Report Times
latestOtherजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

अडानी मामले पर राजस्थान में BJP-कांग्रेस में छिड़ा घमासान, विधायकों ने लगाई आरोपों की झड़ी

REPORT TIMES 

Advertisement

गौतम अडानी मामले में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बयान आने के बाद राजस्थान के राजनीतिक गलियारों में सरगर्मियां तेज हो गई हैं. अडानी को लेकर राजस्थान के कांग्रेस-बीजेपी विधायकों आपस में भिड़ गए हैं और जमकर बयानबाजी हो रही है जहां दोनों ही दलों के विधायकों ने एक दूसरे पर आरोपों की झड़ियां लगा दी है. अडानी मामले पर गहलोत सरकार के घेरे जाने पर सरकार के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने मोर्चा संभालते हुए कहा कि बीजेपी ने केंद्र में सुप्रीम कोर्ट को हलफनामा देकर मामले की जांच के लिए कहा कि हम तैयार है, उन्हें अलग से हलफनामा देने की जरूरत क्या है ? खाचरियावास ने कहा कि सरकार जांच को तैयार है, फिर जेपीसी गठन में आनाकानी क्यों ? वहीं बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस राजस्थान में अडानी को जमीन देती है, लेकिन जांच की मांग करती है, यह कांग्रेस का दोहरा चरित्र है. मालूम हो कि अडानी को लेकर राहुल गांधी के तमाम आरोपों के बाद सदन में हाल में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राजस्थान सरकार पर अडानी को जमीनें देने और एमओयू करने का बयान दिया था जिसके बाद गहलोत सरकार राजस्थान में बीजेपी ने निशाने पर आ गई थी. वहीं हाल में केंद्रीय गृह अमित शाह ने कहा था कि बीजेपी के पास छिपाने लायक कुछ भी नहीं है और सुप्रीम कोर्ट ने मामले में संज्ञान ले लिया है, हमें किसी बात से डरने की जरूरत नहीं है.

Advertisement

Advertisement

अडानी मामले की जांच जेपीसी से हो : खाचरियावास

Advertisement

राजस्थान विधानसभा के बाहर मीडिया से बात करते हुए कैबिनेट मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि अडानी मामले की जांच जेपीसी से होनी चाहिए और केंद्र सरकार ने जब सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दिया है कि हम जांच को तैयार हैं, फिर केंद्र सरकार इस मामले में जेपीसी गठित क्यों नहीं कर जांच करा लेती है. खाचरियावास ने कहा कि राहुल गांधी समेत तमाम विपक्ष के नेता जेपीसी की मांग कर रहे हैं. वहीं राजस्थान में जमीन आवंटन के सवाल पर खाचरियावास ने कहा कि हमने अडानी ग्रुप को केवल एमओयू साइन करके जमीन दी है और ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी पूरे देश की जांच कर सकती है, ऐसे में अगर गलत हुआ है तो राजस्थान की भी जांच होनी चाहिए जिसमें सब साफ हो जाएगा. मंत्री ने बताया कि जेपीसी में कांग्रेस और बीजेपी दोनों के विधायक रहते हैं, सच्चाई सामने आ जाएगी. वहीं अल्पसंख्यक मामलात मंत्री साले मोहम्मद ने कहा पूरा देश जानता है कि अडानी जिस जगह पर आए हैं वह किसकी देन है. उन्होंने बताया कि राजस्थान के विकास और सोलर प्रोजेक्ट के लिए हमनें जमीनें दी है तो यह सच भी है कि मेरे जिले जैसलमेर से 4800मेगा वाट सोलर से बिजली मिल रही है.

Advertisement

कांग्रेस का दोहरा चरित्र हुआ उजागर : बीजेपी

Advertisement

वहीं दूसरी ओर बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि अडानी को लेकर कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर हो गया है और राहुल गांधी सहित पूरी पार्टी अडानी का विरोध करती है, लेकिन अशोक गहलोत ने अडानी के लिए पलक-पावड़े बिछा रखे हैं और यहां एमओयू करके हजारों बीघा जमीनें अडानी को दी गई हैं. देवनानी ने कहा कि केंद्र कुछ करें तो राहुल गांधी विरोध करते हैं ऐसे में कहीं ऐसा तो नहीं कि राहुल गांधी के विरोध करने के बाद भी यहां एमओयू और जमीन देकर गहलोत राहुल गांधी का विरोध कर रहे हैं. मालूम हो कि उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ इस मामले को विधानसभा में भी उठा चुके हैं. राठौड़ ने सरकार द्वारा दी गई जमीनों को लेकर आंकड़े बताते हुए राजस्थान सरकार पर सवाल खड़े किए थे.

Advertisement
Advertisement

Related posts

दो गैंग फिर आमने – सामने, फायरिंग की, गाड़ियां तोड़ी, थाने तक पहुंचा मामला तो पुलिस जुटी जांच में

Report Times

पुरानी फटी बेडशीट से इस तरह सजाया जा सकता है अपना घर

Report Times

बीजेपी को मिली जीत:बसंत कुमार 333 मतों से विजय, बिसाऊ नगर पालिका के वार्ड 14 का उप चुनाव

Report Times

Leave a Comment