Report Times
latestOtherकरियरकार्रवाईक्राइमगिरफ्तारटॉप न्यूज़ताजा खबरेंधर्म-कर्मभरतपुरराजस्थानस्पेशल

मोनू मानेसर पर बड़ा खुलासा, लॉरेंस बिश्नोई गैंग में होना चाहता था शामिल

REPORT TIMES 

Advertisement

राजस्थान के नासिर-जुनैद हत्याकांड के आरोपी मोनू मानेसर के बारे में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. हरियाणा का रहने वाला मोनू मानेसर गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गैंग में शामिल होना चाहता है. पुलिस सूत्रों ने ये बड़ी जानकारी दी है. इस बड़े खुलासे के बीच गुरुवार को मोनू मानेसर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया गया. कोर्ट ने उसे 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. कोर्ट ने मोहित यादव उर्फ मोनू मानेसर को भरतपुर की सेवर जेल भेज दिया है. इंटेलिजेंस के इनपुट थे मोनू पर हमला हो सकता है. इसी वजह से पुलिस ने मोनू को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट में पेश किया. बता दें कि मंगलवार को हरियाणा पुलिस ने 31 जुलाई को हुई नूंह हिंसा मामले में उसे गुरुग्राम के मानेसर से गिरफ्तार किया था. हरियाणा पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद उसे कोर्ट में पेश किया था.

Advertisement

Advertisement

राजस्थान पुलिस ने ली थी कस्टडी

Advertisement

राजस्थान पुलिस ने कोर्ट से नासिर-जुनैद हत्याकांड के मामले में उसकी कस्टडी मांगी थी. कोर्ट के आदेश के बाद हरियाणा पुलिस ने उसे राजस्थान पुलिस को सौंप दिया था. इसके बाद उसे भरतपुर लाया गया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मोनू मानेसर ने राजस्थान पुलिस के सामने खुलासा किया कि उसने 8 दिन पहले ही जुनैद और नासिक की अपहरण और हत्या का प्लान बनाया था. वो उन दोनों को सबक सिखाना चाहता था.

Advertisement

8 महीनों से था फरार

Advertisement

बता दें कि 16 फरवरी 2023 को हरियाणा के भिवानी में बोलेरो गाड़ी में जुनैद और नासिर की जली हुई लाशें मिली थीं. ये दोनों राजस्थान के भरतपुर के रहने वाले थे. इन दोनों के परिवार वालों ने बजरंग दल से जुड़े गोरक्षक मोनू मानेसर और उसके साथियों पर जुनैद और नासिर की हत्या करने का आरोप लगाया था. इस मामले में मोनू मानेसर 8 महीनों से फरार चल रहा था. बताया जा रहा है कि इन दोनों की हत्या के बाद वो बैंकॉक भाग गया था.

Advertisement

नूंह हिंसा में आया मोनू मानेसर का नाम

Advertisement

31 जुलाई को नूंह में हुई हिंसा के बाद मोनू मानेसर ने सोशल मीडिया पर 26 अगस्त को एक पोस्ट लिखा था. इसमें उसने कहा था कि हम परिणाम की चिंता नहीं करते हैं. वार एक ही होगा, पर आखिर होगा. इसे लेकर उसके खिलाफ नूंह के साइबर क्राइम थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी. इस शिकायत की जांच के बाद हरियाणा पुलिस ने मोनू मानेसर के खिलाफ आईपीसी की धारा 153, 15395A, 504, 109 और आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया.

Advertisement
Advertisement

Related posts

विविध संगठनों के प्रतिनिधियों की बैठक : “राइट टू एक्सेस टू एनर्जी” पर चर्चा

Report Times

पं.वासुदेव शर्मा ‘सुखाड़िया’ की द्वितीय पुण्यतिथि पर दी श्रद्धांजलि

Report Times

सिद्धि विनायक शुभ -लाभ मंदिर में हुआ विशेष पूजन श्री गणेश मंगल पाठ से रिझाया प्रथम पूज्य को

Report Times

Leave a Comment