Report Times
latestOtherकरियरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदिल्लीदेशपश्चिम बंगालराजनीतिशुभारंभस्पेशल

नये संसद के उद्घाटन समारोह का TMC ने किया बायकॉट, फिर भी शामिल हुए ये दो सांसद

REPORT TIMES

Advertisement

कोलकाता. प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को नये संसद भवन का उद्घाटन किया. उद्घाटन समारोह का विपक्षी पार्टियों सहित टीएमसी ने बायकॉट किया था, लेकिन टीएमसी के दो सांसद शिशिर अधिकारी और दिब्येंदु अधिकारी समारोह में उपस्थित थे. नए संसद भवन के उद्घाटन समारोह में शिशिर अधिकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हाथ मिलाते नजर आए. इसे लेकर राज्य की राजनीति में अटकलों का बाजार गर्म हो गया है.वयोवृद्ध सांसद शिशिर अधिकारी तृणमूल कांग्रेस की स्थापना के समय से ही उसके साथ हैं. कांथी लंबे समय तक दक्षिण और एगरा से विधायक रहे, लेकिन 2020 में बेटे शुभेंदु अधिकारी के बीजेपी में शामिल होने पर स्थिति बदल गई है. उनके भाई सौमेंदु अधिकारी भी शुभेंदु अधिकारी की राह पर चलकर भाजपा में शामिल हो गए. उस वक्त सूबे की सत्ताधारी पार्टी तृणमूल के कई नेता और मंत्री बीजेपी में शामिल हुए. कुछ विशेष विमान से दिल्ली भी गए. बाद में जब 2021 के विधानसभा चुनाव में तृणमूल की रौनक लौटी तो घर के लड़के घर लौट आए. लेकिन अपवाद हैं सुभेंदु अधिकारी. वह तृणमूल में वापस नहीं लौटे, बल्कि ममता बनर्जी और अभिषेक बनर्जी के खिलाफ तीखे हमला शुरू कर दिया. वह वर्तमान में राज्य में विपक्ष के नेता हैं. सत्ता पक्ष पर उनके द्वारा लगातार हमले किए जा रहे थे.

Advertisement

Advertisement

नये संसद के उद्घाटन समारोह में दिखे शिशिर और दिब्येंदु

Advertisement

हालांकि नेता प्रतिपक्ष के पिता शिशिर अधिकारी और भाई दिब्येंदु अधिकारी तृणमूल सांसद हैं, लेकिन तृणमूल कांग्रेस खुद बार-बार उनकी स्थिति को लेकर सवाल उठाती रही है., हालांकि दिब्येंदु अधिकारी ने बार-बार कहा है कि वह तृणमूल कांग्रेस में हैं, लेकिन पार्टी सूत्रों के मुताबिक अधिकारी परिवार के इन दोनों सांसदों का व्यावहारिक रूप से तृणमूल से कोई संबंध नहीं है. इसके विपरीत, पिता और पुत्र इन दोनों सांसदों ने राष्ट्रपति चुनाव में बंगाल विधान सभा में मतदान करने के बजाय दिल्ली जाकर मतदान किया. उस समय तृणमूल प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा था, ”वह शारीरिक और मानसिक रूप से भाजपा के साथ हैं.”

Advertisement

तृणमूल कांग्रेस ने उद्घाटन समारोह के बहिष्कार का किया था ऐलान

Advertisement

इस बार शिशिर अधिकारी नई संसद के उद्घाटन को लेकर विवादों में हैं. कांग्रेस और तृणमूल सहित कई दलों ने पहले घोषणा की थी कि वे इस कार्यक्रम का बहिष्कार करेंगे, लेकिन पता चला कि तृणमूल के टिकट पर जीते सांसद शिशिर अधिकारी और दिब्येंदु अधिकारी दोनों नवनिर्मित संसद भवन की लोकसभा सीट पर हैं. भाषण के बाद प्रधानमंत्री वहां उतरे. सत्ताधारी और अधीनस्थ दलों के सांसदों ने बारी-बारी से प्रधानमंत्री का अभिवादन किया. वहां शिशिर अधिकारी प्रधानमंत्री से हाथ मिलाते नजर आ रहे थे.इस बारे में पूछे जाने पर सांसद दिब्येंदु अधिकारी ने कहा, ‘पार्टी की तरफ से हमें जानकारी नहीं दी गई है. किसी ने हमें आने से भी नहीं रोका. मुझे पुरानी संसद में बैठने का अवसर मिला था. मैं आज नई संसद में प्रवेश करने में सक्षम था. यह मेरे लिए गर्व की बात है. इसमें राजनीति न देखें तो अच्छा है.”

Advertisement
Advertisement

Related posts

सड़क हादसे में एक घायल

Report Times

भारत का पहला प्राइवेट रॉकेट लॉन्चिंग को तैयार, नए युग की होगी शुरुआत

Report Times

वेबसाइट पर सरकारी विज्ञापन जारी करने के लिए पॉलिसी, राजस्थान कॉलेज एजुकेशन सोसायटी का होगा गठन

Report Times

Leave a Comment