Report Times
latestOtherकृषिटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

राजस्थान में फसली उपज का MSP खरीद रजिस्ट्रेशन आज से शुरू, ये डॉक्यूमेंट्स लगेंगे

REPORT TIMES

Advertisement

राजस्थान में राजफैड 1 नवंबर से सोयाबीन और 18 नवंबर से मूंगफली की खरीद समर्थन मूल्य पर करेगी। इसके लिए किसानों को आज 27 अक्टूबर पंजीकरण करवाना होगा। आॅनलाइन पंजीकरण की व्यवस्था ई- मित्र एवं खरीद केंद्रों पर सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक की गई है। फसली उपज की खरीद के लिए क्रय-विक्रय सहकारी समितियों (KVSS) और ग्राम सेवा सहकारी समितियों (GSS) पर 879 खरीद केंद्र बनाए गए हैं।

Advertisement

Advertisement

राजस्थान सरकार किसानों से 3 लाख 2 हजार 745 मीट्रिक टन मूंग, 62 हजार 508 मीट्रिक टन उड़द, 4 लाख 65 हजार 565 मीट्रिक टन मूंगफली और 3 लाख 61 हजार 790 मीट्रिक टन सोयाबीन खरीद करेगी। मूंग का समर्थन मूल्य 7755 रुपए, उड़द का 6600 रुपए, मूंगफली का 5850 रुपए और सोयाबीन का 4300 रुपए प्रति क्विंटल घोषित किया है।

Advertisement

Advertisement

खरीद के लिए बनाए केंद्र 

Advertisement

सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने बताया कि प्रदेश में राजफैड इस फसली खरीद के लिए 27 अक्टूबर से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू कर देगा। मूंग के लिए 363, उड़द के लिए 166, मूंगफली के 267 और सोयबीन खरीद के लिए 83 खरीद केन्द्र खोले गए हैं। जिसमें से 419 केन्द्र क्रय-विक्रय सहकारी समितियों पर और 460 ग्राम सेवा सहकारी समितियों पर बनाए गए हैं। किसानों को किसी तरह की असुविधा नहीं हो, इसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था ई-मित्र और खरीद केन्द्रों पर सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक की गई है।

Advertisement

Advertisement

रजिस्ट्रेशन में ये डॉक्यूमेंट्स लगेंगे

Advertisement

सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने बताया कि किसान को जनआधार कार्ड नम्बर, खसरा गिरदावरी की कॉपी और अपनी बैंक पासबुक की कॉपी रजिस्ट्रेशन फॉर्म के साथ अपलोड करने होंगे। जो किसान बिना गिरदावरी के अपना रजिस्ट्रेशन कराएगा, उसका रजिस्ट्रेशन एमएसपी पर खरीद के लिए मान्य नहीं होगा। ई-मित्र केन्द्रों को भी समर्थन मूल्य योजना मे किसानों का रजिस्ट्रेशन पूरी सावधानी से करने और तहसील से बाहर रजिस्ट्रेशन नहीं करने की हिदायत दी गई है।जनआधार कार्ड में लिखे नाम में से जिसके नाम गिरदावरी होगी उसके नाम से किसान रजिस्ट्रेशन करवा सकेगा। किसान इस बात का विशेष ध्यान रखें कि जिस तहसील में एग्रीकल्चर लैंड है, उसी तहसील के एरिया वाले खरीद केन्द्र पर रजिस्ट्रेशन कराएं, दूसरी तहसील में रजिस्ट्रेशन वैलिड नहीं होगा।

Advertisement

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

रवींद्र जडेजा को जब दिग्गज शेन वार्न ने दी थी सजा, पाकिस्तानी क्रिकेटर का खुलासा Author: Viplove Kumar

Report Times

बिना दहेज के शादी कर समाज को दिया प्रेरणादायी संदेश 

Report Times

Leave a Comment