Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

वसुंधरा राजे की मुख्यमंत्री पद पर कमजोर होगी दावेदारी, तो BJP के इन 5 नेताओं की खिलेंगी बाछें

REPORT TIMES

Advertisement

राजस्थान का रण जीतने के लिए बीजेपी-कांग्रेस ने कमर कस ली है. वहीं बीजेपी इस बार राजस्थान के राज सिंहासन पर बैठने के दावे के साथ चुनावी गुणा-भाग में लगी हुई है. नफा-नुकसान को ध्यान में रखते हुए बीजेपी फूंक-फूंककर कदम रख रही है. राजस्थान चुनाव में बीजेपी गेम पलटने में कामयाब हो जाती है तो फिर उसे अपने सूरमाओं को सेट करना होगा, ताकि पार्टी को चुनाव में उसका खामियाजा न भुगतना पड़े.राजस्थान में बीजेपी कांग्रेस से सत्ता छीनने में कामयाब हो पाती है तो मौजूदा राजस्थान की राजनीतिक तस्वीर में कई दावेदार खड़े हैं. राजनीतिक पंडितों का कहना है कि अगर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा की दावेदारी जरा सी भी कमजोर होगी तो राज्य में मुख्यमंत्री के अन्य दिग्गज दावेदारों की बाछें खिल जाएंगी. डालते हैं एक नजर बीजेपी के उन दिग्गजों पर जो वसुंधरा के बाद लाइन में तैयार खड़े हैं.

Advertisement

Advertisement

1. राजेंद्र राठौड़

Advertisement

नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ को केंद्रीय नेतृत्व ने राजस्थान में नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी दी हुई है. राठौड़ पार्टी में अपनी बात रखने में माहिर हैं.राठौड़ आलाकमान के करीबी माने जाते हैं. नेता प्रतिपक्ष की जिम्मेदारी मिलने के बाद बीते दिनों राजेंद्र राठौड़ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की थी. राठौर भी राजस्थान में सीएम चेहरे के लिए प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं.

Advertisement

2. सतीश पूनिया

Advertisement

सतीश पूनिया भी दिग्गज दावेदारों की कतार में खड़े माने जाते हैं.बीजेपी में बैर के कारण सतीश पूनिया को अपना नेता प्रतिपक्ष का पद गंवाना पड़ा था. तब राज्यसभा सांसद किरोडी लाल मीणा ने नाराजगी,, जताई थी. प्रदर्शन में बीजेपी नेताओं के शरीक नहीं होने के कारण केंद्रीय नेतृत्व से शिकायत की थी. हालांकि सतीश पुनिया कार्यकाल खत्म होने का बार-बार हवाला दे रहे थे.

Advertisement

3. किरोड़ी लाल मीणा

Advertisement

किरोड़ी लाल मीणा वसुंधरा राजे गुट से आते हैं. लेकिन बीते दिनों जिस तरह किरोडी लाल मीणा धरने प्रदर्शन कर रहे हैं तो आलाकमान की निगाहें किरोडी लाल मीणा पर बनी हुई हैं. किरोडी लाल मीणा की शिकायत के बाद ही प्रदेश अध्यक्ष के पद का बदलाव हुआ था.

Advertisement

4. सीपी जोशी

Advertisement

वसुंधरा राजे गुट से बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी भी आते हैं. प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद जोशी ने राजे का आभार जताया था. सीपी जोशी चित्तौड़गढ़ से आते हैं. संघ में सक्रियता के कारण ही केंद्रीय नेतृत्व ने सीपी जोशी को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी थी.

Advertisement

5. केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत

Advertisement

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी इस बार मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में नजर आ रहे हैं. राजस्थान के मुद्दों पर नजर बनाई हुई है.  शेखावत बीते 1 साल से राजस्थान के मुद्दों पर लगातार बयान बाजी कर रहे हैं. इस बार बीजेपी आलाकमान केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के चेहरे पर भी मोहरलगा सकता है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

संजीवनी मुहूर्त में होगा संपन्न राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह, 7 दिन चलेगा अनुष्ठान

Report Times

6 MINS AGO Lexus भारतीय इलेक्ट्रिक कार बाजार में लाएगी क्रांति, लग्जरी मार्केट का 56 प्रतिशत हिस्सा कवर करने की तैयारी!

Report Times

CBI जांच के लिए हूं तैयार…’सवाल के बदले कैश’ आरोप पर महुआ मोइत्रा का जवाब

Report Times

Leave a Comment