Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंपश्चिम बंगालराजनीतिस्पेशल

पंचायत चुनाव में जीतेगी TMC- बोले पार्थ, भर्ती घोटाले में गिरफ्तारी को बताया ‘षडयंत्र’

REPORT TIMES 

Advertisement

पश्चिम बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाले में गिरफ्तार पूर्व मंत्री पार्थ चटर्जी ने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस ही पंचायत चुनाव जीतेगी. हालांकि एक जमाने में पार्थ चटर्जी पार्टी के बड़े नेता हुआ करते थे, लेकिन भर्ती भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तारी के बाद पार्थ चटर्जी फिलहाल पार्टी के सभी पदों से ‘निलंबित’ हैं. हालांकि पार्टी ने भले ही उन्हें दूर कर दिया, फिर भी वह पार्टी के साथ हैं. पार्थ चटर्जी को भर्ती भ्रष्टाचार मामले में सोमवार को अलीपुर की विशेष सीबीआई अदालत में पेश किया गया. वहां पत्रकारों के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि टीएमसी ही पंचायत चुनाव जीतेगी और गिरफ्तारी को राजनीतिक षडयंत्र करार दिया.

Advertisement

बता दें कि इसी साल 22 जुलाई को पार्थ चटर्जी को भर्ती भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार किया गया था. जैसे-जैसे समय बीतते गए, तृणमूल ने उन्हें लेकर अपनी स्थिति स्पष्ट की. पार्थ को पार्टी के सभी पदों से बेदखल कर दिया गया है. जांच होने तक टीएमसी ने उन्हें निलंबित कर दिया. बाद में पार्टी ने पुष्टि की कि अगर वह जांच के अंत में खुद को निर्दोष साबित करते हैं, तो टीएमसी में गरिमा के साथ लौटने का रास्ता भी खुला है.

Advertisement

Advertisement

पार्थ को टीएमसी ने कर दिया है निलंबित, पार्टी ने झाड़ लिया है पल्ला

Advertisement

बता दें कि जुलाई से नवंबर तक करीब पांच महीने तक पार्थ को छोड़कर पार्टी की तमाम गतिविधियां और कार्यक्रम चल रहे हैं. हालांकि, राज्य के पूर्व शिक्षा और उद्योग मंत्री यह बताना चाहते थे कि उन्हें में पार्टी काटे जाने पर भी उन्होंने खुद को पार्टी से अलग नहीं किया? बता दें कि 14 दिन की जेल हिरासत के बाद सोमवार को पार्थ को कोर्ट में पेश किया गया. पार्थ के वकील सलीम रहमान ने अदालत में जांच की गति की आलोचना की. उन्होंने सवाल उठाया कि अगर इस तरह से जांच की गई तो मामला कब पूरा होगा. साथ ही उन्होंने कहा कि एफआईआर में पार्थ का नाम नहीं है. किसी तरह पार्थ का नाम आरोपियों की लिस्ट में भी नहीं है. इस बीच, पार्थ 75 दिनों से हिरासत में हैं.

Advertisement

राजनीतिक षड़यंत्र के शिकार हुए पार्थ- वकील ने कोर्ट में किया दावा

Advertisement

इस बीच, अदालत में सुनवाई के दौरान पार्थ चटर्जी के वकील ने दावा किया कि राजनीतिक षड़यंत्र के तहत पार्थ चटर्जी को गिरफ्तार किया गया है. पार्थ के वकील ने कहा कि सीबीआई आगे की जांच में बिल्ली के बच्चे की तरह शब्द का इस्तेमाल कर रही है और उन्हें हिरासत में लिया जा रहा है. मुझे (पार्थ को) मुकदमे का सामना करने के लिए जमानत दी जाए. वह खुद को बेगुनाह साबित करेंगे. वह राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता के शिकार हुए हैं. अर्नब गोस्वामी के फैसले का जिक्र करते हुए पार्थ के वकील का सवाल किया कि पहले जीवन का अधिकार है. साथ ही उन्होंने उस मामले में वाई. चंद्रचूड़ द्वारा दी गई टिप्पणी का हवाला देते हुए जिला न्यायालय के अधिकार को याद दिलाया.

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

श्रीधर यूनिवर्सिटी पिलानी में मनाया गया 74 वा गणतंत्र दिवस

Report Times

गहलोत के खेलमंत्री अशोक चांदना पर कर्नल बैंसला के अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में जूते फेंके, सचिन पायलट जिंदाबदा के लगे नारे

Report Times

सांसद: आज संसद में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को विदाई देंगे

Report Times

Leave a Comment