Report Times
latestOtherकरियरजम्मू कश्मीरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशराजनीतिस्पेशल

जम्मू कश्मीर पर BJP का पूरा फोकस, PM मोदी और शाह करेंगे दौरा

REPORT TIMES 

Advertisement

जम्मू कश्मीर पर केंद्र में सरकार संभालते ही बीजेपी के आकर्षण और फोकस का एक केंद्र रही है. साल 2014 में बाढ़ प्रभावितों की सहायता से शुरू कर 2019 में धारा 370 के हटाए जाने के बाद भी बीजेपी इस केंद्र प्रशासित प्रदेश को अपनी प्राथमिकता सूची में कुछ राज्यों की तरह ही महत्वपूर्ण जगह देती आ रही है और अब देश में चुनावों के मद्दे नजर बीजेपी इस फोकस को अधिक मजबूत करने की रणनीति बनाती हुई नजर आ रही है. हाल ही में गृह मंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर की बीजेपी इकाई के बड़े नेताओं से दिल्ली में मुलाकात की और सूत्रों की माने तो इस बैठक में विशेष इसी बात पर जोर दिया गया कि जम्मू समेत कश्मीर में बीजेपी को कैसे मजबूत बनाया जाए. बीजेपी जम्मू कश्मीर को लेकर देश में आम चुनावों के मद्दे नजर पूरे ताकत के साथ चुनावी मैदान में उतरने की तयारी में हैं और इसी के चलते सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस केंद्र प्रशासित प्रदेश के 2 बड़े दौरे करेंगे.

Advertisement

Advertisement

पीएम और शाह करेंगे जम्मू-कश्मीर का दौरा

Advertisement

साथ ही साथ आने वाले तीन महीनों में गृहमंत्री अमित शाह 4 बार संभावित दौरा करेंगे. प्राप्त जानकारी के अनुसार इसका उद्देश्य जम्मू कश्मीर में बीजेपी की साख और पहचान को अधिक मजबूत करना है. सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री के दौरे एक दिवसीय होंगे, जबकि ग्रह मंत्री के दौरे दो से तीन दिवसीय भी होने की संभावना हैं, जिनके बीच वह बीजेपी के लिए कैंपेन और साथ ही साथ कुछ विकास कार्यों समेत वेलफेयर योजनाओं की भी घोषणा करेंगे.

Advertisement

बीजेपी संगठन को मजबूत बनाने की कोशिश

Advertisement

सूत्रों के अनुसार गृह मंत्री द्वारा इन दौरों की हामी मिली हैं पर प्रधानमंत्री के दौरों की संभावना अभी तक देखी जा रही है. जम्मू कश्मीर बीजेपी इकाई को उम्मीद है कि गृह मंत्री के जम्मू कश्मीर दौरों की शुरुआत अक्टूबर से शुरू होगी और प्रधानमंत्री के संभाविक दौरे या तो नवंबर या दिसंबर से शुरू होंगे. प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री और केंद्रीय गृह मंत्री के दौरा का मुख्य उद्देश्य इस केंद्रशासित प्रदेश के लोगों में विश्वास पैदा करना है और इसके साथ ही संगठन को मजबूत करना है, ताकि आने वाले चुनाव में लोगों की भागीदारी हो और लोग बड़ी संख्या में चुनाव में हिस्सा ले सकें.

Advertisement
Advertisement

Related posts

लोकसभा चुनाव 2024: गिरिडीह सीट से इकलौते सांसद थे बिंदेश्वरी दुबे, जो बने केंद्र में मंत्री

Report Times

नीमकाथाना जिले के गांव खरखड़ा में बकरी चरा रही एक महिला पर एक पैंथर ने किया हमला

Report Times

Leave a Comment