Report Times
latestOtherकरियरकार्रवाईक्राइमटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशराजनीतिविदेशस्पेशल

टेंशन के बीच कनाडा के खिलाफ भारत का बड़ा एक्शन, वीजा पर लगाई रोक

REPORT TIMES 

Advertisement

भारत-कनाडा के बीच लगातार तल्खी बढ़ रही है. अब भारत ने बड़ा कदम उठाते हुए कनाडा के नागरिकों के लिए वीजा देने पर फिलहाल रोक लगा दी है. भारत की तरफ से अबतक का यह बड़ा एक्शन है. केंद्र सरकार ने कहा है कि अगली सूचना तक कनाडा के नागरिकों के लिए वीजा सर्विस पर रोक रहेगी. खालिस्तान समर्थक हरदीप सिंह निज्जर की मौत पर विवाद लगातार बढ़ रहा है. सबसे पहले कनाडा ने भारत के खिलाफ बयानबाजी शुरू की. प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने भारत पर बड़े ही गंभीर आरोप लगाए, जिसमें उन्होंने निज्जर की मौत के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया.भारत ने भी कनाडा की यात्रा कर रहे भारतीयों को सावधान रहने कहा है. इसके अलावा वहां रह रहे भारतीय लोगों व छात्रों के लिए भी एडवाइजरी जारी की गई है. भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि कनाडा में बढ़ रही भारत विरोधी गतिविधियों और हेट क्राइम को देखते हुए यह एडवाइजरी जारी की गई है. हाल ही में कनाडा संसद के एक सांसद चंद्रा आर्य ने दावा किया कि गुरपतवंत सिंह पन्नू के समर्थकों ने कनाडाई-हिंदू समुदाय को निशाना बनाया है. उसने खालिस्तान पर जनमत संग्रह कराया और यहां पहुंचे लोगों ने हिंदू समुदाय को धमकी दी और उन्हें भारत जाने की चेतावनी दी. उन्होंने बताया कि कनाडा में स्थानीय हिंदू समुदाय के लोग खौफ में हैं.

Advertisement

Advertisement

कनाडा में खालिस्तानियों ने किया भारत विरोधी प्रदर्शन

Advertisement

पंजाब के बाहर कनाडा में सिखों की संख्या सबसे ज्यादा है और यहां खालिस्तान के समर्थन में कई विरोध और प्रदर्शन देखे गए हैं. भारत में खालिस्तान समर्थकों पर कार्रवाई केो बीच अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया के अलावा कनाडा भी एक था, जहां बड़े स्तर पर खालिस्तान समर्थकों ने प्रदर्शन किया था. भारतीय हाई कमिशन को निशाना बनाया. तोड़फोड़ और दीवारों पर आपत्तिजनक बातें लिख दी. रिपोर्ट्स की मानें तो भारत ने जून महीने में भी कनाडा में भारत के राजनयिक की सुरक्षा पर चिंता जाहिर की थी. औपचारिक तौर पर ट्रूडो शासन को भारत ने शिकायत की थी.

Advertisement

प्रभावित क्षेत्रों में जाने से बचें भारतीय नागरिक

Advertisement

विदेश मंत्रालय ने बुधवार को अपने बयान में बताया कि भारतीय राजनयिकों और ‘भारत विरोध एजेंडे का विरोध करने वाले’ नागरिकों को धमकियां दी गई. मंत्रालय ने कहा, “इसलिए, भारतीय नागरिकों को सलाह दी जाती है कि वे कनाडा के उन क्षेत्रों और संभावित स्थानों की यात्रा करने से बचें, जहां ऐसी घटनाएं देखी गई हैं.

Advertisement
Advertisement

Related posts

भाजपा के होने जा रहे हैं पायलट!

Report Times

हार्डवेयर व्यवसायी के पुत्र, पुत्री एक साथ बने सीए : बेटे प्रतीक ने पहले की प्रयास में ऑल इंडिया हासिल की 18वीं रेंक, बेटी ने दूसरे प्रयास में पाई सफलता

Report Times

रेलवे स्टेशन पर सो रही प्रेग्नेंट औरत को दरिंदों ने घसीटा, तीन बच्चों और पति के सामने किया सामूहिक बलात्कार

Report Times

Leave a Comment