Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजस्थानरेलवेस्पेशल

वंदे भारत को डिरेल करने की साजिश, ट्रैक पर मिले पत्थर और लोहे की कड़ियां

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान के उदयपुर जिले में सोमवार को बड़ा ट्रेन हादसा होते-होते बच गया. यह हादसा हाल ही में शुरू में हुई वंदे भारत ट्रेन के साथ हो सकता था. उदयपुर-जयपुर के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 24 सितंबर को वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया था. इसके बाद वंदे भारत एक्सप्रेस 24 सितंबर से लगातार उदयपुर मार्ग पर चल रही है. सोमवार को वंदे भारत जयपुर से वापस उदयपुर आ रही थी. तभी रेल की पटरियों पर बड़ी संख्या में पत्थर और लोहे की कड़ियां रख दी गईं. वंदे भारत ट्रेन को डिरेल करने की कोशिश की गई. इस रूट में वंदे भारत ट्रेन को शुरू हुए अभी 10 दिन हुए हैं. यह तीसरी बार है जब वंदे भारत ट्रेन बड़े हादसे का शिकार होने से बची है. ट्रायल के दौरान भी एक मवेशी ट्रेन से टकरा गया था. ट्रेन के आगे के पार्ट्स को नुकसान हुआ था. उसके 2 दिन बाद ही ट्रेन के बोगी का किसी ने कांच को तोड़ दिया था. उसके बाद अब ट्रेन की पटरी पर पत्थर और लोहे की कड़ियां रखकर ट्रेन को डिरेल करने की कोशिश की गई.

Advertisement

Advertisement

कुछ देर पत्थरों पर चलाने के बाद ट्रेन को रोका

Advertisement

सोमवार को सुबह जब अपने समय से वंदे भारत एक्सप्रेस उदयपुर से रवाना हुई, जो मावली-चित्तौड़गढ़ से होते हुए सुबह 9:55 बजे गंगरार से आगे सोनीयाना स्टेशन के बीच ट्रेन की पटरी पर पत्थर और लोहे की कड़ियां मिली. जिस पर कुछ पर तो ट्रेन चली लेकिन ट्रेन चालक की सूझबूझ रही कि कुछ ही दूर तक ट्रेन चलने के बाद तुरंत ट्रेन को रोक दिया गया. नीचे उतर कर देखा तो पटरी पर लोहे के कड़ियां और पत्थर रखे हुए थे.

Advertisement

रेलवे के अधिकारियों ने पत्थरों को पटरी से हटाया

Advertisement

इस दौरान वंदे भारत एक्सप्रेस में बैठे यात्रियों में भी हड़कंप मच गया. इस घटना को लेकर संबंधित पुलिस और रेलवे विभाग और सीआरपीएफ को सूचना दी गई. मौके पर रेलवे विभाग के कर्मचारी पहुंचे. पत्थर और लोहे की कड़ियों को हटाया गया. इसके बाद फिर से वंदे भारत एक्सप्रेस को रवाना किया गया.

Advertisement

जीआरपीएफ पुलिस जांच में जुटी

Advertisement

ट्रेन को रवाना करने के बाद रेलवे पुलिस भी मामले की जांच में जुट गई है कि आखिर पटरी पर पत्थर और कड़ियां किसने रखी? रेलवे के आला अधिकारी भी मामले की गहनता से जांच में लगे हुए हैं. रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Advertisement
Advertisement

Related posts

डा. लाम्बा ने बीसीएमओ का संभाला कार्यभार

Report Times

दो लोगों की मौत मामले में पटना हाईकोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान

Report Times

भारत में जब नहीं थे बिजली के पंखे तो कैसे छत से लटके कपड़ों के पंखों से लेते थे हवा

Report Times

Leave a Comment