Report Times
latestOtherकरियरकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारटॉप न्यूज़ताजा खबरेंमहाराष्ट्रस्पेशल

मानव तस्करी का भंडाफोड़! ट्रेन से लाए जा रहे थे 59 बच्चे, रेलवे पुलिस ने मनमाड-भुसावल में छुड़ाए

REPORT TIMES

Advertisement

नासिक: रेलवे पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बच्चों की तस्करी की एक बड़ी घटना का भंडाफोड़ किया है. दानापुर-पुणे एक्सप्रेस से बिहार से महाराष्ट्र लाए जा रहे 59 बच्चों को आरोपियों चंगुल से छुड़ाया गया है. 30 बच्चे मनमाड और 29 बच्चे भुसावल रेलवे स्टेशन से छुड़ाए गए हैं. पुलिस को शक है कि इन बच्चों को ट्रेन के जरिए तस्करी के लिए लाया जा रहा था और इन्हें सांगली या पुणे के मदरसे में लाने का प्लान था. इन बच्चों के साथ चल रहे 5 आरोपियों को अरेस्ट कर उन पर आईपीसी की धारा 470 के तहत केस दर्ज किया गया है.छुड़ाए गए बच्चों में से कुछ को नासिक के उंटवाड़ी इलाके के बालसुधार गृह में भेज दिया गया है. बिहार के पूर्णिया जिले से सांगली के मदरसे में तस्करी के जरिए लाने के इस कारनामे का भंडाफोड़ भुसावल रेलवे सुरक्षा बल और रेलवे पुलिस की टीम ने किया है.

Advertisement

दानापुर-पुणे एक्सप्रेस से लाए जा रहे थे ये 59 बच्चे

Advertisement

दानापुर-पुणे एक्सप्रेस से तस्करी कर के लाए जा रहे इन 59 बच्चों को भुसावल से मनमाड स्टेशन के दरम्यान 30 मई को छुड़ाया जा सका. कुछ बच्चों को जलगांव और नासिक के उंटवाड़ी इलाके के बालसुधार गृह के लिए रवाना कर दिया गया है. 5 आरोपियों को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है.

Advertisement

Advertisement

भुसावल में उतारे गए बच्चे जलगांव के बालसुधार गृह में भेजे गए

Advertisement

दानापुर-पुणे एक्सप्रेस गाड़ी नंबर 01040 से बाल तस्करी होने की गोपनीय जानकारियां भुसावल रेलवे सुरक्षा बल, रेलवे पुलिस भुसावल को मिल रही थी. इन जानकारियों के आधार पर रेलवे सुरक्षा बल और रेलवे पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए भुसावल की एक सामाजिक संस्था का सहयोग लेकर दानापुर-पुणे एक्सप्रेस ट्रेन के भुसावल पहुंचते ही ट्रेन की अच्छी तरह से तलाशी शुरू की.इस तलाशी में 8 से 15 साल के 29 बच्चों को रेलवे सुरक्षा बल ने अपने कब्जे में लिया. इन्हें नीचे उतारा गया. बच्चों के साथ एक संदिग्ध को भी रेलवे सुरक्षा बल उतार कर पुलिस थाने ले गए.

Advertisement

मनमाड में उतारे गए बच्चे नासिक के उंटवाड़ी बालसुधार गृह भेजे गए

Advertisement

इसके बाद भुसावल से मनमाड के दरम्यान एक्सप्रेस में रेलवे सुरक्षा बल के कर्मचारियों की ओर से फिर तलाशी शुरू की गई. इस तलाशी मुहिम में और 30 बच्चे और 4 संदिग्ध मिले. इन्हें मनमाड रेलवे स्टेशन में उतारा गया. भुसावल में उतारे गए 29 बच्चे जलगांव के बाल सुधार गृह में भेजे गए और मनमाड में उतारे गए 30 बच्चे नासिक के बाल सुधार गृह भेजे गए. बच्चों का मेडिकल चेकअप किया गया है. पांचों संदिग्ध आरोपियों के खिलाफ भुसावल और मनमाड पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है. बच्चों के अभिभावकों के बारे में जानकारियां हासिल की जा रही हैं. इसके बाद उन्हें अभिभावकों को सुपुर्द करने की कारर्वाई शुरू की जाएगी.

Advertisement
Advertisement

Related posts

CBSE की 10वीं व 12वीं की परीक्षाएं स्थगित

Report Times

अशोक गहलोत के करीबी विधायक के दो बेटे रिश्वत लेते गिरफ्तार, एसीबी की बड़ी कार्रवाई

Report Times

गहलोत के तंज पर मंत्री पियूष गोयल का पलटवार: बोले – अपने विधायकों को ‘बिकाऊ’ कहते हैं सीएम; राज्यवर्धन बोले- दाएं हाथ से ‘जादू’ बाएं से घोटाला

Report Times

Leave a Comment