Report Times
latestOtherकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारटॉप न्यूज़ताजा खबरेंमहाराष्ट्र

‘काला जादू’ करते हुए 5 साल की मासूम बेटी को माता-पिता ने पीट-पीटकर मार डाला

REPORT TIMES

Advertisement

नागपुर:  महाराष्ट्र के नागपुर में पांच साल की एक बच्ची के माता-पिता ने ‘बुरी शक्तियों को भगाने के लिए’ बच्ची पर ‘काला जादू’करते हुए उसे पीट-पीट कर मार डाला. पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि यह घटना शुक्रवार-शनिवार की बीच रात की है. पुलिस ने बच्ची के पिता सिद्धार्थ चिमने (45), मां रंजना (42) और चाची प्रिया बंसोड़ (32) को गिरफ्तार किया है.

Advertisement

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सुभाष नगर निवासी चिमने यूट्यूब पर एक स्थानीय समाचार चैनल चलाता है. वह पिछले महीने गुरु पूर्णिमा पर अपनी पत्नी और पांच और 16 साल की दो बेटियों के साथ तकलघाट इलाके में एक दरगाह गया था. तब से व्यक्ति को अपनी छोटी बेटी के व्यवहार में कुछ बदलाव महसूस हो रहा था.

Advertisement

अधिकारी ने बताया कि पिता का मानना ​​था कि बच्ची पर ‘कुछ बुरी शक्तियों का साया’ है और उसने उन्हें दूर भगाने के लिए ‘काला जादू’ करने का फैसला किया गया.

Advertisement

लड़की के माता-पिता और चाची ने रात में ‘काला जादू’ करना शुरू किया और उसका वीडियो भी बनाया, जिसे बाद में पुलिस ने उनके फोन से बरामद कर लिया.

Advertisement

वीडियो में आरोपी रो रही लड़की से कुछ सवाल पूछते नज़र आ रहे हैं. अधिकारी ने बताया कि बच्ची सवालों को समझ नहीं पा रही थी.

Advertisement

अधिकारी ने बताया कि इसी दौरान तीनों आरोपियों ने बच्ची को कथित तौर पर बुरी तरह पीटा, जिसके बाद वह बेहोश होकर ज़मीन पर गिर पड़ी. इसके बाद आरोपी शनिवार सुबह बच्ची को एक दरगाह पर ले गए. बाद में, वे उसे सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल ले गए और वहां से भाग गए.

Advertisement

अधिकारी ने बताया कि अस्पताल के एक सुरक्षाकर्मी को उन पर संदेह हुआ और उसने अपने मोबाइल फोन पर उनकी कार की तस्वीर खींच ली.

Advertisement

उन्होंने बताया कि अस्पताल के चिकित्सकों ने बाद में बच्ची को मृत घोषित कर दिया और पुलिस को इसकी सूचना दी. वाहन पंजीकरण संख्या के आधार पर आरोपियों की पहचान की गई.

Advertisement

अधिकारी ने बताया कि राणा प्रताप नगर थाने के अधिकारी आरोपियों के घर पहुंचे और उन्हें गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और ‘महाराष्ट्र मानव बलि और अन्य अमानवीय, बुरी एवं अघोरी प्रथाओं और काला जादू रोकथाम अधिनियम’ के प्रासंगिक प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया.

Advertisement

Advertisement
Advertisement

Related posts

पीतांबरा मंदिर में दर्शन करने से रोका तो अखिलेश बोले- बीजेपी हमें शूद्र मानती है

Report Times

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया से मिले चिड़ावा व सूरजगढ़ कॉलेज के छात्रसंघ अध्यक्ष व एबीवीपी के कार्यकर्ता व अन्य कार्यकर्ता

Report Times

देवशयनी एकादशी बुधवार को, 5 माह मांगलिक कार्य वर्जित

Report Times

Leave a Comment