Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

आखिरकार महेंद्रजीत सिंह मालवीया ने कांग्रेस का ‘हाथ’ छोड़कर भाजपा का ‘कमल’ थाम लिया, सीपी जोशी ने पार्टी का दुपट्टा पहनाकर औपचारिक रूप से दिलाई सदस्यता

REPORT TIMES

Advertisement

राजस्थान की राजनीति के वरिष्ठतम नेताओं में से एक महेंद्रजीत सिंह मालवीया ने आखिरकार कांग्रेस का ‘हाथ’ छोड़कर भाजपा का ‘कमल’ थाम लिया है। जयपुर स्थित प्रदेश भाजपा मुख्यालय में एक प्रेसवार्ता के दौरान भाजपा प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह और प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने मालवीया को पार्टी का दुपट्टा पहनाकर औपचारिक रूप से सदस्यता दिलाई और स्वागत किया। इसी के साथ मालवीया को लेकर पिछले तीन-चार दिन से चल रही चर्चाओं और अटकलों का दौर थम गया।

Advertisement

‘मेरी घर वापसी हुई’

Advertisement

भाजपा ज्वाइन करने के बाद अपने पहले उद्बोधन में महेन्द्रजीत सिंह मालवीया ने कहा कि भाजपा में शामिल होना मेरी घर वापसी है। उन्होंने अब तक के अपने राजनीतिक सफर की जानकारी देते हुए कहा कि उन्होंने छात्र राजनीति भाजपा के ही छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के कार्यकर्ता के तौर पर शुरू की थी। कॉलेज शिक्षा के दौरान उन्होंने एबीवीपी के बैनर तले कई महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारियों का निर्वहन किया।

Advertisement

Advertisement

‘हिन्दुस्तान की ताकत-छवि बढ़ी’

Advertisement

मालवीया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा की रीती-नीति की जमकर तारीफ़ की। उन्होंने कहा कि राजस्थान में ‘डबल इंजन’ की सरकार बनने के साथ ही देश-दुनिया में जो हिंदुस्तान की जो ताकत और छवि बढ़ी है, वो वाकई प्रभावित करने वाली है। हिंदुस्तान पहले कहां था और अब कहां पहुंच गया है। इसके पीछे भारतीय जनता पार्टी की नीतियां और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विज़न झलकता है।

Advertisement

‘विकास कार्य हो सकेंगे’

Advertisement

मालवीया ने अपने क्षेत्र में विकास की उम्मीद जताते हुए कहा कि भाजपा में शामिल होने के बाद वागड़ क्षेत्र का विकास हो सकेगा। हमसे सटे गुजरात और मध्य प्रदेश की मदद से ग्रामीण अंचलों में विकास हो सकेगा।

Advertisement

‘मोदी-नड्डा भाषण से प्रभावित’

Advertisement

मालवीया ने रविवार को नई दिल्ली में आयोजित भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन का भी ज़िक्र किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अधिवेशन में जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का उद्बोधन हुआ, उसे सुनकर हम सभी के रोंगटे खड़े हो गए। उनके भाषण को ना सिर्फ देश देख रहा था, बल्कि दुनिया के देश देख रहे थे कि हिंदुस्तान की क्या ताकत है? इन्हीं सब बातों से प्रभावित होकर एक बार फिर अपने पुराने घर भारतीय जनता पार्टी में ज्वाइन कर रहा हूँ।

Advertisement

‘राम मंदिर का बहिष्कार सही नहीं’

Advertisement

भाजपा का दामन थामने के बाद दिए उद्बोधन में मालवीया ने राम मंदिर का भी ज़िक्र किया। उन्होंने कहा उन्होंने कहा, ‘मैं सनातन धर्म, मंदिर और देवी-देवताओं को मानने वाला व्यक्ति हूं। ऐसे में कांग्रेस पार्टी ने राम मंदिर के 22 तारीख को हुए प्रमाण प्रतिष्ठा महोत्सव में शामिल होने का बहिष्कार किया था वो सही नहीं लगा था।’

Advertisement

‘प्रधानमंत्री ने बढ़ाया मान’

Advertisement

मालवीया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में मानगढ़ धाम में आकर आदिवासियों, वहां रहने वाले साधु संत और वागड़ क्षेत्र का मान बढ़ाया है। वे पहले ऐसे प्रधानमंत्री रहे जिन्होंने मानगढ़ धाम आकर इस क्षेत्र का देश भर में गौरव बढ़ाने का काम किया है।

Advertisement
Advertisement

Related posts

शेखावाटी विश्वविद्यालय : बी.कॉम तृतीय वर्ष का परिणाम जारी

Report Times

आठवीं कक्षा की छात्रा से आठ आरोपियों ने किया दुष्कर्म, पैसे ना देने पर वायरल किया वीडियो

Report Times

नितिन गडकरी को फिर मिली जान से मारने की धमकी, इस बार दिल्ली निवास पर आया कॉल

Report Times

Leave a Comment