Report Times
latestOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

REPORT TIMES 

Advertisement

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के राजस्थान में एंट्री से पहले कांग्रेस एकजुटता के साथ यात्रा की राह में रोड़ा बनने वाले हर कांटे को हटा देना चाहती है. इसी कड़ी में मंगलवार को कांग्रेस आलाकमान की तरफ से अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच रार के खत्म होने का ऐलान करते हुए एकजुटता का संदेश दिया गया. वहीं दूसरी ओर गहलोत सरकार यात्रा के विरोध की चेतावनी देने वाले गुर्जर समुदाय को मनाने में जुटी है लेकिन, कांग्रेस के लिए चिंता की बात यह है कि दो दिनों तक घंटों तक चली बैठकों के बाद भी अभी तक मसला बेनतीजा है. मिली जानकारी के मुताबिक मंगलवार को गुर्जर प्रतिनिधि मंडल और सरकार के बीच हुई 7 घंटे हुई वार्ता के बाद भी कई मांगों पर सहमति नहीं बन सकी.

Advertisement

वहीं अब सरकार की ओर से बुधवार को फिर से गुर्जर प्रतिनिधिमंडल को बुलाया गया है. हालांकि माना जा रहा है कि बुधवार को गुर्जरों की सभी मांगों पर सहमति बन सकती है.

Advertisement

वहीं दूसरे दौर की वार्ता के बाद सरकार की ओर से मंत्री अशोक चांदना और देवनारायण बोर्ड अध्यक्ष जोगेंद्र सिंह ने मीडिया से कहा कि ज्यादातर मांगों पर सरकार सहमत है, लेकिन एक बिंदु पर सहमति नहीं बन सकी है जिसको लेकर परीक्षण करवाया जा रहा है.

Advertisement

Advertisement

दो दिन से बातचीत जारी

Advertisement

मंत्री अशोक चांदना ने बैठक के बाद कहा कि कुछ बिंदुओं पर सहमति बनी है और एक बिंदु पर सहमति नहीं बन पाई है, उनका अभी खुलासा नहीं कर सकते हैं और बुधवार शाम 5 बजे गुर्जर प्रतिनिधिमंडल से वार्ता के बाद कुछ कहा जा सकता है. वहीं गुर्जर नेता विजय बैंसला ने कहा कि सरकार के सामने सारी मांग रख दी गई है और कल शाम कुछ सकारात्मक नतीजे निकल सकते हैं.

Advertisement

बता दें कि राज्य सरकार के मंत्रियों ने मंगलवार को लगातार दूसरे दिन गुर्जर समुदाय के प्रतिनिधिमंडल के साथ उनकी आरक्षण संबंधी और अन्य लंबित मांगों पर बातचीत की जहां मंगलवार शाम कई घंटों तक चली बैठक के बाद भी कुछ नतीजा नहीं निकला.

Advertisement

किन मांगों पर अड़े हैं गुर्जर

Advertisement

दरअसल, गुर्जर समुदाय की ओर से अति पिछड़ा वर्ग (एमबीसी) के तहत आने वाले गुर्जर सहित पांच समुदाय के लोग नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में पांच प्रतिशत आरक्षण, छात्रों को छात्रवृत्ति और नौकरियों में पदोन्नति से संबंधित मुद्दों के समाधान की मांग की जा रही है.

Advertisement

वहीं गुर्जर समुदाय के कल्याण के लिये गठित देवनारायण बोर्ड के लिए बजट और पूर्व में हुए गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दौरान प्रदर्शनकारियों के खिलाफ पुलिस में दर्ज मामलों को वापस लेने की भी समुदाय कर रहा है. खेल मंत्री अशोक चांदना ने बैठक के बाद कहा कि कई मांगों पर सहमति बन गई है, लेकिन अभी एक बिंदु पर फैसला होना बाकी है जिसके लिए बुधवार को फिर से बैठक बुलाई गई है.

Advertisement

मालूम हो कि गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के नेता विजय बैंसला ने बीते दिनों चेतावनी देकर कहा था कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गई तो वे भारत जोड़ो यात्रा को राजस्थान में दाखिल नहीं होने देंगे.

Advertisement

हम लिखित में लेंगे समझौता : बैंसला

Advertisement

वहीं सरकार के मंत्रियों के साथ बैठक के बाद गुर्जर नेता विजय बैंसला ने कहा कि राहुल गांधी का विरोध अभी भी जारी रहेगा, जब तक हमें लिखित में कोई सहमति नहीं मिल जाती हमारा आंदोलन जारी रहेगा. उन्होंने बताया कि अगर सरकार हमारी मांगें मान लेती है तो हम क्यों विरोध करेंगे.वहीं बैंसला ने दूसरे दौर की वार्ता के बाद कहा कि आज बातचीत में पॉजिटिव रेस्पांस रहा है लेकिन कुछ बिंदु पर सहमति नहीं बन पाई है. बैंसला ने कहा कि हम कल फिर मिलेंगे और एक सकारात्मक समझौते की उम्मीद करेंगे

Advertisement
Advertisement

Related posts

15 दिनों के भीतर चीन ने दोबारा किया सैन्य अभ्यास

Report Times

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में तिरंगा लेकर चल रहे कांग्रेस नेता का निधन, राहुल गांधी ने जताया शोक

Report Times

Airtel-Jio की बादशाहत को जोरदार झटका, इस दिन शुरू हो रही है BSNL की स्वदेशी 4G और 5G सर्विस

Report Times

Leave a Comment