Report Times
latestOtherआक्रोशकरियरकार्रवाईटॉप न्यूज़ताजा खबरेंसिनेमास्पेशल

राम-सीता को मानने वाले फिल्म नहीं देख पाएंगे, प्रोड्यूसर को बुलाना पड़ेगा- आदिपुरुष पर HC सख्त

REPORT TIMES

Advertisement

आदिपुरुष’ फिल्म पर बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है. इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में फिल्म के खिलाफ दायर याचिका पर आज भी सुनवाई हुई. इस दौरान हाई कोर्ट ने फिल्म पर कड़ी नाराजगी जताते हुए कहा कि भगवान राम, भगवान हनुमान और माता सीता को मानने वाले लोग इस फिल्म को देख नहीं पाएंगे. कोर्ट ने साफ कहा कि फिल्म प्रोड्यूसर को हाजिर होना पड़ेगा.इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में जस्टिस राजेश सिंह चौहान और जस्टिस श्रीप्रकाश सिंह की बेंच ने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि यह बैक टू बैक चल रहा है, कुछ न कुछ कर रहे हैं, प्रोड्यूसर को बुलाना ही पड़ेगा. कोर्ट ने डिप्टी एसजीआई से पूछा कि जिन सीन पर विवाद है.. क्या वो फिल्म का हिस्सा हैं या नहीं?कोर्ट ने कहा कि हमने फिल्म नहीं देखी नहीं है, लेकिन जिन्होंने देखी है, उन्होंने गंदा फीडबैक दिया, मूवी 16 जून को रिलीज हुई है, जब तब कुछ नहीं हुआ तो 3 दिन में क्या होगा लेकिन हम फिर भी छुट्टी में सुनवाई कर रहे हैं, जो होना था वो हो गया और अच्छा हुआ कुछ बुरा नहीं हुआ, कई लोगों ने अभी तक मूवी नहीं देखी है.

Advertisement

Advertisement

फिल्म को सर्टिफाई करने वाले धन्य हैं’

Advertisement

बेंच ने कहा कि भगवान राम, भगवान हनुमान और माता सीता को मानने वाले लोग इस फिल्म को देख नहीं पाएंगे, आप कह रहे हैं कि संस्कार वाले लोगों (सेंसर बोर्ड) ने इस मूवी को सर्टिफाई किया है, जहां रामायण के बारे में ऐसा दिखाया गया है तो वो लोग ध्नय हैं, हम ऐसा कुछ नहीं करेंगे जो एक्ट के बाहर हो.

Advertisement

‘प्रोड्यूसर को यह कंटेंट मिला कहां से?’

Advertisement

हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने सुनवाई के दौरान कहा कि इस याचिका में जिन भावनाओं की बात की गई है, हम भी मानते हैं कि उनकी भावनाएं आहत हुई हैं, प्रोड्यूसर को यह कंटेंट मिला कहां से? आज हम चुप हो गए तो जानते हैं कि क्या होगा? यह सब बढ़ रहा है, मैंने एक मूवी देखी थी जिसमें भगवान शंकर त्रिशूल लेकर भाग रहे हैं, उनको फनी दिखाया गया है, अब यही सब होगा क्या?

Advertisement

‘किसी धर्म के पवित्र ग्रंथ को मत टच कीजिए’

Advertisement

डिप्टी एसजीआई से कोर्ट ने पूछा कि ऐसी पिक्चर को आप कैसे डिफेंड करेंगे? यह एक ब्लंडर है, मैं इसलिए कहता हूं कि पवित्र ग्रंथ को मत टच कीजिए, कोर्ट किसी धर्म की नहीं है, सारे लोगों की है, सबके सेंटीमेंट्स को ध्यान रखा जाएगा, आप लोगों को कुरान-बाइबिल को भी नहीं टच करना चाहिए, मैं यह क्लियर कर दूं कि किसी एक धर्म को टच मत करिए, आप लोग किसी भी धर्म के बारे में गलत तरीके से न दिखाइए.

Advertisement

‘भगवान को ऐसे फनी तरीके से क्यों दिखाना?’

Advertisement

बेंच ने कहा कि हमें समझ में नहीं आ रहा है कि फिल्म वालों को क्या सूझा जो भगवान को ऐसे दिखाते हैं… अरे छोड़ दो कुछ लोगों को, भगवान को ऐसे फनी तरीके से क्यों दिखाना? फिल्ममेकर को तो सिर्फ पैसे कमाने हैं क्योंकि पिक्चर हिट हो जाती है, कभी कुरान पर गलत तथ्यों के साथ शार्ट डॉक्यूमेंट्री बनाते तो देखते क्या होता.

Advertisement
Advertisement

Related posts

रेलवे स्टेशन पर सो रही प्रेग्नेंट औरत को दरिंदों ने घसीटा, तीन बच्चों और पति के सामने किया सामूहिक बलात्कार

Report Times

SBI ने सीनियर सिटीजन के लिए शुरू की ये खास योजना, जानिए कितना मिल रहा ब्याज?

Report Times

राजस्थान में बड़ी नौकरी के लिए करें आवेदन

Report Times

Leave a Comment