Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदिल्लीराजनीतिशुभारंभस्वास्थ्य-और-फिटनेस

PM मोदी ने फरीदाबाद में एशिया के सबसे बड़े निजी अस्पताल का किया उद्घाटन, फरिदाबाद से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी live

REPORT TIMES

Advertisement

फरीदाबाद औद्योगिक नगरी फरीदाबाद को बुधवार को अमृता अस्पताल (Amrita Hospital) के रूप में चिकित्सीय क्षेत्र की बड़ी सौगात मिली।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने हेलीकाप्टर से पहुंचकर अमृता अस्पताल का उद्घाटन किया है। इस दौरान उनके साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल, राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय, अमृतानंदमयी मठ की प्रमुख मां अमृता, केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर और उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला मौजूद रहे।

Advertisement

Advertisement

अस्पताल का निर्माण माता अमृतानंदमयी मिशन ट्रस्ट की ओर से किया गया है हालांकि इसे निजी क्षेत्र का ही माना जाएगा। लेकिन ट्रस्ट की प्रमुख आध्यात्मिक गुरु मां अमृतानंमयी की जिस तरह से सेवा भावना वाली छवि है, उसे देखते हुए इस अस्पताल का लाभ आर्थिक रूप से कमजोर जरूरतमंदों को बेहद रियायती दर पर देने की बात भी अस्पताल से जुड़े अधिकारियों द्वारा की जा रही है। इसका स्वरूप क्या होगा, यह आने वाले समय में पता चलेगा।  यह एशिया का सबसे बड़ा निजी अस्पताल है।

Advertisement

Advertisement

अस्पताल के रेजीडेंट मेडिकल निदेशक डा.संजीव के सिंह के अनुसार अम्मा यानी माता अमृतानंदमयी के आशीर्वाद से दो साल बाद अस्पताल में बेड की संख्या बढ़कर 750 और पांच साल में एक हजार बेड की हो जाएगी। इसमें 534 क्रिटिकल केयर बेड भी शामिल होंगे। फिर चरण दर चरण इसमें विस्तार करते हुए 2600 बेड का अस्पताल जनता को समर्पित होगा।

Advertisement

Advertisement

दिल्ली-एनसीआर के लोगों को होगा सबसे ज्यादा फायदा

Advertisement

अस्पताल प्रबंधकों के दावे पर यकीन करें, तो यह देश की नहीं बल्कि पूरे एशिया में सबसे बड़ा और आधुनिक अस्पताल होगा। इस अस्पताल के शुरू होने से दिल्ली-एनसीआर के लोगों को सबसे ज्यादा फायदा होगा, जिन्हें जरूरत पड़ने पर आधुनिक उपचार संबंधी सुविधाएं मिलेंगी।

Advertisement

मेडिकल निदेशक संजीव सिंह के अनुसार ट्रस्ट की ओर से पहले से ही 11 बड़े अस्पताल संचालित हैं और इनमें कोच्चि में सबसे बड़ा 1350 बेड का अस्पताल है। अब यह 2600 बेड का अस्पताल होगा।जरूरतमंदों को रियायती दर पर उपचार के बारे में मेडिकल निदेशक ने कहा कि देश भर में विभिन्न अस्पतालों में जरूरतमंदों व निर्धन वर्ग को निश्शुल्क चिकत्सीय सुविधाएं दी जाती हैं, पर उससे पहले इसकी जांच की जाती है कि संबंधित की पृष्ठभूमि क्या है और क्या वास्तव में उसको जरूरत है। अस्पताल का आंतरिक आडिट भी होता है, जिसमें डाक्टर क्या दवा लिखते हैं, इस पर भी नजर रखी जाती है।

Advertisement

प्वाइंट्स में जानें खास बातें-

Advertisement
  • फरीदाबाद के सेक्टर-88 में निर्मित अस्पताल 2600 बेड का होगा।
  • पहले चरण में 550 बेड की सुविधाओं के साथ शुरू होगा
  • इसमें सभी प्रमुख चिकित्सकीय सुविधाएं होंगी, जिसमें आर्कियोलाजी, कार्डियक साइंस, न्यूरो साइंस, गेस्ट्रो साइंस, रिनल, ट्रामा ट्रांसप्लांट, मदर एंड चाइल्ड केयर सहित 81 तरह की विशेष चिकित्सीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।
  • 24 अगस्त को प्रधानमंत्री के उद्घाटन के बाद अगले दिन इस अस्पताल में 550 बिस्तरों से इसकी शुरुआत हो जाएगी।

Advertisement

Related posts

कॉलेज के बाहर युवक को बीच रास्ते रोककर बदमाशों ने बाइक और मोबाइल छीना, 30 हजार मांगे, पुलिस में रिपोर्ट करने पर जान से मारने की दी धमकी

Report Times

वर्षा जल की हरेक बूंद को सहेजे : कम पानी वाली अधिक उपजाऊ किस्म की बुवाई की सलाह

Report Times

RPSC RAS Mains 2023 की परीक्षा स्थगित, जानें कब होगा एग्जाम

Report Times

Leave a Comment