Report Times
latestOtherजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

अपनों ने ही की पूनिया के खिलाफ गोलबंदी, क्या वसुंधरा से पंगा लेना पड़ गया भारी?

REPORT TIMES 

Advertisement

जयपुर: राजस्थान में विधानसभा चुनावों से 8 महीने पहले बीजेपी ने संगठन में एक चौंकाने वाला बदलाव करते हुए सतीश पूनिया की जगह चित्तौड़गढ़ से लोकसभा सांसद सीपी जोशी को बीजेपी की कमान सौंप दी है. पूनिया का तीन साल का कार्यकाल नवंबर 2022 में पूरा हो गया था जिसके बाद बीजेपी ने अब अध्यक्ष पद पर ब्राह्मण चेहरे पर दांव चला है. पूनिया को 15 सितंबर 2019 को बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष बनाया गया था जिसके बाद वह इस पद पर साढ़े तीन साल तक रहे. पूनिया ने प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर गहलोत सरकार के खिलाफ कई जन आंदोलन किए और जन आक्रोश रैली की अगुवाई की. वहीं पूनिया की विदाई के पीछे कई वजहों पर अटकलें चल रही हैं चाहे वह बीजेपी सांसद किरोड़ीलाल मीणा का उनके खिलाफ मोर्चा खोलना हो या वसुंधरा राजे के जन्मदिन पर ही संगठन की ओर से समानांतर कार्यक्रम चलाना. दरअसल बीजेपी राज्य के चुनावों से पहले सीएम फेस को लेकर मची कलह को दूर करना चाहती है लेकिन बीते दिनों की गतिविधियों से वह दूर की कौड़ी लग रही है. हालांकि अब पूनिया के हटाए जाने के बाद साफ है कि बीजेपी गुटबाजी को दूर करने के लिए सख्त कदम उठा रही है क्योंकि पूनिया की जगह एक नए चेहरे को लाने के पीछे बताया जा रहा है कि जोशी पर किसी गुट का ठप्पा नहीं है और वह सीधा दिल्ली के संपर्क में है.

Advertisement

Advertisement

जन आक्रोश रैली का फीडबैक

Advertisement

बीजेपी की ओर से पिछले साल गहलोत सरकार के खिलाफ जन आक्रोश रैली का आयोजन किया गया था जहां बीजेपी के जनाक्रोशी रथ को रवाना करने के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा पहुंचे थे. वहीं इस दौरान नड्डा के कार्यक्रम में कई कुर्सियां खाली पड़ी दिखाई दी जिसके बाद बताया गया कि वसुंधरा राजे खेमा से जुड़े लोग और उनके समर्थक कार्यक्रम में नहीं पहुंचे थे. वहीं बीजेपी के सूत्रों ने बताया कि जन आक्रोश रैली का पूरा फीडबैक अरूण सिंह ने आलाकमान तक पहुंचाया था जिसके बाद बीजेपी ने गुटबाजी से पार पाने के लिए कदम उठाने तेज कर दिए. वहीं जन आक्रोश रैली के दौरान कई जिलों में बीजेपी कार्यकर्ताओं के आपस में उलझने की भी खबरें सामने आई थी जिससे अभियान को लेकर कांग्रेस ने भी बीजेपी को घेरा था.

Advertisement

किरोड़ी लाल ने खोला था मोर्चा

Advertisement

वहीं बीते महीने बीजेपी सांसद किरोड़ी लाल मीणा के पेपर लीक आंदोलन के आखिरी दिन मीडिया से बात करते हुए सांसद ने सतीश पूनिया पर गंभीर आरोप लगाए थे. किरोड़ीलाल ने कहा था कि पूनिया ने पेपर लीक को लेकर उनके साथ युवा मोर्चा को लेकर आंदोलन करने का कहा था लेकिन ऐसा नहीं हुआ. किरोड़ीलाल ने कहा था कि पेपर लीक जैसे गंभीर मुद्दे पर मुझे प्रदेशाध्यक्ष से यह उम्मीद नहीं थी. वहीं सांसद के इस बयान के बाद पूनिया ने कहा था कि यह सांसद के निजी विचार है.

Advertisement

राजे के जन्मदिन पर हुआ अलग कार्यक्रम

Advertisement

वहीं हाल में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के जन्मदिन कार्यक्रम के दिन केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने राज्य में गहलोत सरकार को घेरने के लिए अलग-अलग कार्यक्रम किए. राजे ने जन्मदिन के मौके पर सालासर में एक बड़ा कार्यक्रम कर अपनी ताकत का प्रदर्शन किया वहीं उसी दिन जयपुर में प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया और इस दिन ही दिल्ली में गजेंद्र सिंह शेखावत ने गहलोत के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया. जानकारों का कहना है कि पार्टी इस तरह की खेमेबाजी से खुश नहीं थी और बीते दिनों आलाकमान को कई तरह के गुटबाजी के संकेत मिले जिसके बाद कई केंद्रीय नेताओं ने राज्य के क्षत्रपों को एकजुट होकर काम करने को भी कहा था.

Advertisement

अब सामने आ सकती है जाटों की नाराजगी!

Advertisement

वहीं इधर राजस्थान में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया को हटाए जाने के बाद जाट समाज में नाराजगी देखी जा रही है. गुरुवार को दोपहर से ही पूनिया के समर्थन में सोशल मीडिया पर ट्रेंड चल रहा है. माना जा रहा है कि आलाकमान के इस फैसले से जाट वोटबैंक खिसक सकता है जिसकी नाराजगी आने वाले चुनावों में बीजेपी को भारी पड़ सकती है. मालूम हो कि राजस्थान में ओबीसी समुदाय में आने वाला जाट समुदाय एक बड़ा वोट बैंक है और ओबीसी में सूबे की करीब 91 जातियां आती हैं जो 52 फीसदी वोट बैंक तैयार करती है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

हाइवे पर अब ज्यादा देना होगा टोल टैक्स:जयपुर के 4 टोल पर 40 रुपए तक ज्यादा चुकाने होंगे, नई दरें आज रात 12 बजे से

Report Times

The Great Indian Kapil Show: अवॉर्ड शोज में क्यों नहीं जाते हैं आमिर खान, बोले- समय बहुत कीमती है और…

Report Times

बिना दहेज के शादी कर समाज को दिया प्रेरणादायी संदेश 

Report Times

Leave a Comment