Report Times
latestOtherकरियरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशव्यापारिक खबरस्पेशल

केंद्र सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को​ दिया झटका, जीपीएफ पर नहीं बढ़ाया ब्याज

REPORT TIMES 

Advertisement

जहां एक ओर ईपीएफओ ने अपनी ब्याज दरों में मामूली इजाफा ​कर अपने मेंबर्स को राहत दी है, जहां सरकार ने स्मॉल सेविंग स्कीम की ब्याज दरों में इजाफा कमाई और बचत दोनों को बढ़ाने का काम किया है. वहीं केंद्रीय कर्मचारी इस मोर्चे पर सरकार से निराश हो सकते हैं. वित्त मंत्रालय ने जनरल प्रोविडेंट फंड (जीपीएफ) और दूसरी इसी तरह​ की जीपीएफ योजनाओं के ब्याज दरों का ऐलान किया है. मंत्रालय ने 2023 की अप्रैल-जून तिमाही के लिए जीपीएफ और इसी तरह की दूसरे फंड के लिए ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया है. वास्तव प्रोविडेंट फंड की ब्याज दर आमतौर पर पब्लिक प्रोविडेंट फंड की ब्याज दरों को फॉलो करती हैं. वित्त वर्ष की पहली तिमाही में पीपीएफ की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है.

Advertisement

कितना मिलेगा जीपीएफ पर ब्याज

Advertisement

वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग ने 10 अप्रैल, 2023 को जारी बयान में कहा कि जून तिमाही के लिए जनरल प्रोविडेंट फंड ग्राहकों की जमा राशि और अन्य समान निधियों पर 1 अप्रैल, 2023 से 30 जून, 2023 तक 7.1 फीसदी की दर से ब्याज लगेगा. इसकाउ मतलब है कि जीपीएफ और दूसरी अन्य समान पीएफ की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है. डीईए ने प्रस्ताव में कहा कि ये दरें 1 अप्रैल, 2023 से लागू हैं.

Advertisement

Advertisement

जून तिमाही के लिए जीपीएफ और दूसरी पीएफ स्कीम्स की ब्याज दरें जून तिमाही के लिए 7.1 फीसदी रहेंगी:

Advertisement
  1. जनरल प्रोविडेंट फंड (सेंट्रल सर्विसेज)
  2. कंट्रीब्यूटरी प्रोविडेंट फंड (भारत)
  3. ऑल इंडिया सर्विसेज प्रोविडेंट फंड
  4. स्टेट रेलवे प्रोविडेंट फंड
  5. जनरल प्रोविडेंट फंड (डिफेंस सर्विस)
  6. इंडियन ऑर्डिनेंस डिपार्टमेंट प्रोविडेंट फंड 

    स्मॉल सेविंग स्कीम की ब्याज दरें

    Advertisement
    1. केंद्र सरकार ने 2023 की अप्रैल-जून तिमाही के लिए कुछ स्मॉल सेविंग स्कीम की ब्याज दरों में इजाफा किया है.
    2. सीनियर सिटीजंस सेविंग स्कीम की ब्याज दर 8 प्रतिशत से बढ़ाकर 8.2 प्रतिशत कर दी गई है.
    3. नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट पर 7.7 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा. इससे पहले इसमें 7 फीसदी ब्याज मिल रहा था.
    4. सुकन्या समृद्धि अकाउंट की ब्याज दर में 0.4 फीसदी का इजाफा कर 8 फीसदी कर दी गई है.
    5. एक साल की पोस्ट ऑफिस डिपॉजिट पर ब्याज दर 6.6 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.8 प्रतिशत कर दी गई है.
    6. दो साल की एफडी की ब्याज दर 6.8 प्रतिशत से बढ़ाकर 6.9 प्रतिशत कर दी गई है.
    7. तीन साल की फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज दर 6.9 फीसदी से बढ़ाकर 7 फीसदी कर दी गई है.
    8. पांच साल की एफडी की ब्याज दर 7 फीसदी से बढ़ाकर 7.5 फीसदी कर दी गई है.
    9. 2023 की अप्रैल-जून तिमाही के लिए पीपीएफ की ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

Advertisement

Related posts

मराठा आरक्षण आंदोलन के साइड इफेक्ट, मुद्दा नहीं सुलझा तो 2024 में होगी मुश्किल

Report Times

महावीर इंटरनेशनल का स्थापना दिवस एमआई इंद्रधनुष ने अस्पतालों में निशुल्क बांटे बेबी किट

Report Times

शिवसेना के हुए सादुलपुर MLA मनोज न्यांगली, बसपा छोड़ थामा शिवसेना का दामन, अब एनडीए के लिए करेंगे प्रचार

Report Times

Leave a Comment