Report Times
latestOtherकरियरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिस्पेशलहरियाणा

BJP-JJP में दुष्यंत चौटाला की सीट को लेकर तकरार, डिप्टी सीएम बोले- फिर उचाना से लडूंगा

REPORT TIMES 

Advertisement

जींद: हरियाणा में भले ही जेजेपी और बीजेपी गठबंधन की सरकार हो, लेकिन दोनों ही पार्टियों के बीच तकरार बढ़ती जा रही है. दोनों पार्टी आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ लड़ेगी इस को लेकर तस्वीर अभी साफ नहीं है. इसी बीच खबर आ रही है कि जेजेपी कोटे से डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की जींद जिले में आने वाली उचाना विधानसभा सीट को लेकर सियासी बवाल मचा हुआ है.पूरा मामला शुरू हुआ रविवार को जींद में भारतीय जनता पार्टी के एक कार्यक्रम से. इस कार्यक्रम के दौरान हरियाणा के प्रदेश प्रभारी विप्लव देव ने शिरकत की.उन्होंने अपने संबोधन के दौरान कहा कि बीजेपी नेता चौधरी बीरेंद्र सिंह की पत्नी प्रेमलता को उचाना सीट से उम्मीदवार घोषित कर दिया और कार्यकर्ताओं से कहा कि इस बीच उचाना से प्रेमलता जी को ही विधायक बनाकर भेजना है. पिछले विधानसभा चुनाव में भी प्रेमलता ने उचाना विधानसभा सीट से ही बीजेपी की टिकट पर चुनाव लड़ा था, लेकिन वो जेजेपी उम्मीदवार दुष्यंत चौटाला से चुनाव हार गई थी. हालांकि चुनाव के बाद दोनों पार्टियों में सरकार बनाने को लेकर गठबंधन हो गया था.

Advertisement

Advertisement

फिर उचाना से चुनावी मैदान में उतरेंगे विप्लव देव

Advertisement

इसका जवाब दुष्यंत चौटाला ने भी अपने ही अंदाज में दिया. उन्होंने कहा कि वो उचाना से ही चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे और उसके बाद डिप्टी सीएम बने हैं, और आने वाले विधानसभा में फिर उचाना से ही चुनाव मैदान में उतरेंगे और इसे लेकर अगर किसी को पेट में दर्द होता है तो होता रहे. दुष्यंत चौटाला के बयान पर बीजेपी नेता विप्लव देव ने कहा कि प्रदेश में सरकार बनाने के लिए जेजेपी ने अगर बीजेपी को समर्थन दिया तो कोई एहसान नहीं दिया किया है. इसके बदले में जेजेपी के विधायकों को मंत्री पद दिए गए और वो सरकार में सहयोगी रहे हैं और सत्ता का सुख भी उठा रहे हैं.

Advertisement

हरियाणा शुगरफेड के चेयरमैन ने दिया इस्तीफा

Advertisement

हरियाणा शुगरफेड के चेयरमैन और शाहबाद से जेजेपी के विधायक रामकरण काला ने शुगरफेड के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने किसानों पर लाठीचार्ज और एमएसपी पर किसानों से सूरजमुखी की फसल ना खरीदे जाने के मुद्दे पर नाराजगी जताई है. उन्होंने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री मनोहर लाल को भेज दिया है. साथ ही उन्होंने कहा कि किसानों के साथ बर्बरतापूर्ण व्यवहार किया गया है. जबकि बीचचीत के जारिए भी चीजें सुलझाई जा सकती थी. बता दें कि लोकसभा चुनाव से ठीक पहले हरियाणा सीएम मनोहर लाल और डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला दोनों ही अपने पार्टियों के लिए प्रचार करने के लिए मैदान में जुटे है. लेकिन दोनों ही पार्टियों के नेता जिस तरह बयानबाजी कर रहे है उसको देखकर लग रहा है आने वाले चुनाव में इनका गठबंधन होना मुश्किल है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

तीन साल में गायब हुईं 13 लाख लड़कियां-महिलाएं, मध्य प्रदेश से सबसे ज्यादा, सरकार ने संसद में बताया

Report Times

इंस्टाग्राम में शेयर किया अश्लील वीडियो, 3 थानों में दर्ज हुआ मामला; इंदौर पुलिस ने शुरू की धरपकड़

Report Times

मौसम विभाग ने जारी किया भारी बारिश का अलर्ट, 13 जिलों में भारी बारिश की संभावना

Report Times

Leave a Comment