Report Times
Otherचिड़ावाझुंझुनूंटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशधर्म-कर्मप्रदेशराजस्थान

कृष्ण-रुक्मणि विवाह की कथा सुनाई, संत बोले- लीलाओं में श्री भी बनती है हरि की सहयोगी

reporttimes

चिड़ावा में कथाव्यास चित्रकूट की तुलसी पीठ के संत राजाराम महाराज ने यहां मंड्रेला रोड पर चल रही श्रीमद्भागवत कथा के छठे दिन कृष्ण रुक्मणि प्रसंग की विस्तार से व्याख्या की।

Advertisement

उन्होंने कहा कि हरि की लीला में हमेशा श्री की भागीदारी रही है यानी जब भी भगवान धरती पर आते हैं तो मां भगवती भी अवतरित होती है। राम के साथ सीता और कृष्ण के साथ रुक्मणि के रूप में भगवान की लीला में मां भगवती लीला में सहभागी बनी। महाराज ने कहा कि संसार चक्र ईश्वरीय लीला का हिस्सा है।

Advertisement

कथा से पहले मुख्य यजमान सुरेश जलिन्द्रा ने सपत्नीक भागवत व व्यास पूजन किया। इस मौके पर ओमप्रकाश,सुनीता, गौरव, सांवरमल, बिल्लू, राजकुमार, ज्ञानप्रकाश, प्रदीप, दिनेश, गीता देवी, मंजू सहित काफी संख्या में महिला व पुरुष श्रद्धालु मौजूद रहे।

Advertisement

इस दौरान कृष्ण-रुक्मणि विवाह की झांकी ने सभी का मन मोह लिया। कथा के दौरान राधाकिशोरी व हीरालाल द्वारा दी गई सुंदर भजनों की प्रस्तुति पर श्रद्धालु झूम उठे।

Advertisement
Advertisement

Related posts

मूसेवाला से गोगामेड़ी तक…जेल से रची गई मर्डर की साजिश और तमाशबीन बनी रही पुलिस

Report Times

किरोड़ी लाल ने इस शर्त पर स्थगित किया धरना, गहलोत सरकार से कैसे बनी सहमति?

Report Times

चिड़ावा में फाइनेंस कर्मचारी का पीछा कर की बड़ी लूट, अब दो दिन के पुलिस रिमांड पर आरोपी

Report Times

Leave a Comment