Report Times
latestOtherआरोपकरियरकार्रवाईखेलटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदिल्लीराजनीतिविरोध प्रदर्शनस्पेशल

‘अत्याचारी का साथ देना है या पहलवानों का’? अब राष्ट्रपति-गृहमंत्री से मिलेंगे खाप प्रतिनिधि

REPORT TIMES 

Advertisement

पहलवानों के समर्थन में गुरुवार को मुजफ्फरनगर में महापंचायत हुई. इसमें भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैट और खाप के कई नेता शामिल हुए. इस दौरान राकेश टिकैट ने कहा कि महापंचायत में खिलाड़ियों के पक्ष में फैसला सुरक्षित रखा गया है. कल यानी शुक्रवार को कुरूक्षेत्र में फैसला सुनाया जाएगा. उन्होंने कहा कि खाप प्रतिनिधि राष्ट्रपति और गृहमंत्री से मिलेंगे.टिकैत ने कहा कि ये खाप की मीटिंग ऐतिहासिक गांव सौरम में हो रही है. ये मुद्दा पिछले 40-45 दिनों से चल रहा है. इस देश के संविधान ने शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन करने का अधिकार दिया है. ये हमारा मौलिक अधिकार है. उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन करते हुए उन्हें उठाया गया. वे 40 दिनों तक झूठ बोलने का आरोप लगाते रहे.

Advertisement

राष्ट्रपति से मिलेंगे खाप प्रतिनिधि

Advertisement

राकेश टिकैट ने आगे कहा कि POCSO में पहले गिरफ्तारी होती थी और फिर जांच होती थी लेकिन इनके लिए कानून अलग है. खाप प्रतिनिधि राष्ट्रपति से मिलेंगे और कुरूक्षेत्र में फैसला सुनाया जाएगा. उन्होंने कहा कि यहां जातियों में बांटने की कोशिश की गई. योद्धाओं की कोई जात नहीं होती. सरकार की ये चाल है. लोगों को जात, बिरादरी और धर्म के नाम पर बांटा जा रहा है. उन्होंने कहा कि जो देश के लिए लड़ता है, उसकी सिर्फ तिरंगा जाति होती है. विदेश में सिर्फ देश के तिरंगे की पहचान होती है.

Advertisement

Advertisement

अत्याचारी का साथ देना है या बच्चों का?

Advertisement

किसान नेता टिकैट ने कहा कि कल कुरुक्षेत्र के पंचायत में फैसला सुनाएंगे. खाप की एक कमेटी बनेगी. यह कमेटी राष्ट्रपति और गृहमंत्री से मुलाकात करेगी. उन्होंने यह भी कहा कि ऐसा भी हो सकता है कि जहां वो 5 तारीख को मीटिंग कर रहे हैं, हम खिलाड़ियों को लेकर वहीं जाएं और उनसे ही कहें कि आप ही फैसला कर दो कि इस अत्याचारी का साथ देना है या बच्चों का.

Advertisement

खापों की मुजफ्फरनगर महापंचायत में रखे गए ये प्रस्ताव

Advertisement
  • पहलवानों के मुद्दे पर देशव्यापी आंदोलन होगा
  • दिल्ली के बॉर्डर को फिर से बंद किया जाएगा
  • मेडल को गंगा में बहाने की बजाय नीलामी हो
  • अंतरराष्ट्रीय महाकुश्ती संघ के जरिए नीलामी कराई जाए
  • कुरुक्षेत्र में कल फिर खापों की महापंचायत होगी
  • प्रदर्शन को लेकर फैसले के बारे में जानकारी दी जाएगी

अगर न्याय नहीं मिलेगा तो पूरे देश में लड़ेंगे ये लड़ाई

Advertisement

राकेश टिकैत ने आगे कहा कि पुलिस के व्यवहार से वो बच्चे हताश हैं, अगर न्याय नहीं मिलेगा तो ये लड़ाई पूरे देश में लड़ेंगे. कल मैं अयोध्या गया वहां सभी संत महात्मा खिलाड़ियों के साथ में हैं. उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि 5 तारीख को मीटिंग कर रहे हैं करे. हम भी सभाएं करेंगे. हमारे ट्रैक्टर कोई किराए के नहीं हैं. न्याय नहीं मिला तो हम इंटर नेशनल फेडरेशन में भी जाएंगे. किसान नेता ने कहा कि लड़ाई लड़ी जाएगी. वो खिलाड़ी बालक हैं, आंदोलनकारी नहीं. आंदोलन समाज करेगा. ये देश के तिरंगे का अपमान है. इसी मैसेज के साथ देश में जाएंगे.

Advertisement
Advertisement

Related posts

देश को मिलीं 9 और वंदे भारत, PM मोदी बोले- ये ट्रेन क्रेज बनी, एक दिन पूरे भारत को जोड़ेगी

Report Times

जयपुर: हेलमेट नहीं लगाया तो देने होंगे हजार रुपए, नए ट्रेफिक रूल्स लागू

Report Times

महा शिवरात्रि मंदिरों में उमड़ी श्रद्धा : बिल्व पत्र, गाजर, बेर चढ़ाकर जल, दूध से किया अभिषेक

Report Times

Leave a Comment