Report Times
latestOtherजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानस्पेशल

फॉर्च्यूनर में बैठने के लिए जितनी सीट, उतने भी विधायक नहीं जीत पाएगी कांग्रेस- राजेंद्र राठौड़

REPORT TIMES

Advertisement

जयपुर: राजस्थान में विधानसभा चुनावों के नजदीक आते ही बीजेपी का गहलोत सरकार पर हमला तेज हो गया है जहां हाल में नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी संभालने वाले बीजेपी नेता राजेंद्र सिंह राठौड़ ने बीते बुधवार को भीलवाड़ा में सरकार को जमकर घेरा. राठौड़ ने इस दौरान विधानसभा चुनावों को लेकर एक बड़ी भविष्यवाणी करते हुए कहा कि उनका मानना है कि पिछली बार तो एक मिनी बस में बैठने लायक कांग्रेस के विधायक जीत गए थे लेकिन इस बार राजस्थान में कांग्रेस के कुशासन के चलते शायद एक फॉर्च्यूनर कार में बैठने लायक भी विधायक नहीं जीत पाएंगे. वहीं एक मीडिया इंटरव्यू में खुद के सीएम पद की दावेदारी को लेकर पूछे गए सवाल पर राठौड़ ने कहा कि वह कभी भी सीएम पद के दावेदार नहीं थे और ना आगे रहेंगे. वहीं वसुंधरा राजे की राज्य में 2023 के लिए भूमिका पर राठौड़ ने कहा कि वह वर्तमान में भी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद पर हैं और आगे भी जिम्मेदारी आलाकमान ही तय करेगा. मालूम हो कि हाल में राठौड़ को बीजेपी ने नेता प्रतिपक्ष बनाया है जिसके बाद अगले ही दिन राठौड़ ने दिल्ली में बीजेपी के तमाम दिग्गजों से मुलाकात की और वह पीएम मोदी के साथ भी दिखाई दिए जहां उनके बेटे पराक्रम राठौड़ भी साथ मौजूद थे.

Advertisement

Advertisement

‘कांग्रेस का होगा सूपड़ा साफ’

Advertisement

राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में गहलोत मॉडल और मोदी मॉडल के बीच चुनाव नहीं हो सकता है क्योंकि गहलोत मॉडल एक आभासी मॉडल है. उन्होंने कहा कि अब गहलोत का कोई करिश्मा चलने वाला नहीं है और इस बार उनके ही मंत्री हारने की भविष्यवाणी कर रहे हैं.राठौड़ ने कहा कि इस बार गहलोत कितनी ही जादूगरी कर ले लेकिन विधानसभा चुनावों में काम नहीं आने वाली है. उन्होंने कहा कि गहलोत कितना भी प्रयास कर ले लेकिन अब जनता सब समझ चुकी है. वहीं उन्होंने गहलोत पर तंज कसते हुए यह भी कहा कि गहलोत हर बात जाते-जाते कांग्रेस का बेड़ा गर्क करके चले जाते हैं. वहीं पार्टी की आपसी खींचतान पर राठौड़ ने कहा कि हमारी पार्टी में ऑल इज वेल है और किसी तरह की कोई खींचतान नहीं है.

Advertisement

‘राजस्थान में तीसरे मोर्चे की कोई गुंजाइश नहीं’

Advertisement

वहीं राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में गहलोत सरकार के कुशासान के चलते चुनावों में कई मुद्दे हैं और आपसी खींचतान में जनता पिस रही है. उन्होंने कहा कि सरकार का विकृत रूप ही इस सरकार की विदाई का कारण बनेगा. वहीं गहलोत पायलट के विवाद पर राठौड़ ने कहा कि जब कुनबा बिखर जाता है तो इसका भुगतान कांग्रेस को चुनावों में करना पड़ेगा.इसके अलावा राठौड़ की ओम बिरला से मुलाकात के दौरान हनुमान बेनीवाल की मौजूदगी पर उन्होंने कहा कि उनका अपना दल है. वहीं तीसरे मोर्चे को लेकर राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में इसकी कोई संभावना नहीं है और यहां मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच ही रहेगा.

Advertisement
Advertisement

Related posts

फीकी होगी विपक्ष की बैठक! कांग्रेस की हां, लेकिन स्टालिन-येचुरी की ना

Report Times

नई दिल्ली : अमित शाह ने लिया लोक नायक अस्पताल में सुविधाओं का जायजा

Report Times

राम-सीता को मानने वाले फिल्म नहीं देख पाएंगे, प्रोड्यूसर को बुलाना पड़ेगा- आदिपुरुष पर HC सख्त

Report Times

Leave a Comment