Report Times
latestOtherजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

सचिन पायलट ने ‘भ्रष्टाचार’ को ढाल बना CM के खिलाफ किया ऐलान-ए-जंग! अब गहलोत के मंत्री का मिला साथ

REPORT TIMES 

Advertisement

जयपुर: राजस्थान में साल के आखिर में होने वाले चुनावों से पहले सचिन पायलट ने राज्य का सियासी पारा चढ़ा दिया है जहां इस बार पायलट ने अपनी ही सरकार को आड़े हाथों ले लिया है. पायलट ने पहली बार सीएम अशोक गहलोत को भ्रष्टाचार के मसले पर घेरते हुए नाकाम करार दिया. वहीं पायलट ने कहा कि राज्य सरकार वसुंधरा राजे सरकार के दौरान हुए भ्रष्टाचार के मामलों पर अभी तक कोई एक्शन नहीं ले पाई है. वहीं उन्होंने अपनी ही सरकार के खिलाफ एक दिन के अनशन का भी ऐलान कर दिया है. अब इस मुद्दे पर जहां गहलोत खेमा चुप्पी साधे हुए वहीं पायलट को सरकार के एक मंत्री का साथ मिला है.राजस्थान की गहलोत सरकार में खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप सिंह प्रताप सिंह खाचरियावास ने पायलट का समर्थन करते हुए कहा है कि वो पायलट की मांग से सहमत हैं और हमारी सरकार होने के नाते यह हमारी जिम्मेदारी है कि पायलट ने जिन मुद्दों को उठाया है उन पर एक्शन लिया जाए.

Advertisement

Advertisement

खाचरियावास ने कहा- एक्शन लेंगे

Advertisement

वहीं पायलट के आरोपों के बाद खाचरियावास ने कहा कि कांग्रेस ने चुनावों के दौरान वादा किया था कि अगर उनकी सरकार सत्ता में आएगी तो जो मुद्दे पायलट ने उठाए हैं उस पर एक्शन लिया जाएगा लेकिन अब तक कोई एक्शन नहीं लिया गया है. उन्होंने बताया कि भ्रष्टाचार के मामलों को लेकर राहुल गांधी अडानी और केंद्र सरकार की सांठ-गांठ से हुए भ्रष्टाचार के मामले पर जेपीसी की मांग कर रहे हैं और अगर हमें कहीं भ्रष्टाचार होता दिखता है तो यह पार्टी का कार्यकर्ता भी आवाज उठा सकता है. इसके साथ ही पायलट के अनशन के समर्थन को लेकर खाचरियावास ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी पार्टी के तमाम कार्यकर्ता भी भ्रष्टाचार के मामलों को लेकर सड़कों पर उतर सकता है. उन्होंने कहा कि पायलट जिन मुद्दों को उठा रहे हैं उस पर सरकार को उनकी बात सुननी चाहिए. उन्होंने कहा कि वह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से इस बारे में बातचीत करेंगे और उनसे एक्शन लेने का आग्रह करेंगे. वहीं खाचरियावास ने यह भी कहा कि सचिन पायलट पार्टी के लिए एसेट हैं और खुद राहुल गांधी यह बात मान चुके हैं.

Advertisement

‘हमनें बीजेपी के भ्रष्टाचार को किया उजागर’

Advertisement

मालूम हो कि रविवार को पायलट ने कहा कि जब कांग्रेस विपक्ष में थी तब हमने बीजेपी की तत्कालीन सरकार में हुए ”भ्रष्टाचार” का मुद्दा उठाया था और सरकार आने पर कार्रवाई का वादा किया था. इस पर खाचरियावास ने कहा कि विपक्ष में रहते हुए हमने बीजेपी के भ्रष्टाचार को उजागर किया था और भ्रष्टाचार को लेकर कार्रवाई करने को लेकर अब जनता पूछ रही है कि भ्रष्टाचार के मामलों पर कार्रवाई कब होगी. वहीं खाचरियावास ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी पिछले 4 सालों में एक मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाने में पूरी तरह से फेल साबित हुई है और अब जब गहलोत सरकार के खिलाफ माहौल नहीं बना तो बीजेपी नेता ध्रुवीकरण को ढाल बनाकर राजनीति करना चाह रहे हैं.

Advertisement
Advertisement

Related posts

मैतई समुदाय में सिर्फ हिंदू ही नहीं मुस्लिम भी शामिल, क्या है इनका इतिहास

Report Times

रामकथा और नानी बाई को मायरो को लेकर हुई बैठक : कार्यकर्ताओं को सौंपी जिम्मेदारियां, 11 से शुरू होगी रामकथा

Report Times

क्या राजीव गांधी के हत्यारे फिर जाएंगे जेल? रिहाई के खिलाफ केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की रिव्यू पिटिशन

Report Times

Leave a Comment