Report Times
latestOtherकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजस्थानस्पेशल

जयपुर पुलिस की गिरफ्त में गैंगस्टर रितिक बॉक्सर, G-क्लब फायरिंग केस में नेपाल बॉर्डर से अरेस्ट

REPORT TIMES 

Advertisement

जयपुर: राजस्थान की राजधानी में जनवरी महीने में जी क्लब पर हुई फायरिंग मामले में पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है. मिली जानकारी के मुताबिक जयपुर पुलिस कमिश्नरेट की टीम ने 1 लाख रुपए के इनामी गैंगस्टर रितिक बॉक्सर को नेपाल बॉर्डर से दबोच लिया है जिसके बाद उसे जवाहर सर्किल थाने लाया गया है. एसीपी चिरंजीलाल मीणा के नेतृत्व में पूरी कार्रवाई को अंजाम दिया गया है. रितिक फायरिंग की घटना के बाद से ही फरार चल रहा था. वहीं इस मामले में पुलिस ने पहले रितिक बॉक्सर की बहन सहित 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया था. पुलिस को जांच के दौरान पता चला था कि रितिक की बहन उसका सोशल मीडिया अकाउंट चलाती थी. मालूम हो कि जनवरी महीने में फेमस जी-क्लब के बाहर लॉरेंस बिश्नोई गैंग के गुर्गों ने आधी रात को अंधाधुंध फायरिंग कर एक के बाद एक 19 राउण्ड फायर किए थे जिसके बाद इस घटना की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गैंग के रितिक बॉक्सर और अनमोल बिश्नोई ने ली थी. रितिक ने फेसबुक पर पोस्ट कर लिखा था कि ‘सबका नंबर आएगा’. वहीं गोलीबारी की यह पूरी वारदात सीसीटीवी में भी कैद हुई थी. बदमाशों ने फायरिंग कर होटल संचालक से 5 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी. वहीं जी-क्लब फायरिंग मामले में दो दिन बाद ही जवाहर थाना पुलिस ने लॉरेंस बिश्नोई गैंग के चार शूटर गिरफ्तार किए थे जिनमें जयप्रकाश उर्फ जेपी, प्रदीप शुक्ला, ऋषभ और एक अन्य शामिल था. बता दें कि बाइक पर सवार होकर आए तीन बदमाशों ने जी क्लब पर गोलियां बरसाई थी.

Advertisement

Advertisement

सबका नंबर आएगा…दी थी रितिक ने धमकी

Advertisement

दरअसल जी क्लब पर फायरिंग करने से पहले आरोपियों ने पहले क्लब की रेकी की थी और इसके बाद बाइक पर आकर उन्होंने ताबड़तोड़ फायरिंग की. बदमाशों ने इस दौरान करीब चार-पांच मिनट तक लगातार गोलियां बरसाई. वहीं जी क्लब पर हुई फायरिंग के बाद जिम्मेदारी लेते हुए रितिक बॉक्सर ने अपने सोशल मीडिया पेज पर लिखा है कि राम-राम जयपुर, यह जी क्लब जयपुर पर जो फायरिंग हुई है यह मैंने रितिक बॉक्सर, अनमोल विश्नोई (लॉरेंस बिश्नोई गैंग) ने करवाई है और याद रहे सबका नंबर आएगा. मालूम हो कि रितिक ठकुरानी उर्फ रितिक बॉक्सर महज 20 साल की उम्र में लॉरेंस बिश्नोई गैंग के करीबी लोगों में शामिल हो गया और बीते दिनों से वह खौफ का नया पर्याय बन गया है.

Advertisement

रितिक के खिलाफ 8 से ज्यादा मुकदमे दर्ज

Advertisement

गौरतलब है कि जयपुर के मालवीय नगर इलाके का रहने वाला रितिक जवाहर सर्किल पुलिस स्टेशन का पुराना हिस्ट्रीशीटर है जहां बीते दिनों उसका नाम हनुमानगढ़ जिले में एक व्यापारी पर हमले के बाद सामने आया था.वहीं रितिक के खिलाफ वर्तमान में 8 केस दर्ज हैं जिनमें तीन जयपुर, दो-दो श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ में और एक हरियाणा के गोहना में है. रितिक के खिलाफ 2019 में पहला मुकदमा जवाहर सर्किल थाने में दर्ज हुआ था और वह खुद को काफी समय से लॉरेंस का गुर्गा बताता है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

51 साल के शादीशुदा शख्स का चल रहा गर्लफ्रेंड के साथ अफेयर, अब पत्नी की तस्वीरें खींच शख्स को कर रही ब्लैकमेल

Report Times

किस देश ने भारत के बाद चांद पर भेजा अपना मिशन? जानें चंद्रयान-3 से पहले कैसे पहुंचेगा लूना-25

Report Times

CBI Big action : राजस्थान में सी. बी.आई. का बड़ा एक्शन, जलदाय विभाग के 8 इंजीनियर निलंबित

Report Times

Leave a Comment