Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदिल्लीराजनीतिराजस्थानस्पेशल

दिल्ली दरबार में सचिन पायलट, आलाकमान से होगी मुलाकात! पलटवार की तैयारी में CM

REPORT TIMES 

Advertisement

जयपुर: राजस्थान में कांग्रेस आलाकमान के आदेश की एक बार फिर खुलेआम अवहेलना हुई जहां मंगलवार को राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट अपनी ही सरकार के खिलाफ राजधानी में धरने पर बैठ गए. पायलट ने पिछली वसुंधरा राजे सरकार के दौरान हुए घोटालों में कथित कार्रवाई की मांग को लेकर 5 घंटे अनशन किया जहां वह अपने कुछ समर्थकों को लेकर मौन बैठे रहे. पायलट ने अनशन से पहले दिल्ली दरबार ने इसे पार्टी विरोधी गतिविधि करार दिया लेकिन इसके बावजूद उन्होंने अनशन किया. हालांकि पायलट के अनशन को लेकर मंगलवार से अब तक आलाकमान की ओर से खामोशी बरती गई.वहीं अब मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली में बुधवार को पायलट की मुलाकात पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से हो सकती है. हालांकि पार्टी की ओर से पायलट से मुलाकात को लेकर कोई जानकारी नहीं दी गई है. इससे पहले पायलट मंगलवार को देर शाम दिल्ली के लिए रवाना हुए थे. सूत्रों का कहना है कि पायलट की इस घटनाक्रम के बाद अब आलाकमान से बातचीत हो सकती है. इधर पिछले 48 से अधिक घंटों की खामोशी के बाद बुधवार को सीएम गहलोत ने भी एक अहम प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है.

Advertisement

Advertisement

आलाकमान हुआ पायलट पर नरम!

Advertisement

दरअसल पायलट ने रविवार को भ्रष्टाचार को लेकर अपनी सरकार के खिलाफ जो तेवर दिखाए थे अनशन खत्म करने के बाद उनमें काफी बदलाव देखा गया. वहीं अनशन के दौरान भी पायलट ने पूरी सावधानी से काम लिया और भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बीजेपी सरकार के खिलाफ ही अपना विरोध दर्ज करवाया. वहीं उन्होंने अडानी मुद्दे पर मोदी सरकार को भी घेरा.वहीं अनशन के बाद इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा कि पायलट ने पार्टी विरोधी कोई टिप्पणी नहीं की है जिस पर वह तत्काल कोई प्रतिक्रिया दे सकें. उन्होंने कहा कि मेरी जानकारी में नहीं है कि उन्होंने कुछ गलत बोला है. मालूम हो कि इससे पहले रंधावा ने सोमवार को देर रात एक बयान में कहा था कि पायलट का कल का अनशन पार्टी हितों के खिलाफ है और यह पार्टी विरोधी गतिविधि माना जाएगा.

Advertisement

भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाता रहूंगा आवाज – पायलट

Advertisement

इधर अनशन खत्म करने के बाद पायलट ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं लंबे समय से इस मुद्दे को उठाता रहा हूं और यह वही मुद्दा है जिसे राहुल गांधी ने संसद के अंदर और बाहर उठाया था. उन्होंने कहा कि हमनें बीजेपी सरकारों के खिलाफ व्यापक तौर पर भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी आवाज उठाना चाहते हैं और हमनें पहले भी ऐसी कई मुहिम चलाई है. पायलट ने बताया कि सिर्फ कांग्रेस ही नहीं, बल्कि सभी विपक्षी दलों ने भ्रष्टाचार जैसे मुद्दे पर एकजुटता दिखाई है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

सरकारी डॉक्टर्स का लगातार दूसरे दिन कार्य बहिष्कार : जयपुर में डॉक्टर्स पर लाठी चार्ज के विरोध में दो घंटे कार्य बहिष्कार

Report Times

गर्मी में पानी को तरसे लोग:अधिकारियों को बताने पर भी समाधान नहीं, बच्चे भी पानी के लिए भटकते

Report Times

आइए जानें, कैसे की जाती है ईवीएम से वोटों की गिनती

Report Times

Leave a Comment