Report Times
latestOtherउत्तर प्रदेशकरियरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंधर्म-कर्मस्पेशल

अब इस मंदिर के लिए जारी हुआ ड्रेस कोड, श्रद्धालुओं को मर्यादित कपड़े पहन कर आने की अपील

REPORT TIMES

Advertisement

मथुरा: श्रीकृष्ण की नगरी में एक पोस्टर बड़ा ही चर्चा का विषय बना हुआ है. इस पोस्टर में मंदिर प्रबंधक द्वारा आने वाले श्रद्धालुओं से अपील की गई है. अपील में कहा गया कि वह मर्यादित वस्त्र ही पहनकर मंदिर आएं. यह हमारी हिंदू संस्कृति का सवाल है. इस पोस्टर को लेकर संपूर्ण ब्रज में बड़ी चर्चा हो रही है. ऐसा पहली बार नहीं है कि एक मंदिर में छोटे-छोटे कपड़ों को लेकर पोस्टर चस्पा किया गया हो. इससे पहले भी कई मंदिरों में इस तरह की बातें सामने आई हैं. मंदिरों में नोटिस भी चस्पा हुए हैं लेकिन जब बात श्रीकृष्ण की नगरी ब्रज से आती है तो लोगों के मन में सवाल उठना आम बात है.

Advertisement

देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं से की गई अपील

Advertisement

वृंदावन में सुप्रसिद्ध सप्त देवालय में से एक श्रीराधा दामोदर मंदिर में प्रबंधक द्वारा एक पोस्टर चिपकाया गया है. इस पोस्टर में देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं से अपील की गई है. वह मर्यादित वस्त्र पहनकर ही मंदिर आए. अब देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालु जब इस मंदिर में पहुंचते हैं. तो उनकी नजर जब इस पोस्टर पर पहुंचती है तो उनके मन में एक सवाल आता है. आखिर ऐसा क्यों? हर मंदिरों में ऐसा क्यों होने लगा है.

Advertisement

Advertisement

मंदिर में आएं धार्मिक कपड़े पहन कर

Advertisement

इसको लेकर मंदिर के सेवायत से बात की गई. उन्होंने बताया कि आजकल कि जो युवक-युवती हैं. वह बहुत ही छोटे-छोटे वस्त्र पहन कर बाजारों में जाते हैं. यहां तक कि मंदिरों में भी आने लगे हैं. जो कि एक अच्छा संदेश नहीं है. ठाकुर हमारे आराध्य हैं. आराध्य के सामने एक ऐसे वस्त्र पहन कर जाना उचित नहीं है. इसलिए उन्होंने यह पोस्टर चस्पा किया कि वे मंदिर आए तो हिंदू धार्मिक कपड़े पहनकर आएं क्योंकि यह पारंपरिक वस्त्र है.

Advertisement

अन्य मंदिरों से मिली प्रेरणा

Advertisement

जब इस बारे में मंदिर के सेवायत राधा कृष्ण बलराम से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हमारे द्वारा यह अपील काफी समय से की गई है. इसको लेकर हमने मंदिर में भी पोस्टर चस्पा किया गया है. इस बात की प्रेरणा हमें अन्य मंदिर से मिली थी. जहां हम किसी एक मंदिर में गए थे. तो हमने भी वहां पर इस तरह का पोस्टर टंगा हुआ देखा था. इसको लेकर हमने भी अपने वस्त्रों के पोस्टर को चस्पा कर दिया है. श्रद्धालु से अपील कर रहे हैं कि मंदिर आएं तो छोटे-छोटे वस्त्रना पहनकर आएं. क्योंकि जो हिंदू संस्कृति है. वह बड़ी महान है. हिंदू संस्कृति के जो कपड़े हैं. वह भी काफी अच्छे हैं. जिसमें कुर्ता पजामा. साड़ी इत्यादि आदि वस्त्र आते हैं.

Advertisement

प्राचीन काल से हिंदू सनातनी संस्कृति काफी ज्यादा ही लोगों के मनों पर कब्जा कर रही है. यहां तक कि विदेश से आने वाले श्रद्धालु होते हैं. वह भी हमारे कल्चर को अपना रहे हैं. हम अपने कल्चर से दूर होते जा रहे हैं. इसको लेकर हमने एक छोटी सी अपील श्रद्धालुओं से की है. हो सकता है इसमें परिवर्तन भी देखने को मिले.

Advertisement
Advertisement

Related posts

सारी बातें मानी… आपके हिसाब से टिकट बांटे, फिर क्यों हारी कांग्रेस? गहलोत से कड़े सवाल

Report Times

क्या है लॉकबिट, जिसने चीन के सबसे बड़े बैंक में लगा दी सेंध, अमेरिका तक पड़ा असर

Report Times

राजस्थान में भजन लाल सरकार की पहली राजनितिक नियुक्ति, ओंकार सिंह लखावत को बनाया धरोहर प्राधिकरण का अध्यक्ष

Report Times

Leave a Comment