Report Times
Election specialGENERAL NEWSOtherटॉप न्यूज़ताजा खबरेंराजस्थानसोशल-वायरल

PM Modi ने राजस्थान में कहा- 4 जून 400 पार, कांग्रेस को बताया विकास विरोधी

Reporttimes.in

Advertisement

PM Modi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राजस्थान के बाड़मेर में कांग्रेस पर सीधा हमला किया और कहा कि कांग्रेस की नीतियां विकास विरोधी रही हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने कभी भी सीमावर्ती गांवों के विकास पर ध्यान नहीं दिया, उन्होंने कहा कि कांग्रेस यह कहती थी कि सीमा पर विकास करवाएंगे तो दुश्मन वहां कब्जा करने की कोशिश करेंगे. जबकि ये बेकार की बात है, बीजेपी सीमावर्ती गांव को अपना प्रथम गांव मानती है और उसके विकास पर ध्यान देती है और किस माई के लाल में यह हिम्मत है कि वो बाड़मेर की धरती पर कब्जा करने की हिम्मत करे. बताइए है किसी में हिम्मत.

Advertisement

जनता बीजेपी को आशीर्वाद देने का मन बना चुकी है

लोकसभा चुनाव 2024 के प्रचार के लिए बाड़मेर पहुंचे पीएम मोदी ने कहा कि यह जनसैलाब बताता है कि जनता बीजेपी को अपना आशीर्वाद देने का मन बना चुकी है. उन्होंने कहा कि मैं अपनी सरकार के तीसरे टर्म में आपकी हर मांग को पूरी करूंगा और सीमावर्ती गांव के विकास पर और भी ज्यादा ध्यान दूंगा. उन्होंने कहा कि इस लोकसभा चुनाव में आपका एक-एक वोट विकसित भारत की नींव को और मजबूत करेगा.

Advertisement

4 जून 400 पार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह लोकसभा चुनाव किसी पार्टी का नहीं बल्कि देश का चुनाव है. आज पूरा देश यह कह रहा है कि 4 जून 400 पार. बाड़मेर की जनता ने हमेशा मुझसे कहा है कि मोदी जी आप देश के दुश्मनों को सबक सिखाओ, हम आपके साथ हैं. जनता हमें इस बार पिछली बार की तुलना में ज्यादा वोटों से जिताएगी, इसका मुझे पक्का भरोसा है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

झुंझुनूं : हजारों में सिर्फ़ दो बच्चियों में होता है एबी निगेटिव ब्लड ग्रुप, लावारिस बच्ची भी इसी दुर्लभ ब्लड ग्रुप की

Report Times

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से हाल ही में बढ़ाई गई रेपो रेट के कारण जिलेवासियों पर ब्याज का बोझ बढ़ गया है। आरबीआई ने रेपो रेट में 0.40 फीसदी की बढ़ोतरी की है। इसका सीधा असर आम कर्जदारों पर पड़ेगा। यानी महंगाई कम करने के लिए बढ़ाई गई रेपो रेट कर्जदारों पर बोझ बन गई। आरबीआई के इस फैसले के बाद, देश के सभी बैंक ब्याज दर में 0.40 प्रतिशत की वृद्धि भी लागू करते हैं तो जिलेवासियों पर औसतन महीने का 29.30 करोड़ रुपए का बोझ बढ़ेगा। यानी सालाना 351.60 करोड़ ज्यादा चुकाने होंगे। कोरोना में देश की अर्थव्यवस्था को पुनः पटरी पर लाने के लिए मई 2020 में रेपो रेट कम कर 4% की गई थी। इसके परिणामस्वरूप इन 2 वर्षों में देश में कुल 1146201 करोड़ के लोन की वृद्धि हुई। अब कोरोना के बाद आमजन को महंगाई से निजात दिलाने के लिए आरबीआई ने रेपो रेट में बदलाव किया है। हर 2 माह में मौद्रिक नीति बनाई जाती है। मौद्रिक नीति में आरबीआई द्वारा देश में पैसे के सर्कुलेशन व लोन के मध्य तालमेल बनाया जाता है तथा महंगाई को नियंत्रित किया जाता है।

Report Times

हादसा : महाकालेश्वर मंदिर एक गर्भ गृह में आग से झुलसे 13 लोग

Report Times

Leave a Comment