Report Times
latestOtherअलवरकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजस्थानस्पेशल

राजस्थान: हनी ट्रैप मामले में बड़ा खुलासा, कांस्टेबल ही बताता था जाल में फंसाने के तरीके

REPORT TIMES 

Advertisement

अलवर। कुम्हेर एसएचओ और जोबनेर थाने के कांस्टेबल को हनी ट्रैप के जाल में फंसाने वाले गिरोह में भरतपुर के खोह थाने का कांस्टेबल विनोद कुमार भी शामिल है। कांस्टेबल विनोद ही गिरोह की महिलाओं को पुलिसकर्मियों को हनी ट्रैप के जाल में फंसाने का तरीका बताता था और शिकार जाल में फंसने के बाद महिलाओं को गाइड कर पुलिसकर्मियों से मोटी रकम ऐंठता था। अरावली विहार थाना पुलिस ने आरोपी कांस्टेबल को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। वहीं, कुम्हेर थाने के हैडकांस्टेबल गंगाधर से भी पूछताछ की जा रही है।

Advertisement

पुलिस जांच में सामने आया है कि कांस्टेबल विनोद कुमार हनी ट्रैप गिरोह का सदस्य था। कांस्टेबल ने खुद के नाम से बैंक लोन लेकर गिरोह की महिलाओं को अलवर में रामानंद कॉलोनी में मकान दिलाया हुआ था। इसी मकान से पूरा गिरोह हनी ट्रैप को नेटवर्क चलाता था। कांस्टेबल विनोद ही गिरोह की महिलाओं को पुलिसकर्मियों के नाम और मोबाइल नम्बर आदि देता था और उन्हें हनी ट्रैप के जाल में फंसाने का टास्क देता था। जाल में फंसने के बाद पुलिसकर्मियों को धमकाने, रकम की डिमांड करने तथा रकम नहीं देने पर बलात्कार का केस दर्ज कराने की सलाह देता था। उधर, जिला पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा का कहना है कि हनी ट्रैप गिरोह में शामिल कांस्टेबल विनोद कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में कुम्हेर थाने के हैडकांस्टेबल गंगाधर से भी पूछताछ की जा रही है, लेकिन अभी हैडकांस्टेबल की भूमिका सामने नहीं आई है।

Advertisement

अब हैडकांस्टेबल ने दर्ज कराई FIR

Advertisement

हनी ट्रैप गिरोह के खिलाफ अब तीसरी एफआइआर जयपुर कमिश्नरेट के हैडकांस्टेबल रमेशचंद ने एनईबी थाने में दर्ज कराई है। जिसमें लिखा है कि आरोपी महिला वर्ष 2017 उसके मकान में किराए पर रहती थी। जिसने बलात्कार का झूठा केस दर्ज करा उससे 12 लाख रुपए हड़प लिए थे। उल्लेखनीय है कि आरोपी महिला ने एएसआई रामजीत गुर्जर के सहित तीन जनों के खिलाफ बलात्कार, दो जनों के खिलाफ छेड़छाड़ और अपने पति के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज करा चुकी है।

Advertisement

यह है प्रकरण

Advertisement

उल्लेखनीय है कि कुम्हेर एसएचओ महेन्द्र राठी और जोबनेर थाने के कांस्टेबल रोहिताश रैगर को एक महिला ने हनी ट्रैप के जाल में फंसा एक करोड़ रुपए ऐंठ लिए थे। दोनों पुलिसकर्मियों ने सोमवार को घटना के सम्बन्ध में अरावली विहार थाने में एफआइआर दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी तीन बहन और उनके भाई को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया। जिन्हें पुलिस रिमांड पर लेकर गहनता से पूछताछ की जा रही है।

Advertisement
Advertisement

Related posts

हनुमान बेनीवाल ने राजस्थान के लिए दिल्ली का मोह छोड़ा, सांसदी से दिया इस्तीफा; खींवसर के विधायक बनकर करेंगे काम

Report Times

जिला स्तरीय स्थायी समिति का गठन

Report Times

मानवी 99 गिफ्ट सेंटर का शुभारंभ 

Report Times

Leave a Comment