चीफ पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है. इतना ही नहीं उन्होंने फेडरेशन चीफ के अलावा कई अन्य कोचों पर यह गंभीर आरोप लगाया है. विनेश ने यह आरोप बुधवार को एक पब्लिक प्रोटेस्ट के दौरान लगाए हैं. इस दौरान विनेश का साथ कई विख्यात महिला और पुरुष रेस्लर्स ने दिया है.

Advertisement

इससे पहले पुनिया ने बताया कि उनसे मुलाकात करने बीजेपी लीडर और चैंपियन रेस्लर बबिता फोगाट भी आईं. पुनिया ने कहा कि बबिता ने सरकार की ओर से प्रदर्शन पर बैठे रेस्लर्स को सरकार की ओर से संदेश दिया है. पुनिया ने मीडिया को बताया कि, ‘बबिता फोगाट ने सरकार की ओर से हमसे मुलाकात की है. हम उनसे बात करने के बाद आपको और जानकारी भी देंगे.’ उन्होंने कहा, ‘अगर हम अपने देश के लिए लड़ सकते हैं तो हम अपने अधिकारों के लिए भी लड़ सकते हैं.’

Advertisement

सरकार पहलवानों के साथ

Advertisement

बबिता फोगाट ने सभी प्रदर्शन पर बैठे रेस्लर्स को यह सांत्वना दी है कि सरकार उनके साथ है. फोगाट ने कहा, ‘मैंने उन्हें (प्रदर्शन पर बैठे रेस्लर्स) को यह विश्वास दिलाया है कि सरकार उनके साथ है. मैं कोशिश करूंगी कि उनकी सभी समस्याओं का निराकरण आज हो जाए.’ हरियाणा स्पोर्ट्स एंड यूथ अफेयर्स की डिप्टी डायरेक्टर और पूर्व रेस्लर बबिता ने इससे पहले ट्वीट किया था. उन्होंने ट्वीट में लिखा था, ‘मैं अपने सभी साथी खिलाड़ियों के साथ खड़ी हूं. मैं आप सभी को यह यकीन दिलाती हूं कि इसकी शिकायत मैं सरकार में हर स्तर पर करूंगी. और भविष्य उसी आधार पर होगा जैसा खिलाड़ी चाहते हैं.’

Advertisement

वहीं विनेश फोगाट ने कहा था कि बीजेपी से सांसद ब्रिज भूषण और अन्य ट्रेनर्स आरोपी हैं. उन्होंने आरोप लगाया है कि ब्रिज भूषण ने कई खिलाड़ियों के साथ यौन उत्पीड़न किया है और टोक्यो ओलंपिक 2020 में उनकी हार पर उन्हें ‘खोटा सिक्का’ कहा था. अपने प्रोटेस्ट के दौरान विनेश फोगाट ने कहा कि, ‘कोच कई महिला खिलाड़ियों को और कई महिलाओं कोच को प्रताड़ित कर रहे हैं, और वह फेडरेशन के खास बने हुए हैं. वह महिला खिलाड़ियों का यौन उत्पीड़न भी करते हैं.’

Advertisement

खेल मंत्री से फोन पर बातचीत

Advertisement

इससे पहले ऐसी भी खबरें आई थी कि बृजभूषण ने फोन पर खेल मंत्री को इस मामले पर सफाई भी दी है. उन्होंने फोन पर मंत्री को कहा था कि अगर उनके खिलाफ एक भी आरोप सही निकला तो उन्हें फांसी पर चढ़ा दिया जाए. उन्होंने कहा कि 22 से 28 साल के बीच की उम्र में पहलवान शानदार प्रदर्शन करते हैं. जो खिलाड़ी प्रदर्शन कर रहे हैं, वो ओलिंपिक मेडल नहीं जीत सकते और यही गुस्से में बदल गया.

Advertisement

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

IAS टीना डाबी की बहन रिया डाबी सचिवालय में मुख्य सचिव ऊषा शर्मा से मिलीं

Report Times

कांग्रेस चिड़ावा बीआरओ रचना ने ली बैठक, विधायक चंदेलिया ने गिनाए विकास कार्य

Report Times

क्वाण्टाइन सेंटर में पानी की व्यवस्था करवाई

Report Times

Leave a Comment