Report Times
latestOtherकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारटॉप न्यूज़ताजा खबरेंनागौरराजस्थानस्पेशल

नागौर में होमोसेक्सुअल अपराध का मामला आया सामने, आरोपी ने 40 बच्चों को कैसे बनाया शिकार, मामले की पूरी कहानी

REPORT TIMES 

Advertisement

 राजस्थान के नागौर जिले में 14 दिन से लापता हुए छात्र यश की हत्या कर दी गई थी. उसकी हत्या के आरोप में पुलिस ने रसूल मोहम्मद उर्फ बबलू घोसी को गिरफ्तार किया था. वहीं, उस पर कार्रवाई के दौरान आरोपी बबलू घोसी के घर पर बुल्डोजर चलवाया गया था. जबकि हत्या के कारण की जांच के बाद पुलिस ने इस मामले में बड़ा खुलासा किया है. इस केस में होमोसेक्सुअल अपराध का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि हत्या करने वाले शख्स होमोसेक्सुअल का आदि था और इसी आदत की वजह से उसने कई युवाओं को झांसे में ले लिया था. इतना ही नहीं उसने 40 बच्चों को अपना शिकार भी बनाया और समलैंगिक संबंध बनाने पर मजबूर भी किया. पुलिस ने जानकारी दी है कि इस मामले में पूरे गैंग के लिप्त होने की बात सामने आ रही है. हालांकि आरोपी रसूल मोहम्मद ने समलैंगिक आदत वाले कुछ लोगों को अपने साथ जोड़ रखा था. वहीं उनके साथ मिलकर वह होमोसेक्सुअल की अपनी हरकतों को अंजाम देता था. वहीं पुलिस ने इस मामले में कई लोगों को हिरासत में भी लिया है. बताया जा रहा है कि आरोपी और उसके साथियों ने युवकों को न केवल अशलील वीडियो और फोटो से बहकाया बल्कि उनके साथ होमोसेक्सुअल हैरेसमेंट भी किया.

Advertisement

Advertisement

मृतक छात्र ने समलैंगिक संबंध बनाने से किया मना, तो मार डाला

Advertisement

पुलिस की जांच में यह भी सामने आया है कि आरोपी रसूल मोहम्मद उर्फ बबलू घोसी की छात्र यश से अच्छी जान पहचान थी. बबलू ने छात्र यश को समलैंगिक संबंध बनाने के लिए मजबूर किया, लेकिन छात्र यश ने इससे इंकार कर दिया, तो गुस्साए आरोपी ने छात्र यश की निर्मम तरीके से हत्या कर दी. बाद में उसके शव को बोरे में बंद कर गोबर के ढेर के नीचे छुपा दिया था.

Advertisement

अश्लील वीडियो फोटो से बहकाते थे टीन एज युवाओं को

Advertisement

पुलिस को व्हाट्सएप ग्रुप की चैट भी मिली है. पुलिस के मुताबिक रसूल मोहम्मद और उसके साथी इस व्हाट्स ऐप के माध्यम से अश्लील वीडियो और फोटो एक दूसरे को फॉरवर्ड करते थे. ताकि टीन एज यानी किशोर वर्ग के युवाओं को अपने झांसे में लिया जाकर समलैंगिक संबंध बनाए जा सके. पुलिस अब इस होमो सेक्सुअल ग्रुप से जुड़े लोगों के तलाश कर रही है और यह भी जानने का प्रयास कर रही है कि आखिर उन लोगों की यश हत्याकांड में क्या भूमिका थी और होमो सेक्सुअल ग्रुप से कितने लोग आपस में जुड़े हुए हैं?

Advertisement

40 बच्चो के शोषण का आरोप

Advertisement

मृतक छात्र के परिजनों का आरोप है कि रसूल मोहम्मद होमो सेक्सुअल का एक ग्रुप चलता है, जो अब तक 40 बच्चों को अपना शिकार बना चुका है. आरोपी ने सोशल मीडिया ग्रुप बनाकर किशोरों को इससे जोड़ा था और अश्लील मैसेज और वीडियो डालकर किशोर वर्ग के लड़कों को गुमराह करते थे. परिजनों का यह भी उनका कहना है कि मामले के सबूत और सीसीटीवी फुटेज भी उन्होंने ही पुलिस को उपलब्ध करवाए, इसके बावजूद पुलिस ने ढिलाई बरती. पुलिस की लापरवाही और ढिलाई के कारण छात्र यश की हत्या की गई है. अगर पुलिस समय रहते उसे ढूंढ लेती तो छात्र की जान बच सकती थी.

Advertisement

गैंग की जांच में जुटी पुलिस

Advertisement

पुलिस की जांच में यह स्पष्ट हुआ है कि आरोपी रसूल मोहम्मद अपने कुछ साथियों के मिलकर होमोसेक्सुअल ग्रुप संचालित करता था. मगर इस मामले में कोई गिरोह या गैंग सक्रिय है या नहीं, इसकी पुलिस जांच कर रही है. और यह भी जानने का प्रयास कर रही है कि इस मामले से कितने लोग जुड़े हुए हैं? और उनकी हत्याकांड में क्या भूमिका रही है.

Advertisement

यह था मामला

Advertisement

गौरतलब है कि छात्र यश 11 वीं कक्षा का छात्र था, जो नागौर के शीतला माता मन्दिर के पीछे रहता था. यश 19 जनवरी को बाईक से अपनी स्कूल  के लिए निकला था, लेकिन स्कूल पहुंचा ही नही. बाद में मामले का खुलासा तब हुआ जब यश का शव बरामद किया गया. इस मामले का आरोपी रसूल मोहम्मद उर्फ बबलू घोसी मुख्य आरोपी है, जिसने समलैंगिक संबंध नहीं बनाने पर स्कूली छात्र यश की हत्या कर दी थी और उसके शव को बोरे में बंद कर गोबर के ढेर के नीचे छुपा दिया था.

Advertisement
Advertisement

Related posts

चिड़ावा नगरपालिका की ओर से अंबेडकर भवन की सजावट, चिड़ावा चेयरमैन की अगुवाई में मनाई गई कांग्रेस कार्यालय में जयंती

Report Times

झारखंड में मदरसे की जमीन बताकर तोड़ डाले महादलितों के दर्जनों घर, गांव से भी निकाला

Report Times

पैदा होते ही बच्चे ने किया ‘पुष्पा’ का झुकेगा नहीं ऐक्शन

Report Times

Leave a Comment