Report Times
latestOtherकरियरटॉप न्यूज़तमिलनाडुताजा खबरेंदेशराजनीतिस्पेशल

तमिलनाडु में कांग्रेस-कमल हासन की पार्टी के साथ DMK की डील पक्की, इन सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

REPORT TIMES 

Advertisement

बीजेपी दक्षिण भारत में अपनी पकड़ बनाने को बेताव है. बीजेपी दक्षिण भारत में अपनी पूरी ताकत झोंक रही है. आंध्र प्रदेश में बीजेपी ने चद्रबाबू नायडू की पार्टी के साथ डील पक्की कर ली, तो दूसरी ओर कांग्रेस भी दक्षिण भारत में अपनी पकड़ को छोड़ना नहीं चाहती है. तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) ने कांग्रेस और फिल्म निर्माता कमल हासन की मक्कल निधि मय्यम के साथ सीट-बंटवारे का समझौता कर लिया है. हासन ने चेन्नई में डीएमके कार्यालय में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन और राज्य मंत्री उदयनिधि स्टालिन से भी मुलाकात की. हालांकि एमएनएम लोकसभा की किसी भी सीट पर चुनाव नहीं लड़ेगी. सूत्रों के मुताबिक तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी डीएमके के साथ कांग्रेस का सीट बंटवारा तय हो गया है. कमल हासन की टीम को भी सरप्राइज के तौर पर एक सीट मिल गई.

Advertisement

Advertisement

सीएम स्टालिन के साथ कमल हासन ने की बैठक

Advertisement

कांग्रेस इंडिया अलायंस को सामने रखकर दक्षिण भारत में वोट बैंक बनाना चाहती है. कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली सूची शुक्रवार को जारी की गई. देखने में आया है कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी केरल के वायनाड से चुनाव लड़ने जा रहे हैं. शशि थरूर तिरुवनंतपुरम से चुनाव लड़ेंगे. तमिलनाडु में मुख्यमंत्री एमके स्टालिन की पार्टी डीएमके और कांग्रेस के बीच सीटों के बंटवारे पर अंतिम सहमति शनिवार को बन गई. इस गठबंधन में उनकी पार्टी मक्कल निधि मय्यम भी चुनाव लड़ेगी. उनके लिए सीटें भी जारी कर दी गई हैं. बता दें कि डीएमके लंबे समय तक कांग्रेस की साझेदार रही है. 2019 के लोकसभा चुनाव और 2021 के विधानसभा चुनाव में डीएमके और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. डीएमके पिछले साल बने इंडिया अलायंस का भी सदस्य है.

Advertisement

जानिए कितनी सीटों पर हुआ बंटवारा?

Advertisement

तमिलनाडु में कुल 39 निर्वाचन क्षेत्र हैं. इसमें से कांग्रेस 9 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. कमल हासन की पार्टी सिर्फ 1 सीट पर चुनाव लड़ने जा रही है. बाकी सीटों पर डीएमके लड़ेगी. पिछले चुनाव में विपक्षी गठबंधन ने शानदार प्रदर्शन किया था. डीएमके-कांग्रेस, सीपीआई, सीपीआईएम गठबंधन ने 39 में से 38 सीटें जीती थी. डीएमके ने 24 सीटें जीती थी. कांग्रेस ने 8 सीटें जीती थी. सीपीआई और सीपीआईएम ने दो-दो सीटें जीती थी. बता दें कि तमिलनाडु उन राज्यों में से एक है जहां भाजपा के नेतृत्व वाला एनडीए पिछले आम चुनावों में अच्छा प्रदर्शन करने में विफल रहा था.

Advertisement
Advertisement

Related posts

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत और चीन के सीमा विवाद में मध्यस्थता करने के लिए तैयार

Report Times

राजस्थान: बीजेपी की सत्ता वापसी के ये 6 किरदार, कौन होगा CM चेहरे का दावेदार?

Report Times

मोदी सरकार में 320 चीनी मोबाइल ऐप हुए बैन, चीन को हुआ कितना नुकसान? जानें यहां

Report Times

Leave a Comment