Report Times
latestOtherखेलटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशस्पेशल

सिर्फ 37 गेंदों में एशियन चैंपियन बना भारत, सिराज ने अकेले किया श्रीलंका का काम तमाम

REPORT TIMES 

Advertisement

भारत ने 5 साल के इंतजार के बाद एशिया कप पर फिर से कब्जा कर लिया है. कोलंबो के आर प्रेमदासा स्टेडियम में रविवार 17 सितंबर को भारत और श्रीलंका के बीच ऐसा फाइनल हुआ, जिसकी उम्मीद किसी ने नहीं की थी. किसी भी क्रिकेट टूर्नामेंट के इतिहास में शायद ही ऐसा एकतरफा फाइनल देखने को मिला हो, जैसा ये फाइनल था. मोहम्मद सिराज (6/21) के अब तक के सबसे हैरतअंगेज स्पैल ने श्रीलंका को ऐसा तबाह किया कि पूरी टीम 92 गेंदों में ही सिर्फ 50 रन पर ढेर हो गई. जाहिर तौर पर टीम इंडिया ने बिना किसी परेशानी के 10 विकेट से ये मैच और खिताब अपने नाम कर लिया. कोलंबो में एशिया कप के सुपर-4 राउंड के सभी मुकाबलों की तरह फाइनल में भी बारिश का खतरा मंडरा रहा था लेकिन शुरुआत के 15-20 मिनट की बूंदा-बांदी के बाद सिर्फ एक ही चीज बरसी- वो थी भारतीय तेज गेंदबाजों की आग. शुरुआत जसप्रीत बुमराह और अंत हार्दिक पंड्या ने किया लेकिन असली कहानी तो बीच में लिखी गई और ये काम किया मोहम्मद सिराज ने, जिन्होंने न सिर्फ अपने करियर की बल्कि भारतीय क्रिकेट के इतिहास की भी सबसे घातक गेंदबाजी का नजारा पेश किया और अकेले ही श्रीलंका को ध्वस्त कर दिया.

Advertisement

Advertisement

सिराज ने अकेले किया ध्वस्त

Advertisement

टॉस जीतकर श्रीलंका के कप्तान दासुन शनाका ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था जो थोड़ा चौंकाने वाला था. फिर बारिश के कारण करीब 40 मिनट की देरी से मुकाबला शुरू हुआ. जैसे ही मैच शुरू हुआ, सिर्फ भारतीय पेसरों का जलवा दिखा. पहले ओवर में ही जसप्रीत बुमराह ने कुसल परेरा का विकेट हासिल कर लिया था. बुनियाद यहीं से बन गई थी और फिर चौथे ओवर में हुआ असली खेल, जब सिराज ने एक या दो नहीं, बल्कि 4 श्रीलंकाई बल्लेबाजों को निपटा दिया. फिर अगले ही ओवर में सिराज ने अपना पांचवां विकेट भी हासिल कर लिया. छठे ओवर तक ही सिर्फ 12 रन पर श्रीलंका के 6 विकेट गिर गए थे और नतीजा तय नजर आ रहा था. कुसल मेंडिस और दुशान हेमंता ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके, जिसके कारण श्रीलंका किसी तरह 50 का आंकड़ा छू पाई. ये उसका भारत के खिलाफ वनडे में सबसे छोटा स्कोर भी रहा. हार्दिक ने 16वें ओवर की शुरुआती दो गेंदों में ही आखिरी दो विकेट हासिल किये.

Advertisement

रिकॉर्ड अंतर से जीत, आठवीं बार चैंपियन

Advertisement

बैटिंग की जहां तक बात है, जीत तय थी इसलिए कप्तान रोहित शर्मा खुद ओपनिंग के लिए नहीं आए और शुभमन गिल के साथ ओपनिंग के लिए इशान किशन को भेजा. दोनों ने ही ज्यादा वक्त नहीं लिया और सिर्फ 37 गेंदों में (6.1 ओवर) टीम को जीत तक पहुंचा दिया. इस तरह भारत ने 263 गेंद पहले जीत अपने नाम कर ली, जो इस तरह से उसकी सबसे बड़ी जीत है. इससे पहले भारत ने केन्या के खिलाफ 231 गेंद रहते हुए जीत दर्ज की थी. साथ ही टीम इंडिया ने रिकॉर्ड आठवीं बार एशिया कप का खिताब अपने नाम किया, जिसमें से 5वीं बार श्रीलंका को फाइनल में हराकर जीत दर्ज की.

Advertisement
Advertisement

Related posts

अलवर मॉब लिंचिंग केस: 5 साल बाद कोर्ट ने सुनाया फैसला, 4 आरोपी दोषी करार; मिली 7 साल की सजा; एक बरी

Report Times

12 देशों की वायु सेना आएगी भारत, IAF के साथ करेगी संयुक्त अभ्यास

Report Times

जीवनी इंटरनेशनल स्कूल में कर्तव्य बोध सह सम्मान का आयोजन

Report Times

Leave a Comment