Report Times
latestOtherकरियरटॉप न्यूज़ताजा खबरेंदेशसेनास्पेशल

2 साल में 5100 करोड़ खर्च, चीन को मात देने के लिए भारत ने ऐसा किया खुद को तैयार

REPORT TIMES 

Advertisement

चीन को मात देने के लिए भारत खुद को तैयार कर रहा है. पिछले दो सालों में बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन (बीआरओ) ने रिकॉर्ड संख्या में 205 बुनियादी ढांचा परियोजनाएं बनाने का काम किया था और इसमें 5100 करोड़ की लागत आई. आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 2941 करोड़ रुपये की लागत से बीआरओ द्वारा निर्मित 90 बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन किया. इन परियोजनाओं का निर्माण दस सीमावर्ती राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों और उत्तरी/उत्तर-पूर्वी राज्यों के सीमावर्ती इलाकों में किया गया है.बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चौधरी ने कहा कि अगले तीन-चार सालों में भारत चीन को मात दे देगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार 3488 किलोमीटर लंबी लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर बुनियादी ढाचा परियोजनाओं का निर्माण तेजी से कर रहा है.

Advertisement

Advertisement

जम्मू-कश्मीर में बिश्नाह-कौलपुर-फूलपुर रोड पर 422.9 मीटर लंबे आरसीसी देवक ब्रिज का रक्षा मंत्री द्वारा उद्घाटन और 89 अन्य परियोजनाओं का ई-उद्घाटन किया गया. रक्षा मंत्री ने लद्दाख में बनने वाले न्योमा एयरफील्ड का ई-शिलान्यास भी किया. बता दें कि पिछले साल 2897 करोड़ रुपये की लागत से 103 बीआरओ बुनियादी ढांचा परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित की गईं. पिछले तीन वर्षों में सड़क और पुल निर्माण में बीआरओ की वृद्धि से कई महत्वपूर्ण और रणनीतिक परियोजनाएं पूरी हुई हैं, जिससे हमारे विरोधियों के मुकाबले हमारी रक्षा तैयारी मजबूत हुई है. विशेष रूप से बीआरओ ने इन महत्वपूर्ण रणनीतिक परियोजनाओं का निर्माण रिकॉर्ड समय सीमा में पूरा किया और इनमें से कई परियोजनाओं का निर्माण अत्याधुनिक तकनीक का उपयोग करके एक ही कार्य सत्र में किया गया है. इन परियोजनाओं में से 26 लद्दाख में, 11 जम्मू-कश्मीर में, 05 मिजोरम में, 03 हिमाचल प्रदेश में, 36 अरुणाचल प्रदेश में,01-01 नागालैंड, राजस्थान, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में और 02-02 सिक्किम, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में बनाई गई है. ये सभी परियोजनाएं रक्षा बलों के लिए रणनीतिक महत्व रखती हैं और इससे सैनिकों, भारी उपकरणों और मशीनीकृत वाहनों को अग्रिम क्षेत्रों में तेजी से भेजने में मदद मिलेगी. इलाके में आर्थिक और सामाजिक विकास में भी गति आएगी.

Advertisement

जानें किन-किन परियोजनाओं को मिलेगी गति

Advertisement

बालीपारा-चारदुआर-तवांग रोड पर 500 मीटर लंबी नेचिफू सुरंग: उद्घाटन किया जाने वाला एक अन्य महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचा अरुणाचल प्रदेश में बालीपारा-चारदुआर-तवांग रोड पर 500 मीटर लंबी नेचिफू सुरंग है., निर्माणाधीन सेला सुरंग के साथ यह सुरंग रणनीतिक तवांग क्षेत्र को हर मौसम में कनेक्टिविटी प्रदान करेगी और क्षेत्र में तैनात सशस्त्र बलों और प्राचीन तवांग आने वाले पर्यटकों दोनों के लिए फायदेमंद होगी.

Advertisement

बागडोगरा और बैरकपुर एयरफील्ड का उद्घाटन: पश्चिम बंगाल में पुनर्निर्मित और पुनर्निर्मित बागडोगरा और बैरकपुर एयरफील्ड का भी आज उद्घाटन किया जा रहा है. 529 करोड़ रुपये की लागत से इन हवाई क्षेत्रों को बीआरओ ने बनाया है. ये हवाई क्षेत्र न केवल उत्तरी सीमाओं पर भारतीय वायुसेना की रक्षात्मक और आक्रामक वास्तुकला में सुधार करेंगे बल्कि क्षेत्र में वाणिज्यिक उड़ान संचालन की सुविधा भी प्रदान करेंगे.

Advertisement

लद्दाख में न्योमा एयरफील्ड का ई-शिलान्यास: रक्षा मंत्री लद्दाख में न्योमा एयरफील्ड का ई-शिलान्यास भी करेंगे. पूर्वी लद्दाख में न्योमा एयरफील्ड को व्यापक रणनीतिक हवाई संपत्तियों के लिए 218 करोड़ रुपये की लागत से विकसित किया जाएगा. इस हवाई क्षेत्र के निर्माण से लद्दाख में हवाई बुनियादी ढांचे को काफी बढ़ावा मिलेगा और हमारी उत्तरी सीमाओं पर भारतीय वायुसेना की क्षमता में वृद्धि होगी.

Advertisement

अरुणाचल प्रदेश में सीमावर्ती गांवों में बढ़ी कनेक्टिविटी: बीआरओ ने अरुणाचल प्रदेश के हुरी गांव जैसे देश के सबसे दूर-दराज के गांवों को भी मुख्य भूमि से जोड़ दिया है. इस कनेक्टिविटी ने हमारे सीमावर्ती गांवों में रिवर्स माइग्रेशन को गति दी है. स्कूली शिक्षा सुविधाओं और प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों, बिजली आपूर्ति और रोजगार के अवसरों जैसी बुनियादी सुविधाओं के शुरू होने से इन क्षेत्रों में जनसंख्या वृद्धि देखी जा रही है.

Advertisement
Advertisement

Related posts

शिवनगरी के शिवालय : यहां करें रुद्र संग रुद्रावतार के दर्शन

Report Times

राजस्थान: सस्ता हो गया LPG गैस सिलेंडर, अब आपको चुकाने होंगे मात्र इतने रुपये

Report Times

2022 में खूब बरसेगा मानसून, इस बार समय से पहले पहुंचने और सामान्य से अधिक वर्षा की संभावना

Report Times

Leave a Comment