Report Times
latestOtherकरियरजयपुरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजनीतिराजस्थानसोशल-वायरलस्पेशल

मंत्री के कार्यक्रम में पत्थर लेकर पहुंचीं महिलाएं, बोले- कुछ तो शर्म करो

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान के चिकित्सा मंत्री परसादीलाल मीणा का अपनी ही विधानसभा क्षेत्र की महिलाओं को दुत्कारने और कार्यक्रम से हटवाने की धमकी देने का एक वीडियो सामने आया है. दरअसल, बुधवार को चिकित्सा मंत्री परसादीलाल मीणा दौसा जिले के लालसोट विधानसभा क्षेत्र के संवासा गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन करने पहुंचे थे. इस दौरान अवैध ब्लास्टिंग से परेशान ग्रामीण महिलाएं एकत्रित होकर मंत्री परसादीलाल मीणा के पास पहुंचीं और गुहार लगाने लगीं कि संवासा की खानों में अवैध रूप से ब्लास्टिंग की जाती है, जिसके कारण पत्थर आबादी क्षेत्र में आ जाते हैं. महिलाएं अपने हाथों में पत्थर लेकर मंत्री परसादीलाल मीणा से गुहार लगाने पहुंचीं थी कि अवैध ब्लास्टिंग बंद की जाए. जैसे ही महिलाओं के हाथ में अवैध ब्लास्टिंग के कारण घरों में आए पत्थर देखे तो मंत्री परसादीलाल मीणा भड़क गए और गुस्से में आगबबूला हो गए. उन्होंने महिलाओं से कहा कि कैसे बंद करवा दें, तुम्हें किसी ने बहकाकर यहां भेजा है. इस दौरान उन्होंने महिलाओं से कहा कि, “फालतू की बात मत करो, शुभ काम में पत्थर लेकर आ गई, शर्म करो, बहकावे में आकर फालतू की बातें मत करो”.

Advertisement

Advertisement

पुलिसकर्मियों से महिलाओं को हटवाया

Advertisement

इस दौरान उन्होंने कहा कि आबादी में पत्थर नहीं आएंगे, इसका इंतजाम कर देंगे, लेकिन किसी के बहकावे में आकर इस तरह की फालतू बातें मत किया करो. उन्होंने मौजूद कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों से महिलाओं को हटाने की भी बात कही. हालांकि इस वीडियो के वायरल होने के बाद क्षेत्र में चिकित्सा मंत्री की खूब आलोचना हो रही है. ग्रामीणों का कहना है कि हम इस समस्या से काफी समय से परेशान चल रहे थे.

Advertisement

पहले भी ग्रामीण कर चुके हैं प्रदर्शन

Advertisement

कई बार इस बारे में स्थानीय अधिकारियों सहित बड़े नेताओं को अवगत करवा दिया गया, लेकिन अवैध ब्लास्टिंग रुक नहीं रही है. हमारे घरों में दरारें आ चुकी हैं. परिवारजन खौफ के साए में जीने के मजबूर हैं. इतना ही नहीं खनन कार्य के आने वाले वाहनों से डस्ट भी उड़ती है, जिसके कारण बड़े बुजुर्गों को अस्थमा जैसी घातक बीमारियों का शिकार होना पड़ रहा है. गौरतलब है कि पूर्व में भी संवासा के ग्रामीणों द्वारा अवैध ब्लास्टिंग के विरोध में प्रदर्शन किया जा चुका है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा पर घमासान, सीएम शिंदे के अनावरण के बाद एनसीपी ने दूध से नहलाकर किया ‘शुद्धिकरण’

Report Times

चिड़ावा : मुर्दाघर की जगह विराजे महाकालेश्वर

Report Times

कोविन पोर्टल पूरी तरह सुरक्षित, सरकार ने डेटा लीक पर दी सफाई

Report Times

Leave a Comment