Report Times
latestOtherउत्तर प्रदेशकरियरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंधर्म-कर्मस्पेशल

2 लाख गांवों में जाएगी संत-महात्माओं की टोली, बताएंगे राम मंदिर के संघर्ष की गाथा

REPORT TIMES

Advertisement

जनवरी 2024 में राम जन्मभूमि पर बन रहे राम मंदिर में रामलला विराजमान हो जाएंगे, जिसकी तैयारी श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने कई महीने पहले से ही आरंभ कर दी है. एक तरफ रामनगरी में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के द्वारा कई धार्मिक अनुष्ठानों का कार्य संचालित है, तो अब वहीं प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव से पहले संत-महात्माओं की टोली देश भर के दो लाख गांवों में जाएगी और वहां राम मंदिर के संघर्ष की गाथा सुनाएगी. धर्म नगरी अयोध्या में विश्व हिंदू परिषद के देश भर के कार्यकर्ता और पदाधिकारी की बैठक हुई. रामनगरी में आहूत बैठक में प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव से पहले देश भर के राम भक्तों के बीच जाकर उनमें राम नाम की अलख जगाने का निर्णय किया गया. रामलाल के विराजने से पहले विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता और संत-महात्माओं की टोली देश के लगभग दो लाख गांव तक पहुंचने की तैयारियां कर रही है. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता और पदाधिकारी पूरे कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार कर रहे हैं.

Advertisement

Advertisement

रामंदिर के संघर्ष की गाथा सुनाएंगे संत-महात्मा

Advertisement

यही नहीं जहां एक तरफ बजरंग दल पूरे देश में अपनी शौर्य यात्रा के माध्यम से राम मंदिर के संघर्ष की गाथा जन-जन तक पहुंचाने का कार्य करेगा तो वहीं अब दीपावली के बाद से संतों की पदयात्रा भी निकल जाएगी. देश के बड़े-बड़े संत-महात्मा देश के लगभग एक लाख गांवों और शहर की स्लम बस्तियों में पदयात्रा निकलेंगे. संत महात्माओं की टोली बस्तियों, गांव और कस्बों के घर-घर जाकर हिंदुत्व के एकता समरसता धर्म संदेश देंगे. यही नहीं संत-महात्माओं की टोली जिस बस्ती या कस्बे और गांव में पहुंचेगी, वहां के ही किसी अनुसूचित परिवार में संत-महात्मा नाश्ता भोजन और जल ग्रहण करेंगे. संत महात्माओं के द्वारा धर्म सभा का आयोजन किया जाएगा. देश को जगाने के लिए हिंदू जनमानस को एक करने के लिए विश्व हिंदू परिषद के द्वारा रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से पहले देशभर में ऐसे आयोजन किए जाएंगे, जिसको लेकर संगठन और विश्व हिंदू परिषद के बड़े-बड़े कार्यकर्ता और पदाधिकारी अयोध्या पहुंचे हुए थे. उन्होंने पहले राम मंदिर निर्माण कार्य की प्रगति देखी. उसके बाद श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारी के साथ तथा प्राण प्रतिष्ठा समिति के पदाधिकारी के साथ तीन दिवसीय बैठक कर कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की है. सभी संगठनों के उच्च पदाधिकारी को बैठक में निर्देश जारी कर दिया गया है., जिसको लेकर अब सभी कार्यकर्ता और पदाधिकारी अपनीअपनी तैयारी में लग गए हैं.

Advertisement

घर-घर जाएंगे संत-महात्मा, जगाएंगे अलख

Advertisement

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने TV9 भारतवर्ष से बात करते हुए बताया, ” हम लोगों ने बैठक में यह तय किया है कि जिस दिन यहां पर राम जी विराजमान होंगे, उस दिन दुनिया भर में जहां भी हिंदू मंदिर है, वहां एक एक बड़ी स्क्रीन पर राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम दिखाया जाएगा. उन्होंने कहा कि उसके बाद में पूजा-अनुष्ठान करके प्रसाद भंडारा करेंगे और पूरी दुनिया में ऐसा आनंद उत्सव मनाया जाएगा, जैसे राम जी के वनवास से लौटने पर मनाया गया था. रात में दीप माला (दीपावली) होगी. इसकी तैयारी में और देश को जगाने के लिए बजरंग दल ने शौर्य यात्राएं शुरू की है. उन्होंने कहा कि यह शौर्य यात्राएं देश के लगभग सभी जिलों में जाएगी. उत्तर प्रदेश और ऐसे अधिकांश राज्यों के हर प्रखंड तक जाएगी और हिंदुत्व का एकता का समरसता का संदेश देगी. दीपावली के बाद संतमहात्मा गांव में और शहर की स्लम बस्तियों में पदयात्रा के लिए जाएंगे. उनके दर्शन के लिए लोगों को उनके आश्रम मठ में नहीं केवल अपने घर से बाहर आना होगा. वहीं किसी अनुसूचित परिवार में वह नाश्ता-भोजन करेंगे और वहां पर धर्म सभा होगी. ऐसे तीन कार्यक्रम आज बैठक में तय किए गए हैं.

Advertisement
Advertisement

Related posts

हाल में लॉन्च OnePlus 32inch स्मार्ट टीवी ऑफर में खरीदें सिर्फ 10,419 रुपये में!

Report Times

किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट चिड़ावा आए : राजस्थान में किसान आंदोलन को लेकर ली बैठक

Report Times

सर्व समाज की ओर से अनिल शर्मा का अभिनंदन

Report Times

Leave a Comment