Report Times
latestOtherआक्रोशजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंभरतपुरराजस्थानस्पेशल

लोकसभा चुनाव से पहले राजस्थान में बढ़ी टेंशन! इस समाज ने आगामी लोकसभा चुनाव में मतदान का बहिष्कार करने का लिया निर्णय

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान के धौलपुर जिले में कुशवाहा समाज ने आरक्षण समेत अन्य मांगों को लेकर फिर से सरकार को अल्टीमेटम दे दिया है और अबकी बार आगामी लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है. कुशवाहा आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारियों को भरतपुर प्रशासन की ओर से 10 दिन का समय देकर सरकार से वार्ता कराने का आश्वासन मिला था. लेकिन सरकार की तरफ से 25 फरवरी तक वार्ता के लिए बुलावा नहीं आया, न ही कोई फैसला लिया गया.

Advertisement

Advertisement

लोकसभा चुनाव में मतदान का बहिष्कार

Advertisement

ऐसे में अब कुशवाहा आरक्षण संघर्ष समिति राजस्थान (KRSCR) के तत्वाधान में कुशवाहा जगाओ अभियान के तहत बारह फीसदी आरक्षण और 12 सूत्रीय मांगों को लेकर धौलपुर जिले के बसईनवाब कस्बे कुशवाहा समाज पंचायत का मंगलवार को आयोजन किया गया. पंचायत में आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने समाज के लिए बारह फीसदी आरक्षण और लव कुश कल्याण बोर्ड को वित्तीय दर्जा दिलवाने सहित बारह सूत्रीय मांगो को लेकर चर्चा की गई. पदाधिकारियों ने बताया कि सरकार की हठधर्मिता के चलते कुशवाहा समाज ने आज पंचायत में काफी चिंतन और मंथन करने के बाद लोकसभा चुनाव में समाज द्वारा मतदान का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है.

Advertisement

5 मार्च को तय होगी आंदोलन की रूपरेखा

Advertisement

साथ ही पांच मार्च को महापंचायत करने का निर्णय लिया है, जिसमें आंदोलन को लेकर अंतिम फैसला लिया जाएगा. पूर्व प्रधान रामहेत कुशवाहा ने बताया कि संभागीय आयुक्त और आईजी भरतपुर रेंज से भी वार्ता हुई थी. दोनों सक्षम अधिकारियों ने सरकार से वार्ता करवाने का आश्वासन दिया था. लेकिन किसी भी प्रकार का रिस्पांस नहीं मिला है. उन्होंने कहा समाज के पटेलों ने एक जाजम पर निर्णय लिया है. 5 मार्च को जिला मुख्यालय पर कुशवाहा समाज की महापंचायत आयोजित की जाएगी. कुशवाहा समाज अब उग्र आंदोलन अपनाएगा. आंदोलन की रूपरेखा तय कर 5 मार्च को ही कहां जाम लगना है, कहां हाईवे रोकने हैं, इसका निर्णय लिया जाएगा.

Advertisement

आंदोलन में महिलाएं भी निभाएंगी भागीदारी

Advertisement

कुशवाहा समाज के आंदोलन में समाज की महिलाएं भी भागीदारी निभाएंगी. बसई नवाब कस्बे में बैठक में भारी तादाद में महिलाएं भी शामिल हुई हैं. महिलाओं ने पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आरक्षण आंदोलन में सहयोग देने का निर्णय लिया है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

नीतीश के लिए उच्च प्रशंसा के साथ, पीएम मोदी ने संकेत दिया कि बिहार एनडीए में सब ठीक है

Report Times

Income Tax भरने वालों की हुई मौज, अब टैक्स में मिलेगी इतनी छूट, वित्त मंत्री बजट में करेंगी ऐलान!

Report Times

गहलोत सरकार का महिलाओं को तोहफा, 1 अप्रैल से रोडवेज की बसों में लगेगा आधा किराया

Report Times

Leave a Comment